1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. राकेश टिकैत Exclusive: सिंघू बॉर्डर पर हुई हत्या सरकार का षड्यंत्र, पहले बताया था धार्मिक मामला

राकेश टिकैत Exclusive: सिंघू बॉर्डर पर हुई हत्या सरकार का षड्यंत्र, पहले बताया था धार्मिक मामला

राकेश टिकैत ने कहा कि सिंघु बॉर्डर पर मर्डर के पीछे बड़ी साजिश है। गिरफ्तारी हुई अब कानून अपना काम करेगा। सिंघु बॉर्डर पर पुलिस प्रशासन के सामने हत्या की गई।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: October 18, 2021 19:19 IST
Exclusive: सिंघू बॉर्डर पर हत्या को लेकर राकेश टिकैत का बड़ा आरोप- India TV Hindi
Image Source : PTI FILE PHOTO Exclusive: सिंघू बॉर्डर पर हत्या को लेकर राकेश टिकैत का बड़ा आरोप

नई दिल्ली। भारतीय किसान यूनियन (BKU) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने सोमवार को इंडिया टीवी के साथ बातचीत में सिंघु बॉर्डर हत्याकांड को लेकर बड़ा बयान दिया है। गाजीपुर बॉर्डर पर इंडिया टीवी को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में राकेश टिकैत ने कहा कि आंदोलन स्थल पर जो कुछ भी हुआ वह सरकार का करवाया हुआ षडयंत्र है। सिंघु बॉर्डर पर हुई घटना एक ‘धार्मिक मामला’ है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि बॉर्डर के आसपास का माहौला बिगाड़ने के पीछे सरकार जिम्मेदार है। सरकार को झुकाना नहीं चाहते बस नए कृषि कानून वापस लिए जाएं।

राकेश टिकैत ने कहा कि सिंघु बॉर्डर पर मर्डर के पीछे बड़ी साजिश है। गिरफ्तारी हुई अब कानून अपना काम करेगा। सिंघु बॉर्डर पर पुलिस प्रशासन के सामने हत्या की गई। सिंघू बॉर्डर पर हुई घटना भारत सरकार की साजिश है, उनकी देखरेख में करवाई हुई घटना है, कौन सी एजेंसी उसमें काम कर रही थी उन्हें पता है, वहां पर तो इंटेलिजेंस के लोग थे, उन्होंने इतनी बड़ी घटना क्यों होने दी। आंदोलन स्थल पर जो कुछ भी हुआ वह सरकार का करवाया हुआ षडयंत्र है।

हमारा रेल रोको आंदोलन ठीक रहा- राकेश टिकैत

राकेश टिकैत ने कहा कि हमारा रेल रोको आंदोलन ठीक रहा। आगे की रणनीति के लिए कार्यक्रम बनाएंगे। अजय मिश्रा के इस्तीफे तक हमारा विरोध जारी रहेगा। अजय मिश्रा टेनी आईपीसी की धारा 120 (बी) का आरोपी है। अजय मिश्रा टेनी खुले में नहीं घूम सकता है। तीनों नए कृषि कानून रद्द हों, एमएसपी पर गारंटी ही किसान आंदोलन का मकसद है। हमने अभी पूरी ताकत नहीं झोंकी है, पूरी ताकत झोंकेंगे 3 साल में पता चल जाएगा, हमारा कोर्स 3 साल में पूरा होगा। हम सरकार को झुकाने के इरादे से आंदोलन नहीं कर रहे बल्कि कानून वापसी के इरादे से चल रहे हैं।

मोदी सरकार को कंपनी चलाती है- टिकैत

राकेश टिकैत ने कहा कि अभी ज्यादा दिन थोड़े हुए आंदोलन को, एक साल ज्यादा नहीं होता है। सरकार अगर किसी पार्टी की होती है तो जरूर बात मानती, सरकार है मोदी की और मोदी सरकार को कंपनी चलाती है। मिडल मैन को खत्म कर दिया तो किसान की फसल को कौन खरीदेगा? उनका फूफा खरीदेगा। एमएसपी पर गारंटी का कानून लागू कर दे सरकार, जब भाजपा विपक्ष में होती थी तो यही मांग करती थी और जो कानून इन्होंने लागू किए इनको इन्होंने काले कानून बताया था, अब ये कानून सफेद कैसे हो गए? सरकार से कुछ चीज मांगना अगर विद्रोह है तो इसे विद्रोह मान लो।  

रेल रोको आंदोलन को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में राकेश टिकैत ने कहा कि हम तो ट्रेनों की चेकिंग कर रहे हैं आज की कितनी चल रही हैं, कुछ ट्रेनों को बेच दिया और उसका किराया बढ़ा दिया। लखीमपुर कांड को लेकर राकेश टिकैट ने एक सवाल के जवाब में कहा कि आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी हो चुकी है और उसका बापू कहां जाएगा, पुराना इतिहास तो उसका गुंडे का है। जबतक वह देश का गृहमंत्री रहेगा, कानून के हाथ बंधे रहेंगे, अजय मिश्रा की गिरफ्तारी हो और उसे आगरा की जेल में भेजा जाए। आंदोलन से आम लोगों को दिक्कत नहीं होती बल्कि महंगाई से दिक्कत होती है, बेरोजगारी से दिक्कत होती है।

bigg boss 15