1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. विधानसभा चुनाव से पहले दिल्ली में बिजली के फिक्स रेट में भारी कटौती, अरविंद केजरीवाल ने किया ऐलान

विधानसभा चुनाव से पहले दिल्ली में बिजली के फिक्स रेट में भारी कटौती, अरविंद केजरीवाल ने किया ऐलान

दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने लोगों को बड़ी राहत देते हुए बिजली के दामों में कटौती करने का ऐलान किया है। अब दिल्ली में बिजली के फिक्स रेट काम करने से उपभोक्ताओं को फायदा मिलेगा।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: July 31, 2019 20:29 IST
दिल्ली में बिजली के दामों में कटौती, केजरीवाल सरकार ने किया ऐलान- India TV Hindi
दिल्ली में बिजली के दामों में कटौती, केजरीवाल सरकार ने किया ऐलान

नई दिल्ली: देश की राजधानी के बिजली नियामक दिल्ली विद्युत विनियामक आयोग (डीईआरसी) ने बुधवार को 2019-20 के लिए नयी बिजली दरें घोषित कीं। इसके तहत मीटर के तय किराये को कम और बिजली की दरों को बढ़ाया गया है। इससे घरेलू श्रेणी के सभी ग्राहकों को बिजली बिल में 750 रुपये तक की बचत होगी। 

डीईआरसी के चेयरमैन न्यायाधीश (सेवानिवृत्त) चौहान ने कहा कि नयी दरें एक अगस्त से लागू होंगी। नयी दरों के मुताबिक दो किलोवाट के मीटर का किराया 125 रुपये से घटाकर 20 रुपये, दो किलोवाट से पांच किलोवाट का 140 रुपये से 50 रुपये और पांच किलोवाट से 15 किलोवाट के मीटर का किराया 175 रुपये से कम करके 100 रुपये कर दिया गया है। 

घरेलू श्रेणी के उपभोक्ताओं में 1,200 यूनिट प्रतिमाह से अधिक व्यय करने वालों के लिए बिजली की दर मौजूदा पौने आठ रुपये के बढ़ाकर आठ रुपये प्रति यूनिट कर दी गयी है। डीईआरसी के अधिकारियों ने बताया कि नयी दरें लागू होने के बाद घरेलू श्रेणी के ग्राहकों को बिजली बिल पर 105 रुपये से 750 रुपये तक प्रति माह बचत होगी। गैर-घरेलू श्रेणी में तीन किलो वोल्ट एंपियर से अधिक के व्यय की मौजूदा दर को आठ रुपये से बढ़ाकर साढ़े आठ रुपये प्रति यूनिट किया गया है। वहीं तीन किलो वोल्ट एंपियर से कम खपत वाले छोटे दुकानदारों के लिए एक नयी उप-श्रेणी बनायी गयी है। इनके लिए बिजली की दर को साढ़े आठ रुपये के बजाय छह रुपये प्रति यूनिट रखा गया है। 

चौहान ने कहा, ‘‘बिजली की दरों और तय किराये में मामूली फेरबदल किया गया है। दरों को इस तरह संतुलित किया गया है कि यह समाज के हर तबके की जरूरत को पूरा करे।’’ प्रदूषण मुक्त परिवहन को बढ़ावा देने के लिए ई-रिक्शा चार्जिंग स्टेशनों और अन्य इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए भी बिजली दरों को कम किया गया है। इसके लिए बिजली दरें चार रुपये से साढ़े चार रुपये प्रति यूनिट रखी गयी हैं।

आपको बता दें कि दिल्ली विधानसभा का चुनाव अगले 6 महीनों के भीतर होना तय है। इसकी तैयारियों को लेकर 3 प्रमुख राजनीतिक दलों आम आदमी पार्टी (आप), बीजेपी और कांग्रेस के नेता सक्रिय हो गए हैं। दिल्ली सरकार के इस ऐलान को चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बिजली के दाम में कटौती पर ट्वीट करते हुए कहा कि लगातार पांचवें वर्ष बिजली दरों में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है। इसके विपरीत, लगातार पांचवें वर्ष के लिए बिजली के दाम कम किए गए है। दिल्ली में अब देश में सबसे कम बिजली शुल्क है और दिल्ली भारत में 24 × 7 बिजली का एकमात्र स्थान है।

बिजली के फिक्स रेट काम करने से किस उपभोक्ताओं को कितना फायदा मिलेगा।

  • 1 किलोवाट का अगर मीटर है तो प्रतिमाह 105 रुपए का फायदा।
  • 2 किलोवाट का अगर मीटर है तो 210 रुपए प्रतिमाह का बचत।
  • 3 किलोवाट का मीटर है तो 270 रुपए प्रतिमाह बचत।
  • 4 किलोवाट का मीटर है तो  360 रुपए हर महीने की बचत।
  • 5 किलोवाट का मीटर है तो 450 रुपए हर महीने की बचत। 
  • 6 किलोवाट के मीटर पर 450 रुपए हर महीने की बचत।
  • 7 किलोवाट का मीटर है तो हर महीने 525 रुपए की बचत। 
  • 8 किलोवाट का मीटर है तो हर महीने का 600 रुपए की बचत।
  • 9 किलोवाट का मीटर है तो हर महीने 675 रुपए की बचत।
  • 10 किलोवाट का मीटर है तो हर महीने 755 रुपए की बचत।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
coronavirus
X