1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Trade War: अमेरिका चीन के साथ व्यापार करार पर आगे बातचीत को तैयार, निर्मला सीतारमण ने जापान में कही ये बात

Trade War: अमेरिका चीन के साथ व्यापार करार पर आगे बातचीत को तैयार, निर्मला सीतारमण ने जापान में कही ये बात

अमेरिका व्यापार विवाद में चीन के साथ आगे और बातचीत के लिए तैयार है, लेकिन किसी भी तरह के संभावित करार के लिए दोनों देशों के शीर्ष नेताओं को इस माह के अंत में होने वाली बैठक तक इंतजार करना होगा।

Bhasha Edited by: Bhasha
Updated on: June 08, 2019 15:10 IST
us ready for trade agreement talks with china- India TV Hindi

us ready for trade agreement talks with china

फुकुओका। अमेरिका व्यापार विवाद में चीन के साथ आगे और बातचीत के लिए तैयार है, लेकिन किसी भी तरह के संभावित करार के लिए दोनों देशों के शीर्ष नेताओं को इस माह के अंत में होने वाली बैठक तक इंतजार करना होगा। अमेरिका के वित्त मंत्री स्टीवन म्नूशिन ने शनिवार को यह बात कही। जी-20 के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के प्रमुखों की बैठक के मौके पर संवाददाताओं से अलग से बातचीत में अमेरिका के वित्त मंत्री स्टीवन म्नूशिन चेताते हुए कहा कि यदि इस बारे में समझौता नहीं होता है तो अमेरिका शुल्कों को आगे बढ़ाएगा। 

म्नूशिन ने कहा कि हम एक ऐतिहासिक करार की ओर हैं। यदि वे बातचीत की मेज पर आते हैं और इस करार को उन शर्तों पर पूरा करना चाहते हैं जिनपर हम बातचीत कर रहे हैं तो यह अच्छी बात होगी। यदि ऐसा नहीं होता है, तो जैसा राष्ट्रपति ने कहा है कि हम शुल्कों पर आगे बढ़ेंगे। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ ओसाका में जी-20 शिखर बैठक में 28-29 जून को बैठक हो सकती है। म्नूशिन ने संकेत दिया है कि इस करार पर कुछ सहमति इसी बैठक में बनने की संभावना है। 

जी-20 में सीतारमण ने रखी कर अपवंचना से निपटने के भारत के प्रयासों की जानकारी

नई दिल्ली-फुकुओका। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को यहां भारत सरकार के कर से बचने और अपवंचना से निपटने के लिए किए जा रहे प्रयासों का उल्लेख किया। वह जापान के फुकुओका में जी-20 के वित्त मंत्रियों की बैठक के दौरान अंतरराष्ट्रीय कराधान पर संगोष्ठी को संबोधित कर रही थीं। वित्त मंत्रालय ने ट्वीट किया, 'सीतारमण ने कर बचाव और कर अपवंचना से निपटने के लिए भारत सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों के बारे में बताया।'

जी-20 के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के गवर्नरों की दो दिन की बैठक शनिवार को यहां शुरू हुई। इस बैठक में वैश्विक अर्थव्यवस्था, बुनियादी ढांचा क्षेत्र में निवेश और अंतरराष्ट्रीय कराधान के समक्ष आ रहे जोखिमों और चुनौतियों पर चर्चा होगी। वित्त मंत्रियों की बैठक के बाद ओसाका में 28-29 जून को जी-20 के नेताओं की शिखर बैठक आयोजित की जाएगी। जी-20 बैठक के मौके पर सीतारमण ने ब्रिटेन के वित्त मंत्री फिलिप हैमंड के साथ भी अलग से बैठक की। 

 

Latest Business News