1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. मिशन शक्ति के तहत बेटियों के लिए योगी सरकार करने जा रही है ये बड़ा काम

मिशन शक्ति के तहत बेटियों के लिए योगी सरकार करने जा रही है ये बड़ा काम

योगी सरकार ने 22 जनवरी को सूबे के सरकारी अस्पतालों (Government Hospitals) में जन्म लेने वाली बेटियों का जन्मदिवस मनाए जाने का फैसला लिया गया है। जिसके तहत योगी सरकार की ओर से मां व बेटी को उपहार (Gifts) भी दिए जाएंगे।

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 08, 2021 7:59 IST
Mission Shakti Beti Bachao Beti Padhao Government Hospitals Yogi Government मिशन शक्ति के तहत बेटियो- India TV Hindi
Image Source : PTI मिशन शक्ति के तहत बेटियों के लिए योगी सरकार करने जा रही है ये बड़ा काम

लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi Adityanath) ने बड़ा फैसला किया है। योगी सरकार ने 22 जनवरी को सूबे के सरकारी अस्पतालों (Government Hospitals) में जन्म लेने वाली बेटियों का जन्मदिवस मनाए जाने का फैसला लिया गया है। जिसके तहत योगी सरकार की ओर से मां व बेटी को उपहार (Gifts) भी दिए जाएंगे। मिशन शक्ति (Mission Shakti के तहत 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' मुहिम (Beti Bachao, Beti Padhao) को बढ़ावा देते हुए यूपी के जनपदों में एक जनवरी से 20 जनवरी तक जन्म लेने वाली बेटियों की संख्या के बराबर वृक्षारोपण (Tree Plantation) का कार्य भी किया जाएगा।

पढ़ें- अनोखी शादी! एक लड़के ने लिए दो लड़कियों के साथ फेरे, दोनों को नहीं है कोई एतराज

पढ़ें- भारत ने फिर की छोटे भाई नेपाल की मदद

सरकार की ओर से मिली जानकारी के अनुसार, वृक्षों के संरक्षण का दायित्व पुरुषों को सौंपा जाएगा। बालिकाओं के निम्न लिंगानुपात वाले ब्लॉकों की सभी ग्राम सभाओं से डिजिटल एनालॉग गुड्डा-गुड्डी बोर्ड की शुरुआत की जाएगी। इसका क्रियान्वन करते हुए समस्त ग्राम पंचायतों में छह माह के अंदर 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' के साथ-साथ ग्राम पंचायत विकास योजनाओं में भी इसे शामिल किया जाएगा।

पढ़ें- स्लाम नहीं कबूला तो तोड़ दूंगी शादी, हिंदू लड़के के साथ विवाह करके घर लौटी मुस्लिम महिला का बयान
पढ़ें- ₹5500 का चालान कटने पर ही करेंगे HSRP के लिए अप्लाई? आधे लोगों ने भी नही किया आवेदन, जानिए तरीका

राज्य में बेटियों के मनोबल को बढ़ाने के लिए अभियान के जरिए पाठशला कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। जिसके तहत उन बालिकाओं और महिलाओं की काउंसलिंग की जाएगी जो विभिन्न प्रशासनिक सेवाओं जैसे पुलिस, फौज, एयरफोर्स समेत मेडिकल, इंजीनियरिंग व उद्योग जगत में आगे बढ़ने का सपना देख रही हैं। (IANS)

पढ़ें- पीएम नरेंद्र मोदी के बारे में प्रणब मुखर्जी क्या सोचते थे? अपनी किताब में किया है खुलासा
पढ़ें- भारतीय रेलवे ने किया नई स्पेशल ट्रेनों का ऐलान, यहां है पूरी जानकारी