1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कर्नाटक में गठबंधन पर कसा तंज, कहा- विपक्ष देश पर यही मॉडल थोपना चाहता है

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कर्नाटक में गठबंधन पर कसा तंज, कहा- विपक्ष देश पर यही मॉडल थोपना चाहता है

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को कहा कि ईमानदार लोग उन पर विश्वास करते हैं और भ्रष्टाचारियों को उनसे समस्या है क्योंकि उन्होंने सुनिश्चित किया कि गरीबों को मिलने वाला लाभ उन तक सीधा पहुंचे।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 10, 2019 23:37 IST
PM Modi in Karnataka: 'Our govt has continuously worked for poor, middle class in last 4 years'- India TV
PM Modi in Karnataka: 'Our govt has continuously worked for poor, middle class in last 4 years'

हुबली (कर्नाटक): कर्नाटक में जद एस-कांग्रेस गठबंधन सरकार पर करारा प्रहार करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को कहा कि मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी एक ‘‘असहाय’’ सरकार का नेतृत्व कर रहे हैं और ‘‘पंचिंग बैग’’ बन गए हैं। उन्होंने यही मॉडल देश पर थोपने के लिए विपक्ष पर तंज कसा। उत्तर कर्नाटक में एक बड़ी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि एक भी दिन ऐसा नहीं बीता होगा ‘‘जब देश ने सरकार का नाटक नहीं देखा होगा।’’ उन्होंने पिछले कुछ समय से सत्तारूढ़ गठबंधन में चल रहे उठापटक पर प्रहार किया।

मोदी ने कहा, ‘‘हर कोई अपनी सीट बचा रहा है। सत्ता के लिए विधायक होटलों में लड़ रहे हैं और सिर फोड़ रहे हैं। कांग्रेस के कई नेता अपनी प्रभुता के लिए लड़ रहे हैं।’’ मोदी ने कुमारस्वामी का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘यहां के मुख्यमंत्री हर किसी का पंचिंग बैग बन गए हैं। हर दिन उन्हें धमकी मिल रही है। उनकी पूरी ऊर्जा कांग्रेस के बड़े नेताओं से अपनी सीट बचाने में लगी हुई है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘वह सार्वजनिक तौर पर अपनी मजबूरी पर रोते हैं। ऐसी असहाय सरकार, ऐसे असहाय मुख्यमंत्री जिन्हें हर कोई चुनौती दे रहा है। सरकार कौन चला रहा है? इस पर भ्रम बना हुआ है।’’ ‘‘मजबूर बनाम मजबूत’’ सरकार का नारा देते हुए मोदी ने कहा कि ‘‘कर्नाटक के असहाय मॉडल’’ को देश पर थोपने का प्रयास किया जा रहा है और मेरे खिलाफ विपक्षी दल ‘‘महागठबंधन’’ बनाने का प्रयास कर रहे हैं। 

मोदी ने कहा, ‘‘वे इसे देश पर थोपना चाहते हैं। इस तरह का असहाय मॉडल, जहां सरकार का मुखिया एक किनारे रोता है और नामदार के महलों में निर्णय किए जाते हैं...वे भ्रम चाहते हैं और सत्ता की लड़ाई जारी है और दुनिया देश पर हंस रही है। वे इस मॉडल को देश पर थोपना चाहते हैं।’’मोदी ने कहा कि ‘‘नया भारत’’ एक मॉडल चाहता है जो मजबूत हो न कि असहाय। उन्होंने कहा कि ईमानदार लोग उन पर विश्वास करते हैं और भ्रष्टाचारियों को उनसे समस्या है क्योंकि उन्होंने सुनिश्चित किया कि गरीबों को मिलने वाला लाभ उन तक सीधा पहुंचे। मोदी ने कहा कि जिन लोगों ने दलाली का काम किया वे अब भुगत रहे हैं। उन्होंने यहां एक रैली में कहा, ‘‘यह प्रधान सेवक, यह चौकीदार सुनिश्चित करता है कि गरीबों के लाभ सीधे उनके खातों में भेजे जाएं। इसलिए ईमानदार लोग मुझ पर विश्वास करते हैं जबकि भ्रष्ट लोगों को समस्या है।’’

रॉबर्ट वाड्रा और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसा पहले शायद ही कभी हुआ होगा। दोनों ईडी जैसी जांच एजेंसियों के समक्ष पेश हो रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘आप देख रहे हैं कि दिल्ली में क्या हो रहा है--जिनकी आय के बारे में पहले लोग बात करने में डरते थे, वे अब अदालतों और एजेंसियों के समक्ष पेश हो रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ऐसे लोग अपनी घरेलू एवं विदेशी बेनामी संपत्तियों का ब्यौरा दे रहे हैं।’’ प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘चाहे देश के गरीबों के लिए राशन हो, या गरीब किसानों की बात हो या देश की रक्षा से जुड़े सौदे की बात है, जिसने भी कमीशन लिया है, उनका नंबर एक-एक कर आ रहा है।’’ प्रधानमंत्री ने किसानों के लिए सत्तारूढ़ गठबंधन की ऋण माफी योजना की भी आलोचना की।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment