1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. गैजेट
  5. Apple Revenue: महंगाई भी न लगा सकी iPhone की बिक्री पर ब्रेक, मंदी के बावजूद जून तिमाही में डबल हुई कमाई

Apple Revenue: महंगाई भी न लगा सकी iPhone की बिक्री पर ब्रेक, मंदी के बावजूद जून तिमाही में डबल हुई कमाई

Apple Revenue: Tim Cook ने कहा, ‘‘विकसित और उभरते बाजारों में जून तिमाही के अच्छे नतीजे रहे हैं जिनमें Brazil, Indonesia और Vietnam में दहाई अंकों की मजबूत वृद्धि दर्ज की और Indian में Revenue लगभग Double हो गया है।

Indiatv Paisa Desk Written By: Indiatv Paisa Desk
Published on: July 29, 2022 14:17 IST
Apple- India TV Hindi News
Photo:AP Apple

Highlights

  • एप्पल की भारत से होने वाली कमाई दोगुनी हो गई है
  • कंपनी के आईफोन की बिक्री में भी जबर्दस्त उछाल
  • जून 2022 तिमाही में उसका राजस्व 83 अरब डॉलर रहा

Apple Revenue: अगर आप भी महंगाई जैसी छिसी पिटी बातों में अपना समय बरबाद कर रहे हैं तो ये खबर जरूर पढ़ लीजिए। महंगाई को जोरदार तमाचा जड़ते हुई दुनिया की मशहूर टेक्नोलॉजी कंपनी एप्पल की भारत से होने वाली कमाई दोगुनी हो गई है। यह आंकड़ा 2022 की जून तिमाही का है। इस दौरान कंपनी के आईफोन की बिक्री में भी जबर्दस्त उछाल देखने को मिला है। 

उम्मीद से बेहतर नतीजे 

कंपनी के अनुसार जून 2022 में खत्म तिमाही में उसका राजस्व 83 अरब डॉलर रहा है। जो सालाना आधार पर दो फीसदी अधिक है। अप्रैल.जून की अवधि में आईफोन का राजस्व 39.5 बिलियन डॉलर से बढ़कर 40.7 बिलियन डॉलर हो गया है। पिछले साल की समान अवधि से 3 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। कंपनी के सीईओ टिम कुक ने कहा कि यह राजस्व उनकी उम्मीदों से अधिक है क्योंकि आपूर्ति श्रृंखला में अवरोध तथा रूस में कारोबार पर प्रभाव जैसी कई चुनौतियां थीं। 

भारत जैसे उभरते बाजारों में कंपनी मालामाल 

टिम कुक ने कहा, ‘‘अमेरिका, यूरोप और बाकी के एशिया प्रशांत क्षेत्र में जून तिमाही के शानदार नतीजे आए हैं। विकसित और उभरते बाजारों में जून तिमाही के अच्छे नतीजे रहे हैं जिनमें ब्राजील, इंडोनेशिया और वियतनाम में दहाई अंकों की मजबूत वृद्धि दर्ज की और भारत में राजस्व लगभग दोगुना हो गया है।’’

विप्रो बनी एप्पल की साथी 

एप्पल के मुख्य वित्तीय अधिकारी और वरिष्ठ उपाध्यक्ष लुका माइस्ट्री ने कहा कि उद्यम बाजार में एप्पल के उपभोक्ता कंपनी के उत्पादों में लगातार निवेश बढ़ा रहे हैं, यह प्रतिभाओं को आकर्षित करने और अपने साथ बनाए रखने की उनकी रणनीति है। उन्होंने भारत की बहुराष्ट्रीय कंपनी विप्रो का उदाहरण दिया और उसे एक और बड़ा वैश्विक उद्यम उपभोक्ता बताया। उन्होंने कहा कि विप्रो ‘‘एम1 के साथ मैकबुक एयर’’ में निवेश कर रही है। 

Latest Business News

Write a comment
navratri-2022