जानें क्या है "चंद्र नववर्ष" और दुनिया में कहां मनाया जाता है?

Lunar New Year Celebrated in China: क्या आपने कभी चंद्र नववर्ष के बारे में सुना है, यह किस देश में, कब और क्यों मनाया जाता है। अगर आप नहीं जानते तो आइए आपको हम बताते हैं कि चंद्र नववर्ष कहां और कब मनाया जाता है? दरअसल चंद्र नववर्ष चीन में मनाया जाने वाला प्रमुख त्योहार है,जिसे कोविड के चलते कई वर्षों से रोक दिया गया।

Dharmendra Kumar Mishra Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: January 22, 2023 14:47 IST
प्रतीकात्मक फोटो- India TV Hindi
Image Source : AP प्रतीकात्मक फोटो

Lunar New Year Celebrated in China: क्या आपने कभी चंद्र नववर्ष के बारे में सुना है, यह किस देश में, कब और क्यों मनाया जाता है। अगर आप नहीं जानते तो आइए आपको हम बताते हैं कि चंद्र नववर्ष कहां और कब मनाया जाता है? दरअसल चंद्र नववर्ष चीन में मनाया जाने वाला प्रमुख त्योहार है, जिसे कोविड के चलते कई वर्षों से रोक दिया गया था। मगर अब चीन सरकार द्वारा सख्त ‘शून्य कोविड नीति’ हटाए जाने के बाद रविवार को पूरे चीन में लोगों ने चंद्र नववर्ष धूमधाम से मनाया।

चंद्र नववर्ष के दौरान मंदिरों में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी। गौरतलब है कि चंद्र नववर्ष को चीन में महत्वपूर्ण वार्षिक अवकाश के रूप में मनाया जाता है। चीन में मनाए जाने वाले इस नववर्ष में प्रत्येक वर्ष का नाम चीनी राशियों के बारह प्रतीकों के नाम पर रखा जाता है। कोरोना महामारी के कारण पिछले तीन वर्षों से प्रभावित इस उत्सव को इस वर्ष खरगोश के वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। चीन के अधिकांश इलाकों में कोरोना संबंधी प्रतिबंधों में ढील के बाद बहुत से लोग लॉकडाउन और यात्रा निलंबन की चिंता किए बिना अपने परिवारों से दोबारा मिलने के लिए अपने-अपने गृहनगर पहुंचे हैं। पिछले साल की तुलना में इस साल राजधानी बीजिंग में बड़े पैमाने हजारों-सांस्कृतिक कार्यक्रम हो रहे हैं। इस उत्सव के चीन में सार्वजनिक रूप से मनाए जाने वाले वसंत उत्सव की भी वापसी हुई है। चीन के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के मुख्य महामारी विशेषज्ञ वू जुनयू ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि लोगों की बड़ी संख्या में आवाजाही से कुछ क्षेत्रों में वायरस फैल सकता है। उन्होंने शनिवार को चीनी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म वीबो पर लिखा, ''लेकिन अगले दो या तीन महीनों में बड़े पैमाने पर कोरोना वायरस के मामलों में उछाल की वृद्धि की संभावना नहीं है क्योंकि हाल की लहर के दौरान देश के 1.4 अरब लोगों में से लगभग 80 प्रतिशत लोग संक्रमित हो चुके हैं।

मंदिरों में उमड़ती है भारी भीड़

चंद्र नववर्ष पर बीजिंग में कई उपासकों ने लामा मंदिर में सुबह की प्रार्थना की, लेकिन भीड़ पूर्व-महामारी के दिनों की तुलना में कम दिखी। तिब्बती बौद्ध स्थल में सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए एक दिन में 60,000 आगंतुकों को अनुमति दी गई है। इसके लिए पहले से आरक्षण करवाने की आवश्यकता थी। वहीं, टैओरेंटिंग पार्क को नए साल के मौके पर पारंपरिक चीनी लालटेन से सजाए जाने के बावजूद फूड स्टाल में सामान्य हलचल का कोई संकेत नहीं दिखा। इसके अलावा, बदाचू पार्क में एक लोकप्रिय मंदिर मेला इस सप्ताह वापस आयोजित होगा, लेकिन डिटान पार्क और लोंगटन लेक पार्क में इसी तरह के आयोजनों की वापसी अभी बाकी है।

हांगकांग में, साल की पहली अगरबत्ती जलाने के लिए, शहर के सबसे बड़े ताओवादी मंदिर, वोंग ताई सिन मंदिर में मौज-मस्ती करने वालों का हुजूम उमड़ पड़ा। महामारी के कारण पिछले दो वर्षों से स्थल के लोकप्रिय अनुष्ठान को निलंबित कर दिया गया था। परंपरागत रूप से, चंद्र नववर्ष की पूर्व संध्या पर रात 11 बजे से पहले इस मंदिर में बड़ी भीड़ इकट्ठा होती है, जिसमें हर कोई मंदिर के मुख्य हॉल के सामने सबसे पहले अपनी अगरबत्ती लगाने की कोशिश करता है। उपासकों का मानना ​​है कि जो लोग मुख्य हॉल के सामने सबसे पहले अपनी अगरबत्ती रखते हैं, उन्हें अपनी प्रार्थना का उत्तर मिलने का सबसे अच्छा मौका मिलता है।

यह भी पढ़ें

स्वीडन में जलाई गई कुरान तो भड़का पाकिस्तान, जानें क्या है पूरा मामला?

जानें क्यों पड़ा अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के घर FBI का छापा?... 13 घंटे तक हुई पड़ताल

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन