1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. सेना प्रमुख बाजवा ने सऊदी अरब और UAE से मदद की लगाई गुहार, IMF से भी मांगी थी हेल्प

Pakistan News: सेना प्रमुख बाजवा ने सऊदी अरब और UAE से मदद की लगाई गुहार, IMF से भी मांगी थी हेल्प

Pakistan News: सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने अपने देश के लिए आर्थिक सहायता सुनिश्चित करने के तहत अब सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात (UAE) से संपर्क किया है।

Akash Mishra Edited By: Akash Mishra
Published on: August 06, 2022 17:35 IST
Pakistan Army chief General Qamar Javed Bajwa (File Photo)- India TV Hindi News
Image Source : ANI Pakistan Army chief General Qamar Javed Bajwa (File Photo)

Highlights

  • पाकिस्तान ने IMF से 1.7 अरब डॉलर के राहत पैकेज के लिए अमेरिका से मदद मांगी थी
  • पाकिस्तान जरूरी फंड लिए सऊदी अरब, यूएई और चीन के साथ बातचीत कर रहा है: द एक्सप्रेस ट्रिब्यून

Pakistan News: पाकिस्तान की आर्थिक हालत इस कदर खराब हो गई है कि सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ही मदद के लिए संपर्क साधने में लगे हैं। बाजवा ने अपने देश के लिए आर्थिक सहायता सुनिश्चित करने के तहत अब सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात (UAE) से संपर्क किया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इससे कुछ दिन पहले जनरल बाजवा ने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा फंड (IMF) से 1.7 अरब डॉलर का महत्वपूर्ण राहत पैकेज दिलाने के लिए अमेरिका से मदद मांगी थी। पाकिस्तान के डेली न्यूजपेपर ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की रिपोर्ट के मुताबिक, जैसा कि आईएमएफ(IMF) के कार्यकारी बोर्ड की इस महीने के अंत में बैठक होने वाली है। इसमें पाकिस्तान के लिए ऑफिशियली 1.2 अरब अमेरिकी डॉलर की राशि की अगली किस्त को मंजूरी दी जाएगी।

मित्र देशों की प्रतिबद्धता सुनिश्चित करे पाकिस्तान

IMF चाहता है कि आर्थिक सहायता पाने के लिए पाकिस्तान अपने मित्र देशों की प्रतिबद्धता सुनिश्चित करे। ऐसा माना जाता है कि आईएमएफ ने पाकिस्तान से कहा है कि वह इस बात की पुख्ता गारंटी दे कि उसके दोस्त उसकी बाहरी जरूरतों के लिए चार अरब डॉलर मुहैया कराएंगे। ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान आवश्यक धन मुहैया कराने के लिए सऊदी अरब, यूएई और चीन जैसे प्रमुख सहयोगियों के साथ बातचीत कर रहा है। 

सऊदी अरब से खाली लौटे थे शहबाज शरीफ

आपको बता दें कि अप्रैल में जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने सऊदी अरब की यात्रा की, तो वह खाली हाथ लौटे थे क्योंकि रियाद ने उन्हें कोई पक्का आश्वासन नहीं दिया था। UAE भी पाकिस्तान के बचाव में आने से हिचक रहा था। कर्ज देने के बजाय UAE ने पाकिस्तान को शेयर और संपत्ति खरीदने की पेशकश की। ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की रिपोर्ट के मुताबिक माना जाता है कि पाकिस्तान की सेना ने आर्थिक मदद के लिए सऊदी अरब और UAE दोनों ही देशों में अधिकारियों से बात की है।

Latest World News

>independence-day-2022