1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. कोरोना वैक्सीन के मामले में भारत का रिकॉर्ड, 12 घंटे में 36 लाख से ज्यादा लोगों को लगा टीका

कोरोना वैक्सीन के मामले में भारत का रिकॉर्ड, 12 घंटे में 36 लाख से ज्यादा लोगों को लगा टीका

देश में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के बीच केंद्र सरकार ने वैक्सीनेशन की रफ्तार तेज कर दी है। कल एक ही दिन में 36,71,242 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई जो कि एक रिकॉर्ड है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: April 02, 2021 10:36 IST
कोरोना वैक्सीन के...- India TV Hindi
Image Source : PTI कोरोना वैक्सीन के मामले में भारत का रिकॉर्ड, 12 घंटे में 36 लाख से ज्यादा लोगों को लगा टीका

नई दिल्ली: देश में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के बीच केंद्र सरकार ने वैक्सीनेशन की रफ्तार तेज कर दी है। कल एक ही दिन में 36,71,242 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई जो कि एक रिकॉर्ड है। देश में 1 अप्रैल तक कुल 6,87,89,138 लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है। यह जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने दी है। बता दें कि कोरोना वायरस के खिलाफ केंद्र सरकार की मुहिम तेज हो गई है। सरकार ने कहा है कि अब हर दिन कोरोना का टीका लगेगा। यहां तक कि अप्रैल में सरकारी छुट्टियों के दिन भी सरकारी और प्राइवेट वैक्सीनेशन सेंटर्स पर कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी।

वहीं, आपको बता दें कि भारत में एक दिन में कोविड-19 के 81,466 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या 1,23,03,131 हो गई। वहीं, 469 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,63,396 हो गई। देश में अभी 6,14,696 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है और 1,15,25,039 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं।

कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण की बृहस्पतिवार को राष्ट्रीय राजधानी में शुरुआत हो गई है। इस चरण में 45 साल से ज्यादा उम्र के 65 लाख लोग शामिल होंगे। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि शाम छह बजे तक, कम से कम 56,531 लाभार्थियों को टीके लगाए गए। हालांकि, रात नौ बजे तक अंतिम आंकड़ा उपलब्ध नहीं हो सका था। अधिकारी ने कहा कि इनमें से 49,471 लोगों को पहली खुराक मिली जबकि 7,060 लोगों को दूसरी खुराक दी गई।

अधिकारी ने बताया कि टीकाकरण के बाद मामूली प्रतिकूल प्रभाव के चार मामले सामने आए। टीकाकरण अभियान ऐसे समय हो रहा है जब बीते कुछ हफ्तों से कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। दिल्ली में 16 जनवरी को शुरू हुए पहले चरण में 3.6 लाख स्वास्थ्य कर्मियों और अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों को टीका लगाया गया था। दूसरे चरण में 60 साल से ज्यादा उम्र वालों और 45-59 साल के अन्य बीमारियों से ग्रस्त लोगों को कोविड-रोधी टीके लगाए गए थे।

सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पूर्व में कहा था, “तीसरे चरण में एक जनवरी 2022 को 45 साल या उससे ज्यादा उम्र के हो रहे लोग टीकाकरण करवा सकेंगे, भले ही उन्हें पहले से कोई दूसरी बीमारी हो या न हो।” सरकारी और निजी केंद्रों में सुबह नौ बजे से रात नौ बजे तक टीकाकरण की सुविधा मिलेगी। एक अधिकारी ने कहा कि सुबह नौ बजे से अपराह्न तीन बजे तक सिर्फ पंजीकृत लोगों को ही टीके लगाए जाएंगे। गैरपंजीकृत लोग अपराह्न तीन बजे से रात नौ बजे के बीच टीके लगवा सकेंगे। उन्होंने कहा कि टीका लगवाने के इच्छुक पात्र लोगों को सिर्फ आधार कार्ड या कोई अन्य वैध पहचान-पत्र साथ रखना होगा। राष्ट्रीय राजधानी में तीसरे चरण में कोविड-19 रोधी टीकाकरण की सुविधा 136 निजी अस्पतालों समेत 192 स्वास्थ्य केंद्रों पर उपलब्ध होगी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X