1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. चीन से तनाव के बीच भारत खरीदेगा खतरनाक हथियार, सेना को मिलेंगे सुसाइड ड्रोन से लेकर हल्के टैंक

चीन से तनाव के बीच भारत खरीदेगा खतरनाक हथियार, सेना को मिलेंगे सुसाइड ड्रोन से लेकर हल्के टैंक

चीन के साथ सीमा पर जारी तनाव के बीच भारत दुनिया के कई खतरनाक हथियारों की आपातकालीन खरीद करने जा रहा है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: July 15, 2020 9:47 IST
Defence - India TV Hindi
Image Source : FILE Defence 

चीन के साथ सीमा पर जारी तनाव के बीच भारत दुनिया के कई खतरनाक हथियारों की आपातकालीन खरीद करने जा रहा है। इसमें इस्राइल का खतरनाक सुसाइड ड्रोन लाइटरिंग म्युनिशन और हल्के युद्धक टैंकों से लेकर कई हथियार शामिल हैं। बताया रहा है कि सरकार ने इस आपातकालीन खरीद को मंजूरी दे दी है। वहीं आज रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में एक अहम बैठक भी होने जा रही है, जिसमें ​हथियारों की खरीदी प्रक्रिया को तेज करने पर अहम निर्णय लिए जा सकते हैं। 

सेना को मिल सकते हैं ये ​हथियार 

प्राप्त जानकारी के अनुसार भारत सरकार ने सेना को मजबूत बनाने के लिए दुनिया के कुछ सबसे खतरनाक हथियारों की खरीद को मंजूरी दे दी है। इसमें लाइटरिंग म्युनिशन भी शामिल है। यह हथियार इस्राइल ने विकसित किया है। इसे सुसाइड ड्रोन भी कहा जाता है। इसके अलावा सरकार ने हल्के टैंकों की खरीद को भी अनुमति दी है। वहीं सरकार इस्राइल के ही हीरोन यूएवी भी खरीदेगा। साथ ही सरकार सिग सुएर अमेरिकी एसॉल्ट राइफल की नई खरीद भी करेगी। वहीं सरकार की लिस्ट में स्पाइक एंटी टैंग गाइडेड मिसाइल और कंधे पर लादी जा सकने वाली स​र्फेस टू एयर डिफेंस मिसाइल भी शामिल है। 

आज होगी अहम बैठक 

प्राप्त जानकारी के अनुसार आज स्पेशल डिफेंस एक्विजीशन काउंसिल की बैठक होने जा रही है। इसमें रक्षामंत्री राजनाथ के साथ चीफ आफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत भी शामिल होंगे। इसके साथ ही बैठक में तीनों सेनाओं के प्रमुख भी शामिल होंगे। इस बैठक में एलएसी पर चीन तथा एलओसी पर पाकिस्तान की ओर से की जा रही कार्रवाई को देखते हुए हथियार खरीदने की प्रक्रिया में तेजी लाने पर निर्णय लिया जाएगा। 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X