Sunday, July 14, 2024
Advertisement

यूरिक एसिड को यूरिन के ज़रिए छानकर बाहर निकाल देता है अजवाइन, कब्ज में भी मिलता है आराम; जानें कैसे करें सेवन?

​अजवाइन एक ऐसा मसाला है जो आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद फादेमंद है. इसके सेवन से आप यूरिक एसिड को कंट्रोल कर सकते हैं।

Written By: Poonam Yadav @R154Poonam
Published on: June 22, 2024 9:03 IST
अजवाइन के सेवन से यूरिक एसिड होगा कंट्रोल - India TV Hindi
Image Source : SOCIAL अजवाइन के सेवन से यूरिक एसिड होगा कंट्रोल

आजकल की बदलती जीवनशैली में युवा से लेकर अधेड़ उम्र के लोग हर कोई लाइफ स्टाइल से जुड़ी बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। यूरिक एसिड में एक लाइफस्टाइल से जुड़ी गंभीर बीमारी है। दरअसल, यह गठिया का एक जटिल रूप है, जिसमें शरीर में यूरिक एसिड क्रिस्टल जमा हो जाते हैं, जो खासकर जोड़ों को बुरी तरह से प्रभावित करते हैं। यूरिक एसिड शरीर द्वारा प्यूरीन को तोड़ने पर बनता है। जब शरीर में इसका लेवल बढ़ता है तो शरीर में शुगर, गठिया, दिल और किडनी से जुड़ी बीमारियां की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। ऐसे में यूरिक एसिड के लेवल को कंट्रोल करना जरूरी है। 

अजवाइन से कंट्रोल होता है यूरिक एसिड (Uric acid is controlled by celery)

अजवाइन एक ऐसा मसाला है जो औषधीय गुणों से भरपूर है। इसका काढ़ा सर्दी ज़ुकाम में बेहद कारगर माना जाता है वहीं यह यूरिक एसिड को भी तेजी से कंट्रोल करती है। अजवाइन में मौजूद पोषक तत्व जैसे आयरन, मैंगनीज, कैल्शियम और  बायोएक्टिव यौगिक गाउट को ठीक करने में मदद करते हैं। इसमें ल्यूटियोलिन, 3-एन-ब्यूटिलफथालाइड और बीटा-सेलिनीन यौगिक पाए जाते हैं जो रक्त में यूरिक एसिड के स्तर और सूजन को भी कम करते हैं।

यूरिक एसिड पेशेंट ऐसे करें अजवाइन का इस्तेमाल (how to use celery in uric acid )

यूरिक एसिड से पीड़ित मरीजों को रोजाना खाली पेट अजवाइन का पानी पीना चाहिए। सोने से पहले एक गिलास में एक चम्मच अजवाइन डालकर उसे रातभर भिगोकर रख दें। सुबह इस पानी को छानकर पी लें। इसके अलावा अजवाइन के साथ अदरक को मिलाकर भी खा सकते हैं।

अजवाइन के सेवन से ये दिक्कतें भी होंगी दूर: (These problems will also be overcome by consuming celery)

  • पेट की समस्या: एसिडिटी और कब्ज की समस्या से परेशान लोगों के लिए भी अजवाइन फायदेमंद है।

  • जोड़ों के दर्द में आराम: अगर जॉइंट्स में बहुत ज़्यादा दर्द है तो आप इसकस सेवन करें।  अजवाइन में मौजूद एंटी इंफ्लेमेटरी तत्व अर्थराइटिस से जुड़ी समस्या में आराम दिलाते हैं।

  • सूजन से करती है बचाव: एंटी बैक्टीरिया गुणों से भरपूर अजवायन बॉडी में सूजन को कम करता है।साथ ही यह सर्दी जुकाम जैसे वायरल इन्फेक्शन से भी बचाव करता है।

 

 

Latest Health News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement