1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. अमिताभ कांत बने रहेंगे नीति आयोग के CEO, सरकार ने दिया दो साल का सेवा विस्‍तार

अमिताभ कांत बने रहेंगे नीति आयोग के CEO, सरकार ने दिया दो साल का सेवा विस्‍तार

कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने कांत के सेवा विस्तार को अपनी मंजूरी प्रदान की है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: June 26, 2019 16:40 IST
Amitabh Kant gets two-year extension as Niti Aayog CEO- India TV Paisa
Photo:AMITABH KANT

Amitabh Kant gets two-year extension as Niti Aayog CEO

नई दिल्‍ली। सरकारी थिंक टैंक नीति आयोग के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अमिताभ कांत अपने पद पर अब दो साल और बने रहेंगे। एक आधिकारिक आदेश में कहा गया है कि अमिताभ कांत को नीति आयोग के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी के रूप में दो साल का सेवा विस्‍तार दिया गया है।  

कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने कांत के सेवा विस्‍तार को अपनी मंजूरी प्रदान की है। कांत 30 जून 2019 को सेवानिवृत्‍त होने वाले थे, लेकिन अब वे अपने पद पर 30 जून, 2021 तक बने रहेंगे। कार्मिक मंत्रालय ने अपने आदेश में कहा है कि पुराने नियम व शर्तों के तहत कांत को दो साल का सेवा विस्‍तार दिया गया है।  

स्वास्थ पर अपने जीडीपी का कम से कम 8% तक खर्च करें राज्य

नीति आयोग के सदस्य वी के पॉल ने स्वास्थ्य के मोर्चे पर राज्यों को स्थिति बेहतर करने के उस पर बजट का आबंटन बढ़ाने को कहा। यहां स्वास्थ्य के मोर्चे पर राज्यों की स्थिति पर ‘स्वस्थ्य राज्य , प्रगतिशील भारत’ शीर्षक से रिपोर्ट जारी किए जाने के मौके पर पॉल ने कहा कि स्वास्थ्य क्षेत्र में अभी काफी काम करने की जरूरत है, इसमें सुधार के लिये स्थिर प्रशासन, महत्वपूर्ण पदों को भरा जाना तथा स्वास्थ्य बजट बढ़ाने की जरूरत है।  

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को सकल घरेलू उत्पाद का 2.5 प्रतिशत स्वास्थ्य पर खर्च करना चाहिए। राज्यों को स्वास्थ्य पर खर्च औसतन अपने राज्य जीडीपी के 4.7 प्रतिशत से बढ़ाकर 8 प्रतिशत (शुद्ध राज्य घरेलू उत्पाद का) करना चाहिए।  

Write a comment