1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. तीसरी तिमाही के दौरान अर्थव्‍यवस्‍था में आया मामूली सुधार, अक्‍टूबर-दिसंबर में GDP वृद्धि दर रही 4.7%

तीसरी तिमाही के दौरान अर्थव्‍यवस्‍था में आया मामूली सुधार, अक्‍टूबर-दिसंबर में GDP वृद्धि दर रही 4.7%

जीडीपी के साथ कोर सेक्टर में भी ग्रोथ देखने को मिली है

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: February 28, 2020 18:37 IST
GDP Growth- India TV Paisa

GDP Growth

नई दिल्ली। देश की घरेलू अर्थव्यवस्था में अब धीरे धीरे सुधार देखने को मिल रहा है। दिसंबर में खत्म हुई तिमाही में जीडीपी ग्रोथ सितंबर तिमाही के मुकाबले सुधर कर 4.7 फीसदी के स्तर पर आ गई है। सितंबर तिमाही में 4.5 फीसदी की ग्रोथ दर्ज हुई थी। आज आए कोर सेक्टर में भी लगातार दूसरे महीने बढ़त देखने को मिली है। पिछले साल की इसी तिमाही में जीडीपी ग्रोथ 5.6 फीसदी थी। वित्त मंत्रालय में आर्थिक मामलों के सचिव अतनु चक्रवती ने जीडीपी आंकड़े पर कहा कि भारत की आर्थिक वृद्धि दर में गिरावट का दौर अब समाप्त हो गया है।

दूसरे क्वार्टर में देश की आर्थिक ग्रोथ 6 साल के निचले स्तरों पर पहुंच गई थी। हालांकि अब इसमें सुधार दिखने लगा है। सीएसओ द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक वित्त वर्ष 2020 के लिए ग्रोथ का दूसरा अनुमान 5 फीसदी पर ही रखा गया है। वहीं 2019-20 के लिए प्रति व्यक्ति आय में 6.3 फीसदी के बढ़त का अनुमान है। 

वित्त वर्ष के पहले नौ महीनों (अप्रैल-दिसंबर) में जीडीपी ग्रोथ 5.1 प्रतिशत रही जबकि एक साल पहले इसी अवधि में यह 6.3 प्रतिशत थी। एनएसओ ने 2019-20 की पहली तिमाही के लिये जीडीपी वृद्धि दर को संशोधित कर 5.6 प्रतिशत तथा दूसरी तिमाही के लिये 5.1 प्रतिशत कर दिया है। 

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय यानि एसएसओ ने पिछले महीने अपने दूसरे अग्रिम अनुमान में 2019-20 में आर्थिक वृद्धि दर 5 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया था। वहीं रिजर्व बैंक ने भी चालू वित्त वर्ष में जीडीपी वृद्धि दर 5 प्रतिशत रहने की संभावना जतायी है। चीन की आर्थिक वृद्धि दर अक्टूबर-दिसंबर 2019 में 6 प्रतिशत रही जो 27 साल से अधिक समय का न्यूनतम स्तर है। वहीं कैलेंडर वर्ष 2019 में चीन की वृद्धि दर 6.1 प्रतिशत रही जो तीन दशक में सबसे कम है।

Write a comment
X