1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. जब तक सरकार इजाजत नहीं देती, महिलाएं नकाब न डालें : श्रीलंका के मुस्लिम उलेमा

जब तक सरकार चेहरा ढकने की इजाजत नहीं देती, महिलाएं नकाब न डालें : श्रीलंका के मुस्लिम उलेमा

श्रीलंका के उलेमा (मुस्लिम धर्मगुरुओं) ने मंगलवार को मुस्लिम महिलाओं से कहा कि जब तक सरकार चेहरा ढकने की फिर से इजाज़त नहीं दे देती तब तक वे चेहरा ढकने वाले नकाब न डालें।

Bhasha Bhasha
Published on: August 27, 2019 16:20 IST
प्रतीकात्मक तस्वीर- India TV Hindi
प्रतीकात्मक तस्वीर

कोलंबो: श्रीलंका के उलेमा (मुस्लिम धर्मगुरुओं) ने मंगलवार को मुस्लिम महिलाओं से कहा कि जब तक सरकार चेहरा ढकने की फिर से इजाज़त नहीं दे देती तब तक वे चेहरा ढकने वाले नकाब न डालें। दरअसल, देश में ईस्टर के मौके पर हुए सिलसिलेवार बम धमाकों के बाद आपातकाल नियमों के तहत हर तरह के पर्दे पर रोक लगा दी थी। श्रीलंका के सबसे बड़े मुस्लिम संगठन ऑल सिलॉन जमीयत-उल-उलेमा के प्रवक्ता फाज़िल फारूक ने कहा कि उलेमा को डर है कि मुस्लिम समुदाय को दोबारा हिंसा का निशाना बनाया जा रहा है। 

अप्रैल में ईस्टर रविवार को हमले के बाद भी समुदाय को निशाना बनाया गया था। इस हमले में 260 से ज्यादा लोगों की जान गई थी। इस हमले के लिए दो स्थानीय मुस्लिम समूहों को कसूरवार ठहराया गया है। फारूक ने मुस्लिम महिलाओं से चेहरे पर नकाब डालने के लिए जल्दबाज़ी नहीं करने को कहा। प्रवक्ता ने कहा कि उन्होंने पहले भी यह नहीं किया था और हम उनसे फिर कह रहे हैं कि वे नकाब न डालें। उन्होंने कहा कि कुछ महिलाएं बिना नकाब के घरों से ही नहीं निकल रही हैं, क्योंकि उन्हें चेहरा ढकने की आदत है।

ईस्टर के मौके पर तीन होटलों और तीन गिरजाघरों में सिलसिलेवार बम विस्फोट हुए थे। इसके बाद श्रीलंका सरकार ने आपातकालीन नियम लागू कर दिए थे। राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना ने आपातकालीन कानून का इस्तेमाल करके चेहरा ढकने पर रोक लगा दी थी। आपातकालीन नियमों को हर महीने बढ़ा दिया जाता था लेकिन सिरिसेना ने पिछले हफ्ते इस कानून की मियाद खत्म होने दी। राष्ट्रपति ने एक अलग आदेश जारी करके सेना को शांति बनाए रखने की इजाजत दे दी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X