1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर पीएम मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक, ममता और बघेल शामिल नहीं

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर पीएम मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक, ममता और बघेल शामिल नहीं

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ अहम बैठक कर रहे हैं

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: March 17, 2021 13:39 IST
कोरोना के मामलों में...- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV कोरोना के मामलों में फिर से हुई बढ़ोतरी और उससे निपटने की रणनीति तैयार करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर रहे हैं

नई दिल्ली: देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ अहम बैठक कर रहे हैं। इस वर्चुअल मीटिंग में कोरोना के ताजा हालात और वैक्सीनेशन अभियान को लेकर चर्चा हो रही है। हालांकि इस बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शामिल नहीं हुए हैं, उनकी जगह दोनो राज्यों के मुख्य सचिव बैठक में भाग लेने पहुंचे हैं।  

इस मीटिंग में सभी राज्यों के मुख्यमंत्री कोरोना के हालात को लेकर अपनी रिपोर्ट रखेंगे जिसके आधार पर आगे की रणनीति तय होगी। उधर केंद्रीय दल ने अपनी रिपोर्ट में महाराष्ट्र में कोविड-19 की दूसरी लहर की शुरूआत के बारे में आगाह किया है। महाराष्ट्र में बिगड़ते हालात को देखते हुए केंद्र सरकार ने प्रभावित राज्य को संक्रमण के प्रसार की रोकथाम के लिए सख्त रणनीति पर ध्यान केंद्रित करने को कहा है। 

 केंद्र सरकार ने मंगलवार को कहा कि कोविड-19 मामलों में दो फरवरी तक गिरावट दर्ज की जा रही थी। हालांकि, उसके बाद से रोजाना सामने आने वाले नए मामलों की संख्या में वृद्धि देखी जा रही है। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 24,492 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,14,09,831 हो गई है। देश में लगातार छठे दिन 20 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार की सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, देश में 131 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,58,856 हो गई। देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी बढ़ गई है और अभी 2,23,432 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 1.96 प्रतिशत है। आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक 1,10,27,543 लोग संक्रमणमुक्त हो चुके हैं। हालांकि मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर में गिरावट आई है और यह 96.65 प्रतिशत है। वहीं, कोविड-19 से मृत्यु दर 1.39 प्रतिशत है। 

पढ़ें:  शर्मनाक: बेटे ने बुजुर्ग मां को मारा थप्पड़, गिरते ही हो गई मौत, CCTV में कैद घटना


महाराष्ट्र में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 17,864 नए मामले सामने आए जो कि इस साल प्रतिदिन सामने आने वाले मामलों में सबसे ज्यादा हैं। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि इसके साथ ही महामारी से 87 और मरीजों की मौत हो गई। राज्य में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 23,47,328 हो गए हैं और मृतकों की संख्या 52,996 पर पहुंच गई है। अब तक कोविड-19 के 21,54,253 मरीज ठीक हो चुके हैं और अभी 1,38,813 मरीज उपचाराधीन हैं।

पढ़ें: दिल्ली विश्व स्तर पर सबसे प्रदूषित राजधानी, हवा की गुणवत्ता बेहद खराब : रिपोर्ट

वहीं, महाराष्ट्र का दौरा करने के बाद केंद्रीय दल ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि मरीजों का पता लगाने, जांच करने, उन्हें एवं उनके संपर्क में आए व्यक्तियों को पृथक रखने पर बहुत सीमित सक्रिय प्रयास हो रहे हैं तथा ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में लोग कोविड-19 संबंधी सुरक्षा नियमों का पालन भी नहीं कर रहे हैं। इस रिपोर्ट के आधार पर केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने महाराष्ट्र सरकार को पत्र लिखा है और कहा है कि रात्रि कर्फ्यू, सप्ताहांत लॉकडाउन जैसे कदमों का संक्रमण के प्रसार को रोकने पर बहुत सीमित प्रभाव है और ऐसे में राज्य से कड़ी निषिद्ध रणनीतियां अपनाने तथा निगरानी एवं जांच बढ़ाने पर ध्यान देने की अपील की जाती है। 

इनपुट-भाषा

Click Mania
bigg boss 15