UPTET पेपर लीक मामले में बड़ी गिरफ्तारी, बेसिक शिक्षा विभाग के निदेशक गिरफ्तार

बेसिक शिक्षा विभाग के निदेशक (सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी) संजय उपाध्याय पूर्व में गाजियाबाद में जिला शिक्षा अधिकारी के रूप में तैनात रह चुके हैं।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: December 01, 2021 19:26 IST
Sanjay Upadhyay, Sanjay Upadhyay UPTET, Sanjay Upadhyay UPTET Paper Leak- India TV Hindi
Image Source : PTI REPRESENTATIONAL UP पुलिस की STF ने बेसिक शिक्षा विभाग के निदेशक को बुधवार को दोपहर बाद गिरफ्तार कर लिया।

Highlights

  • संजय उपाध्याय पूर्व में गाजियाबाद में जिला शिक्षा अधिकारी के रूप में तैनात रह चुके हैं।
  • UP STF (नोएडा यूनिट) ने बेसिक शिक्षा विभाग के निदेशक को बुधवार को दोपहर बाद गिरफ्तार कर लिया।
  • UP STF द्वारा विभिन्न प्रिंटिंग प्रेस के मालिकों के खिलाफ गैंगस्टर ऐक्ट के तहत भी मुकदमा दर्ज करवाया गया है।

नोएडा: उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा वर्ष 2021 के पेपर लीक होने के मामले में उत्तर प्रदेश एसटीएफ (नोएडा यूनिट) ने बेसिक शिक्षा विभाग के निदेशक को बुधवार को दोपहर बाद गिरफ्तार कर लिया। अलीगढ़ से भी एक व्यक्ति को बुधवार गिरफ्तार किया है, जबकि मंगलवार दिल्ली स्थित एक प्रिंटिंग प्रेस के मालिक को गिरफ्तार किया था। इस मामले में थाना सूरजपुर में STF द्वारा विभिन्न प्रिंटिंग प्रेस के मालिकों के खिलाफ गैंगस्टर ऐक्ट के तहत भी मुकदमा दर्ज करवाया गया है।

‘सचिव से की जा रही है पूछताछ’

उत्तर प्रदेश विशेष कार्य दल (STF) के नोएडा के अधीक्षक राजकुमार मिश्रा ने इस बारे में बुधवार को जानकारी देते बताया कि 28 नवंबर को होने वाली उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा का प्रश्न पत्र परीक्षा वाले दिन ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। उन्होंने बताया कि इस मामले में नोएडा STF ने आज बेसिक शिक्षा विभाग के निदेशक (सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी) संजय उपाध्याय को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि उनसे पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि जांच में पता चला है कि शिक्षक पात्रता परीक्षा के प्रश्न पत्र छपवाने सहित अन्य चीजों का टेंडर इन्होंने ही दिया था।


मंगलवार को सस्पेंड हुए थे उपाध्याय
मिश्रा ने बताया कि संजय उपाध्याय पूर्व में गाजियाबाद में जिला शिक्षा अधिकारी के रूप में तैनात रह चुके हैं। STF के अधिकारी गिरफ्तार आरोपी से गहनता से पूछताछ कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने मंगलावर को संजय उपाध्याय को निलंबित कर दिया था। उन्होंने बताया कि संजय उपाध्याय के पास से कई महत्वपूर्ण दस्तावेज, लैपटॉप आदि बरामद हुआ है और पूछताछ के दौरान कई अहम जानकारियां मिली है। उन्होंने बताया कि STF ने जनपद अलीगढ़ से गौरव कुमार पुत्र प्रमोद कुमार को भी आज इस मामले में गिरफ्तार किया है।

‘लैपटॉप, प्रिंटर, लैमिनेशन मशीन आदि बरामद’
STF अधिकारी ने बताया कि इस व्यक्ति के भी TET परीक्षा में हुयी धांधली में शामिल होने का संदेह है। इसके पास से लैपटॉप प्रिंटर लैमिनेशन मशीन आदि बरामद हुयी है। उन्होंने बताया कि इस मामले की जांच कर रही एसटीएफ ने TET परीक्षा के दिल्ली में पेपर छापने वाले प्रिंटिंग प्रेस के मालिक राय अनूप प्रसाद मूलनिवासी जनपद गोरखपुर को मंगलवार को गिरफ्तार किया है। इनकी दिल्ली के ओखला में प्रिंटिंग प्रेस है।

सूरजपुर में गैंगस्टर ऐक्ट के तहत मुकदमा दर्ज
उन्होंने बताया कि जांच में पता चला है कि कोलकाता, नोएडा, दिल्ली में स्थित विभिन्न प्रिंटिंग प्रेसों मे टीईटी की परीक्षा के प्रश्न पत्र छपवा गए थे। इस मामले में एसटीएफ की तरफ से पांच प्रिंटिंग प्रेस के मालिकों के खिलाफ थाना सूरजपुर में गैंगस्टर ऐक्ट के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है।

Latest Crime News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें क्राइम सेक्‍शन