1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. स्टार्टप कंपनी शेयर बाजार के लिए बड़ी चुनौती, जानिए, सेबी चेयरमैन ने क्यों कही ये बात

स्टार्टप कंपनी शेयर बाजार के लिए बड़ी चुनौती, जानिए, सेबी चेयरमैन ने क्यों कही ये बात

तकनीकी कंपनियों ने अब तक आईपीओ के जरिये लगभग 43,283 करोड़ रुपये जुटाए हैं। त्यागी ने कहा, इन कंपनियों का उचित मूल्यांकन इन दिनों हितधारकों के बीच गहन बहस का विषय है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: February 24, 2022 17:35 IST
ajay tyagi- India TV Paisa
Photo:FILE

ajay tyagi

Highlights

  • नए जमाने की प्रौद्योगिकी कंपनियां तेजी सेबाजार तक पहुंच बना रही हैं
  • इन कंपनियों का मूल्यांकन हितधारकों के बीच गहन बहस का विषय है
  • इन कंपनियों ने आईपीओ के जरिये लगभग 43,283 करोड़ रुपये जुटाए हैं

नई दिल्ली। भारतीय पूंजी बाजार नियाकम सेबी के चेयरमैन अजय त्यागी ने गुरुवार को कहा कि नए जमाने की प्रौद्योगिकी कंपनियां (स्टार्टप) तेजी से बढ़ रही हैं और बाजार तक पहुंच बना रही हैं, जो पूंजी बाजार के लिए एक प्रमुख चुनौती है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा एकसमान ईएसजी (पर्यावरण, सामाजिक, प्रशासन) मूल्यांकन ढांचा न होने के चलते ईएसजी निवेश का बढ़ता परिदृश्य भी पूंजी बाजार के लिए एक बड़ी चुनौती है। 

बाजार नियामक प्रस्तावित सामाजिक शेयर बाजार के लिए विस्तृत दिशानिर्देशों को अधिसूचित करने की प्रक्रिया में है, जो सामाजिक उद्यमों और स्वैच्छिक संगठनों को सूचीबद्ध करने के लिए एक मंच मुहैया कराएगा, ताकि वे पूंजी जुटा सकें। त्यागी ने ये बात सेबी-एनआईएसएम अनुसंधान सम्मेलन में कही। चालू वित्त वर्ष में नए जमाने की तकनीकी कंपनियों ने अब तक आईपीओ के जरिये लगभग 43,283 करोड़ रुपये जुटाए हैं। त्यागी ने कहा, इन कंपनियों का उचित मूल्यांकन इन दिनों हितधारकों के बीच गहन बहस का विषय है।

उन्होंने कहा कि पूंजी बाजार तक पहुंचने के समय आमतौर पर ये कंपनियां घाटे में चल रही होती हैं, क्योंकि वे शुरुआती दौर में मुनाफे की जगह वृद्धि को अधिक तरजीह देती हैं। सेबी प्रमुख ने कहा, अतिरिक्त मानकों का खुलासा करने से निवेशकों को एनएटीसी में निवेश के फैसले लेने में मदद मिलेगी।

Write a comment
erussia-ukraine-news