Ankita Murder case: SIT ने अंकिता के तीनों हत्यारोपियों को 3 दिन के रिमांड पर लिया, होगी पूछताछ; मामले में हो सकते हैं और भी खुलासे

Ankita Murder case: अब SIT पुलकित आर्य समेत तीनों आरोपियों से कड़ी पूछताछ कर अंकिता हत्याकांड से जुड़े हर पहलू पर सवाल कर सकती है।

Shailendra Tiwari Edited By: Shailendra Tiwari @@Shailendra_jour
Published on: September 30, 2022 14:12 IST
Ankita Bhandari- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO Ankita Bhandari

Highlights

  • SIT दोबारा कराएगी क्राइम सीन रिक्रिएट
  • अब तक पुलिस को नहीं मिला अंकिता का मोबाइल
  • 6 दिनों से SIT कर रही मामले की जांच

Ankita Murder case: अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में तीनों आरोपियों को पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है। उत्तराखंड की कोटद्वार कोर्ट ने पुलकित आर्य समेत तीनों आरोपियों को तीन दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया है। जब इस केस की जांच एसआईटी को सौंपी गई थी। टीम को लीड कर रहीं डीआईजी पी. रेणुका देवी ने भी कहा था कि आरोपियों को पुलिस रिमांड पर लेने के लिए आवेदन किया जाएगा। जिसके बाद कोटद्वार कोर्ट ने पुलकित आर्य समेत तीनों आरोपियों को तीन दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया। अब पुलिस आरोपी पुलकित आर्य समेत तीनों आरोपियों से सख्ती से पूछताछ कर सकेगी। अभी तक पुलकित समेत तीनों आरोपियों से उनकी गिरफ्तारी के समय ही पूछताछ की गई थी।

दोबारा होगा क्राइम सीन रिक्रिएट

अभी तक तीनों आरोपियों ने पुलिस को जो बताया उसी के आधार पर पुलिस जांच रिपोर्ट तैयार कर रही है। SIT अभी तक तीनों आरोपियों से मिली भी नहीं है। अब SIT पुलकित आर्य समेत तीनों आरोपियों से कड़ी पूछताछ कर अंकिता हत्याकांड से जुड़े हर पहलू पर सवाल कर सकती है। साथ ही SIT तीनों आरोपियों को घटनास्थल पर भी ले जाकर दोबारा क्राइम सीन रिक्रिएट करेंगी।

अब तक पुलिस को नहीं मिला अंकिता का मोबाइल

साथ ही आपको ये भी बता दें कि अभी तक पुलिस को अंकिता का मोबाइल भी नहीं मिला है। जाहिर है जब अंकिता को नहर में पुलकित आर्य ने धक्का दिया था। तो उसके मोबाइल के बारे में भी पुलकित समेत तीनों आरोपियों को ही पता होगा। एसआईटी पुलकित आर्य से कड़ाई से पूछताछ कर मोबाइल के बारे में पता लगाएगी। इसके साथ ही पुलकित आर्य का मोबाइल भी इस केस की अहम कड़ी है। एसआईटी पुलकित आर्य का मोबाइल भी ढूंढने की कोशिश करेगी। उधर, दूसरी तरफ गुरुवार को अपने बयान दर्ज कराने के लिए पुष्प भी लक्ष्मण झूला थाने पहुंचा। जहां एसआईटी ने उसको गोपनीय जगह पर ले जाकर बयान दर्ज किए। पुष्प ने अंकिता से दोस्ती होने से लेकर मौत तक की हर बात पुलिस को बताई है।

6 दिनों से SIT कर रही मामले की जांच

अंकिता हत्याकांड में SIT 6 दिनों से जांच कर रही है। कई लोगों से पूछताछ और बयान दर्ज किए जा चुके हैं। इनमें रिजॉर्ट के कर्मचारी, काम छोड़कर जा चुके कर्मचारी, अंकिता का दोस्त पुष्प (फोन पर बातचीत) भी शामिल हैं। अंकिता भंडारी के दोस्त पुष्पदीप से गुरुवार को पूरे दिन एसआईटी ने विस्तार से पूछताछ की और उसके बयान दर्ज किए। पूछताछ में पता चला कि अंकिता भंडारी का दोस्त पुष्पदीप 14-15 सितंबर को वनंत्रा रिजॉर्ट में रुका था। जिसके बाद 16 सितंबर को पुष्पदीप वापस जम्मू लौटा था।

कई घटनास्थलों का किया मुआयना

SIT ने घटना की रात जो हुआ, उसे समझने के लिए कई घटनास्थलों का मुआयना भी किया है। रिजॉर्ट से भी बहुत से साक्ष्य लिए गए हैं। इन्हीं सब कड़ियों को हत्याकांड से जोड़ने के लिए एसआईटी ने पुलकित, अंकित और सौरभ की तीन दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड मांगी थी। उधर अंकिता के मर्डर के दूसरे दिन 19 सितंबर को सुबह आरोपी पुलकित आर्य इलाके के पटवारी वैभव प्रताप से मिला था। ये वही पटवारी वैभव प्रताप है जिसके पास सबसे पहले अंकिता की गुमशुदगी की शिकायत की गई थी। पटवारी वैभव को सस्पेंड किया जा चुका है। 19 सितंबर की सुबह पटवारी से पुलकित की मुलाकात करना भी अब जांच के दायरे में है।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन