1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. ऐप बैन: चाइनीज दूतावास ने जताया विरोध, कहा- ऐप्स की गतिविधियां संदिग्ध नहीं, कोई खतरा नहीं

ऐप बैन: चाइनीज दूतावास ने जताया विरोध, कहा- ऐप्स की गतिविधियां संदिग्ध नहीं, कोई खतरा नहीं

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: June 30, 2020 21:23 IST
ऐप बैन: चाइनीज दूतावास ने जताया विरोध, कहा- ऐप्स की गतिविधियां संदिग्ध नहीं, कोई खतरा नहीं- India TV Hindi
Image Source : FILE ऐप बैन: चाइनीज दूतावास ने जताया विरोध, कहा- ऐप्स की गतिविधियां संदिग्ध नहीं, कोई खतरा नहीं

नई दिल्ली:  भारत द्वारा चीन के ऐप्स पर बैन लगाए जाने के बाद चीनी दूतावास की ओर से बयान जारी कर भारत सरकार के इस कदम पर गहरी चिंता और विरोध जताया है और कहा कि ऐप्स की गतिविधियां संदिग्ध नहीं हैं। बयान में कहा गया कि 29 जून को भारत के इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी मिनिस्ट्री द्वारा संबंधित कानून और नियमों का हवाला देते हुए चीन के कुछ ऐप्स पर बैन लगा दिया गया है। मंत्रालय का कहना है कि ये ऐप्स कुछ ऐसी गतिविधियों में संलग्न थे जिनसे देश की संप्रभुता और अखंडता को खतरा था।

चीनी दूतावास ने भारत सरकार के इस फैसले को भेदभावपूर्ण बताया है और कहा है कि यह जमीनी हकीकत से बिल्कुल परे है। चीनी दूतावास ने अपने बयान में कहा कि भारत का यह रवैया अंतरराष्ट्रीय व्यापार और ई-कॉमर्स के सामान्य ट्रेंड के खिलाफ है। यह उपभोक्ताओं के लिए हितकर नहीं और न ही यह भारत में मार्केट कॉम्पीटिशन के लिए अच्छा है। संबंधित ऐप्स के भारत में बड़ी संख्या में यूजर्स हैं और ये ऐप पूरी तरह से भारतीय कानून और नियमों के मुताबिक ऑपरेट होते रहे हैं। ये ऐप्स भारतीय ग्राहकों और यूजर्स को काफी तेज और बढ़िया सर्विस मुहैया करा रहे थे। दूतावास की ओर से कहागया है कि इन ऐप्स पर बैन लगाने से न केवल यूजर्स प्रभावित होंगे बल्कि स्थानीय स्तर पर रोजगार पर भी असर पड़ेगा क्योंकि काफी लोग इस रोजगार से जुड़े हैं।

चीनी दूतावास ने आग्रह किया है कि भारत सरकार दोनों देशों के बीच व्यापारिक संबंधों की गतिशीलता बनाए रखने के लिए इस तरह के फैसले न ले। सभी निवेशकों और सर्विस प्रोवाइडर्स को समान नजरिए से देखे।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X