1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. जंतर मंतर पर बड़ी संख्या में पहुंचे लोग, हाथरस पीड़िता के लिए इंसाफ की मांग की

जंतर मंतर पर बड़ी संख्या में पहुंचे लोग, हाथरस पीड़िता के लिए इंसाफ की मांग की

मध्य दिल्ली के जंतर मंतर पर शुक्रवार को कोविड-19 महामारी के बाद से शायद सबसे बड़ा प्रदर्शन हुआ तथा वहां जुटे सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने हाथरस में कथित सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई युवती के लिए इंसाफ की मांग की।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: October 02, 2020 23:52 IST
Hathras case: Massive protest in Delhi as hundreds gather at Jantar Mantar- India TV Hindi
Image Source : PTI Hathras case: Massive protest in Delhi as hundreds gather at Jantar Mantar

नयी दिल्ली: मध्य दिल्ली के जंतर मंतर पर शुक्रवार को कोविड-19 महामारी के बाद से शायद सबसे बड़ा प्रदर्शन हुआ तथा वहां जुटे सैकड़ों प्रदर्शनकारियों ने हाथरस में कथित सामूहिक बलात्कार की शिकार हुई युवती के लिए इंसाफ की मांग की। आपस में एक दूसरे से दूरी बनाकर रखने और मास्क लगाने के स्वास्थ्य संबंधी नियमों की जमकर अवहेलना होती देखी गयी। कुछ प्रदर्शनकारियों ने मास्क नहीं लगा रखा था। 

पुलिस वहां बड़ी संख्या में जुटे प्रदर्शनकारियों से आपस में दूरी बनाकर रखने और मास्क लगाने का आह्वान करती रही। जंतर मंतर पर काफी संख्या में नागरिक समाज के कार्यकर्ता, छात्र, महिलाएं और राजनीतिक दलों के नेता जुटे। पहले यह प्रदर्शन इंडिया गेट पर होना था लेकिन राजपथ इलाके में निषेधाज्ञा के चलते प्रदर्शन स्थल बदलकर जंतर-मंतर कर दिया गया। 

नेहा द्विवेद्वी नामक एक प्रदर्शनकारी ने कहा, ‘‘वे परिवार को चुप करा रहे हैं लेकिन वे लोगों को चुप नहीं करा पायेंगे। मैं कोविड-19 महामारी से डरी हुई हूं लेकिन हाथरस पीडि़ता के वास्ते इंसाफ के लिए अपनी आवाज उठाना और महत्वपूर्ण है। यही वजह है कि मैं इस बार बाहर निकलने के लिए बाध्य हुई।’’ 

शेफाली वर्मा ने कहा, ‘‘मैं अपनी बेटी की सुरक्षा को लेकर डरी हुई है। मैं जानती हूं कि हम महामारी से लड़ रहे हैं लेकिन यह भी महत्वपूर्ण है कि आज हम बलात्कार नामक दूसरी महामारी के खिलाफ अपनी आवाज उठाने के लिए आये हैं। हम उस बेटी के लिए इंसाफ चाहते हैं जिसे अपनी मौत में भी मर्यादा नहीं मिली।’’ 

लोगों ने अपने हाथों में मोमबत्तियां भी ले रखी थीं। वे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस्तीफे की मांग कर रहे थे। हाथों में ढपली लिये हुए वामपंथी विचारधारा वाले विद्यार्थियों ने उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ नारे लगाये। पुलिस ने कहा था कि जंतर मंतर पर 100 तक प्रदर्शनकारियों के इकट्ठा होने की अनुमति है और उसके लिए सक्षम अधिकारी से पूर्वानुमति आवश्यक है। लेकिन प्रदर्शन स्थल पर 100 से अधिक प्रदर्शनकारी थे।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X