1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, 1 जून से सीएपीएफ कैंटीन में बिकेगा सिर्फ स्‍वदेशी सामान

गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, 1 जून से सीएपीएफ कैंटीन में बिकेगा सिर्फ स्‍वदेशी सामान

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को एक ट्वीट कर कहा कि मैं देश की जनता से भी अपील करता हूं कि आप देश में बने उत्पादों को अधिक से अधिक उपयोग में लाएं

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: May 13, 2020 14:47 IST
Home Ministry decided only indigenous products will be sold at all CAPF canteens from 1st June- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

Home Ministry decided only indigenous products will be sold at all CAPF canteens from 1st June

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मंगलवार को लोकल उत्‍पादों को अधिक से अधिक खरीदने और उनका प्रचार करने की अपील के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बुधवार को इस दिशा में एक बड़ा फैसला लिया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को कहा कि गृह मंत्रालय ने यह फैसला किया है कि 1 जून, 2020 से सभी केंद्रीय सशस्‍त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) कैंटीन में सिर्फ स्‍वदेशी उत्‍पादों की बिक्री की जाएगी।

गृह मंत्रालय के मुताबिक, करीब दस लाख सीएपीएफ के जवानों के परिवार के 50 लाख सदस्य स्वदेश निर्मित उत्पादों का इस्तेमाल करेंगे। सीएपीएफ में सीआरपीएफ, बीएसएफ, सीआईएसएफ, आईटीबीपी, एसएसबी, एनएसजी और असम रायफल्स आते हैं और इनकी कैंटीनों में सालाना 2,800 करोड़ रुपए मूल्य के उत्पादों की बिक्री होती है।

शाह ने देश को आत्मनिर्भर बनाने और भारत में बने उत्पाद उपयोग करने की प्रधानमंत्री की मंगलवार को जनता से की गई अपील का जिक्र करते हुए कहा कि इससे यकीनन आने वाले वक्त में भारत के विश्व में अग्रणी होने का मार्ग प्रशस्त होगा।

ल्‍लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश को संबोधित करते हुए कोरोना वायरस महामारी के इस दौर में भारत को आत्‍मनिर्भर बनाने और अधिक से अधिक स्‍थानीय उत्‍पादों को प्रोत्‍साहन देने की देशवासियों से अपील की थी।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को एक ट्वीट कर कहा कि मैं देश की जनता से भी अपील करता हूं कि आप देश में बने उत्पादों को अधिक से अधिक उपयोग में लाएं व अन्य लोगों को भी इसके प्रति प्रोत्साहित करें। हर भारतीय अगर भारत में बने उत्पादों (स्वदेशी) का उपयोग करने का संकल्प ले तो पांच वर्षों में देश का लोकतंत्र आत्मनिर्भर बन सकता है।

Write a comment
X