1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Yes Bank उपभोक्‍ताओं के लिए आई खुशखबरी 18 मार्च से खत्‍म होंगे प्रतिबंध, 19 मार्च से सभी सेवाएं होंगी बहाल

Yes Bank उपभोक्‍ताओं के लिए आई खुशखबरी 18 मार्च से खत्‍म होंगे प्रतिबंध, 19 मार्च से सभी सेवाएं होंगी बहाल

Yes Bank ने कहा है कि 19 मार्च, 2020 से उपभोक्ता हमारी 1132 शाखाओं में विजिट कर सकते हैं और हमारी सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: March 16, 2020 13:31 IST
Yes Bank resume full banking services from March 19, 2020- India TV Paisa

Yes Bank resume full banking services from March 19, 2020

नई दिल्‍ली। येस बैंक के उपभोक्‍ताओं के लिए खुशखबरी आई है। येस बैंक ने सोमवार को ट्विट कर जानकारी दी है कि बुधवार, 18 मार्च, 2020 को शाम छह बजे से फुल बैंकिंग सर्विस को फ‍िर से शुरू किया जाएगा। बैंक ने कहा है कि 19 मार्च, 2020 से उपभोक्‍ता हमारी 1132 शाखाओं में विज‍िट कर सकते हैं और हमारी सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। बैंक ने कहा है कि उपभोक्‍ता हमारी सभी डिजिटल सेवाओं और प्‍लेटफॉर्म का भी पूरा फायदा उठा पाएंगे।

येस बैंक ने की शानदार वापसी, 58 प्रतिशत से अधिक चढ़े शेयर

पुनर्गठन योजना को सरकार की मंजूरी मिलने के बाद सोमवार को संकटग्रस्त येस बैंक के शेयर में 58 प्रतिशत से अधिक की जबरदस्त उछाल देखी गई। बीएसई में येस बैंक के शेयर ने शानदार वापसी करते हुए 58.12 प्रतिशत की छलांग लगाई। एनएसई में भी इसका शेयर 58.12 प्रतिशत उछलकर 40.40 रुपए पर रहा। बीएसई में इसके 112.78 लाख शेयरों तथा एनएसई में 9.55 करोड़ शेयरों का कारोबार हुआ।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले सप्ताह कहा था कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने येस बैंक के पुनर्गठन की योजना को मंजूरी दे दी है। रिजर्व बैंक ने पांच मार्च को येस बैंक का नियंत्रण अपने हाथों में ले लिया था। इसके बाद येस बैंक के खाताधारकों के लिए अधिकतम पचास हजार रुपए की निकासी समेत कुछ बैंकिंग सेवाओं पर रोक लगा दी गई थी। ये रोक 18 मार्च से समाप्त होने वाली है।

निफ्टी सूचकांकों से 19 मार्च को ही बाहर हो जाएगा येस बैंक

येस बैंक को निफ्टी 50, निफ्टी बैंक तथा अन्य निफ्टी सूचकांकों से 19 मार्च को हटा दिया जाएगा। एनएसई इंडिसेज ने सोमवार को इसकी जानकारी दी। एनएसई की अनुषंगी एनएसई इंडिसेज ने एक बयान में कहा कि पहले यह बदलाव 27 मार्च को किया जाने वाला था। हालांकि येस बैंक तथा इसके पुनर्गठन को लेकर हाल में हुए बदलावों को देखते हुए इसे तय समय से पहले ही 19 मार्च को ही बाहर करने का निर्णय निया गया है।

यह निर्णय एनएसई इंडिसेज की सूचकांक रखरखाव उपसमिति ने लिया है। एनएसई इंडिसेज ने बयान में कहा कि येस बैंक की जगह निफ्टी 50 में श्री सीमेंट तथा निफ्टी बैंक में बंध बैंक लेंगी। येस बैंक को निफ्टी 100 और निफ्टी 500 से भी बाहर किया जाएगा। निफ्टी 100 में इसकी जगह अडाणी ट्रांसमिशन और निफ्टी 500 में स्टर्लिंग एंड विल्सन सोलर लेंगी। 

Write a comment
X