1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. आईपीएल 2022
  5. IPL 2022: सीजन-15 में टीम के खराब प्रदर्शन से निराश हैं सीएसके के कोच स्टिफन फ्लेमिंग

IPL 2022: सीजन-15 में टीम के खराब प्रदर्शन से निराश हैं सीएसके के कोच स्टिफन फ्लेमिंग

आईपीएल की सबसे सफल टीमों में से एक चार बार की चैम्पियन सीएसके का अभियान नौंवे स्थान पर समाप्त हुआ जिसमें टीम 14 मैचों में महज चार जीत ही दर्ज कर सकी। 

India TV Sports Desk Edited by: India TV Sports Desk
Published on: May 21, 2022 12:40 IST
chennai super kings,stephen fleming,ipl 2022,rr vs csk,csk ipl 2022 playoffs,csk ms dhoni- India TV Hindi
Image Source : IPLT20.COM/BCCI कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के साथ सीएसके के कोच स्टिफन फ्लेमिंग

चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग को लगता है कि उनकी टीम इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के इस सत्र में करीबी मैचों में जीत दर्ज करने के लिये अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकी। आईपीएल की सबसे सफल टीमों में से एक चार बार की चैम्पियन सीएसके का अभियान नौंवे स्थान पर समाप्त हुआ जिसमें टीम 14 मैचों में महज चार जीत ही दर्ज कर सकी। 

फ्लेमिंग ने शुक्रवार को राजस्थान रॉयल्स से सीएसके को मिली पांच विकेट की हार के बाद कहा, ‘‘हमारे कई मैच ऐसे रहे जो करीबी थे लेकिन हम उनमें जीत दर्ज करने के लिये अच्छा नहीं कर सके। ’’ 

यह भी पढ़ें- IPL 2022: कप्तान संजू सैमसन ने इस खिलाड़ी को बताया सीएसके के खिलाफ मिली जीत का हीरो

उन्होंने कहा, ‘‘इस सत्र में ऐसा ही रहा जिससे हम क्वालीफाई नहीं कर सके। ’’ उन्होंने साथ ही कहा कि टीम पिछले सत्र की तरह नहीं खेल सकी जिसमें कई नये खिलाड़ी भी थे। 

फ्लेमिंग ने कहा, ‘‘जब आप नये चक्र की शुरूआत करते हो तो आपके पास कई नये खिलाड़ी होते हैं और यह परीक्षा लेने वाला हो सकता है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम पिछले चार वर्षों के प्रदर्शन को जारी नहीं रख सके जो सचमुच चुनौती थी। ’’ फ्लेमिंग को हालांकि लगता है कि इस सत्र का प्रदर्शन लीग के अगले चरण के लिये खिलाड़ियों के लिये उत्प्रेरक की तरह काम करेगा। 

यह भी पढ़ें- IPL 2022: आखिरी लीग मैच में मिली हार के बाद सीएसके के कप्तान धोनी ने बताया कहां हुई टीम से चूक

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास फॉर्म में चल रहे कुछ खिलाड़ी नहीं थे जो हमें जीत दिला सकें और लय बनाये रखें। हमारे पास बेहतर करने का मौका था लेकिन सच्चाई यही है कि हम सेमीफाइनल के लिये क्वालीफाई नहीं कर सके और यह अगले साल के लिये उत्प्रेरक का काम करेगा। ’’