1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. जेल में बिगड़ी आसाराम बापू की तबीयत, अस्पताल में भर्ती

जेल में बिगड़ी आसाराम बापू की तबीयत, अस्पताल में भर्ती

जेल में आसाराम बापू की अचानक तबीयत बिगड़ गई है। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 17, 2021 11:35 IST
जेल में बिगड़ी आसाराम बापू की तबीयत, अस्पताल में भर्ती- India TV Hindi
Image Source : FILE जेल में बिगड़ी आसाराम बापू की तबीयत, अस्पताल में भर्ती

जोधपुर: जेल में आसाराम बापू की अचानक तबीयत बिगड़ गई है। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वे जोधपुर सेंट्रल जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे  हैं। जानकारी के मुताबिक आसाराम बापू को बेचैनी, घुटनों में तकलीफ और अन्य बीमारियों की शिकायत होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

हाल में आसाराम बापू उस वक्त सुर्खियों में आए जब शाहजहांपुर के जिला जेल में आसाराम के शिष्यों द्वारा कंबल वितरण कर उनका महिमामंडन करने के मामले में एक बंदी रक्षक के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की गई थी जबकि तीन बंदी रक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था।

पढ़ें:- यात्रीगण ध्यान दें! स्पेशल ट्रेन की बदल गई है टाइमिंग, स्टेशन पहुंचने से पहले रहें अपडेट


जेल उपमहानिरीक्षक आर एन पांडेय ने बताया था कि इस मामले में जेल अधीक्षक और जेलर को भी दोषी पाया गया है और मामले की जांच रिपोर्ट महानिदेशक कारागार को भेजी गई हैl उन्होंने बताया था कि आसाराम से जुड़े आश्रम की ओर से नरेंद्र गिरि समेत तीन लोग आए थे उनमें कृपाल हत्याकांड में शामिल रहा अर्जुन नहीं था। लेकिन जेल अधीक्षक द्वारा जारी की गई प्रेस विज्ञप्ति में नारायण पांडे तथा अर्जुन की मौजूदगी दिखायी गयी है। पांडेय ने बताया कि जिला कारागार शाहजहांपुर मेंबापू का महिमामंडन करने को मामले में जांच में पाया गया कि कृपाल हत्याकांड में 2015 से 2019 तक जेल में बंद रहा नारायण पांडे और अर्जुन जेल नहीं आये थे।

पढ़ें:- किसान आंदोलन: सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शनकारी ने किया दिल्ली पुलिस की टीम पर हमला, बाल-बाल बची SHO की जान

पांडेय ने बताया कि जांच में उन्होंने जेल गेट पर लगे सीसीटीवी कैमरे तथा आगंतुक रजिस्टर देखा तो पाया कि वहां पर कंबल वितरण वाले दिन इन लोगों की एंट्री नहीं की गई थी जो एक गंभीर अपराध है इसीलिए प्रथम गेट के बंदी रक्षक के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई की गई है। दूसरे गेट पर तैनात बंदी रक्षक एवं कार्यक्रम स्थल पर मौजूद दो बंदी रक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। जेल अधीक्षक राकेश कुमार ने भी एक बंदी रक्षक पर विभागीय कार्रवाई तथा तीन अन्य बंदी रक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी किए जाने की पुष्टि की है। उल्‍लेखनीय है कि 21 दिसंबर को शाहजहांपुर के जिला कारागार में आसाराम से जुड़े आश्रम की ओर से कंबल वितरण का कार्यक्रम हुआ था। आसाराम से जुड़े एक मामले की पीड़िता के पिता ने भी कारागार में हुए आसाराम के महिमामंडन के मामले में आपत्ति की थी।

इनपुट-भाषा

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X