1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. BSP MLA रमाबाई परिहार ने किया #CAA का समर्थन, तो मायावती ने किया निलंबित

BSP MLA रमाबाई परिहार ने किया #CAA का समर्थन, तो मायावती ने किया निलंबित

बसपा प्रमुख ने ट्वीट कर कहा कि BSP अनुशासित पार्टी है व इसे तोड़ने पर पार्टी के MP/MLA आदि के विरूद्ध भी तुरन्त कार्रवाई की जाती है।

Anurag Amitabh Anurag Amitabh @@anuragamitabh
Updated on: December 29, 2019 12:55 IST
Mayawati- India TV Hindi
Image Source : FILE BSP प्रमुख मायावती

नई दिल्ली। अकसर अपने विवादित बयानों के चलते सुर्खियों में रहने वाली मध्य प्रदेश की विधायक रमाबाई परिहार एकबार फिर खबरों में हैं। दरअसल इसबार रमाबाई को उनकी पार्टी बसपा ने निलंबित कर दिया है। रमाबाई ने अपनी पार्टी लाइन के विपरीत केंद्र सरकार द्वारा लाए गए #CAA का समर्थन किया था। जिसके बाद आज बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट कर उनके निलंबन की जानकारी दी।

रमाबाई ने दमोह में मीडिया से बातचीत के दौरान कहा था, “मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, प्रहलाद पटेल और अमित शाह को धन्यवाद देती हूं जो उन्होंने यह निर्णय लिया। यह निर्णय तो बहुत पहले हो जाना चाहिए था। पहले कोई सक्षम ही नहीं था निर्णय लेने में, उन्होंने नागरिकता संशोधन विधेयक पास किया मैं और मेरा पूरा परिवार उनका समर्थन करता है।”

रमाबाई के इसी रुख से बसपा प्रमुख नाराज हो गईं, और उन्हें निलंबित कर दिया। बसपा प्रमुख ने ट्वीट कर कहा, “BSP अनुशासित पार्टी है व इसे तोड़ने पर पार्टी के MP/MLA आदि के विरूद्ध भी तुरन्त कार्रवाई की जाती है। इसी क्रम में MP में पथेरिया से BSP MLA रमाबाई परिहार द्वारा CAA का समर्थन करने पर उनको पार्टी से निलम्बित कर दिया है। उनपर पार्टी कार्यक्रम में भाग लेने पर भी रोक लगा दी गई है।”

अगले ट्वीट में मायावती ने कहा कि BSP ने सबसे पहले इसे विभाजनकारी व असंवैधानिक बताकर इसका तीव्र विरोध किया, संसद में भी इसके विरूद्ध वोट दिया तथा इसकी वापसी को भी लेकर मा राष्ट्रपति को ज्ञापन दिया। फिर भी विधायक परिहार ने CAA का समर्थन किया। पहले भी उन्हें कई बार पार्टी लाइन पर चलने की चेतवानी दी गई थी।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X