1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Weather Warning: पूरे भारत में Red से लेकर Yellow अलर्ट, भीग रहा है सारा देश

Weather Warning: पूरे भारत में Red से लेकर Yellow अलर्ट, भीग रहा है सारा देश

दक्षिण पश्चिम मॉनसून ने फिर से तेजी पकड़ ली है जिसके प्रभाव से देशभर में बारिश हो रही है। दिल्ली सहित कई राज्यों में सोमवार को मॉनसून की बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: July 19, 2021 10:18 IST
पूरे भारत में Red से...- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV पूरे भारत में Red से लेकर Yellow अलर्ट, भीग रहा है सारा देश

नई दिल्ली: लंबे इंतजार के बाद अब मॉनसून आखिरकार पूरे देश में छा गया है। दक्षिण पश्चिम मॉनसून ने फिर से तेजी पकड़ ली है जिसके प्रभाव से देशभर में बारिश हो रही है। दिल्ली सहित कई राज्यों में सोमवार को मॉनसून की बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली है। आज सुबह से ही मौसम खुशनुमा बना हुआ है। मौसम विभाग ने अगले 72 घंटों तक दिल्ली में भारी बारिश का अनुमान जताया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने मंगलवार के लिए पूर्वी राजस्थान, जम्मू-कश्मीर और पूर्वी उत्तर प्रदेश के संबंध में ऑरेंज अलर्ट और पश्चिमी यूपी, पश्चिमी और मध्य महाराष्ट्र, कर्नाटक के लिए रेल अलर्ट जारी करके भारी बारिश की चेतावनी दी है। इसके अलावा मौसम विभाग देश के बाकी सभी राज्यों के लिए येलो अलर्ट जारी किया है।

जानिए क्या है रेड, ऑरेंज और येलो अलर्ट

मौसम विभाग समय-समय पर कुछ चुनिंदा रंगों के आधार पर अलर्ट्स जारी करता है। रेड अलर्ट में भारी से अति भारी बारिश की चेतावनी जारी की जाती है। मौसम विभाग द्वारा गंभीर स्थितियों में रेड अलर्ट जारी किया जाता है। रेड अलर्ट के मायने हैं कि अब जान माल की सुरक्षा का समय आ चुका है। अक्सर इस अलर्ट के बाद खतरे के जोन में रहने वाले लोगों को सुरक्षित जगहों पर ले जाया जाता है और मौसम के मुताबिक सुरक्षा के इंतजाम किए जाते हैं। ऑरेंज अलर्ट में मध्यम से भारी बारिश के लिए चेतावनी जारी की जाती है। मौसम विभाग ऑरेंज अलर्ट जारी करता है तो इसका मतलब होता है कि मौसम की मांग है। अब आप को खराब मौसम के लिए तैयार रहने की जरूरत है और इसके लिए आप तैयार हो जाएं। येलो अलर्ट में हल्की से मध्यम बारिश की चेतावनी होती है।

पूरे भारत में Red से लेकर Yellow अलर्ट

Image Source : IMD
पूरे भारत में Red से लेकर Yellow अलर्ट

21 जुलाई तक समंदर किनारे ना जाने की चेतावनी

बता दें कि दिल्ली से लेकर मुंबई तक मौसम की मार पड़ी है। दिल्ली और इसके आस-पास के इलाकों में बारिश की वजह से कई इलाकों में सड़कों पर पानी भर गया है और ट्रैफिक जाम है। बारिश से बुरा हाल सिर्फ दिल्ली-एनसीआर का नहीं है गुजरात से भी हैरान करने वाली तस्वीरें आई हैं। तेज हवाओं के साथ जोरदार बारिश हो रही है। वलसाड में इतनी बारिश हुई कि सड़कों पर सैलाब उमड़ पड़ा। कहीं घुटने तक तो कहीं कमर तक पानी भर गया। वलसाड शहर की कई कॉलोनियां डूब गई। वलसाड के उमरगाम में 232 मिलीमीटर बारिश दर्ज किया गया है। वलसाड समेत दक्षिणी गुजरात के कई इलाकों में मौसम विभाग ने कल तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है और 21 जुलाई तक समंदर के किनारे ना जाने की चेतावनी दी गई है।

देशभर में अबतक सामान्य के मुकाबले 8 प्रतिशत कम बरसात हुई

पहली जून से शुरू हुए मानसून सीजन के दौरान देशभर में अबतक सामान्य के मुकाबले 8 प्रतिशत कम बरसात हुई है। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार पहली जून से लेकर 18 जुलाई तक देशभर में औसतन 301.6 मिलीमीटर बरसात दर्ज की गई है जबकि सामान्य तौर पर इस दौरान 327.9 मिलीमीटर बारिश होती है। मौसम विभाग के अनुसार ज्यादातर कमी उत्तर भारत के राज्यों में दर्ज की गई है। पहली जून से लेकर 18 जुलाई तक राजस्थान में 27 प्रतिशत कम, दिल्ली में 43 प्रतिशत कम, पंजाब में 35 प्रतिशत कम, उत्तर प्रदेश में 20 प्रतिशत कम और हरियाणा में 22 प्रतिशत कम बरसात दर्ज की गई है।

लेकिन रविवार रात से पूरे उत्तर भारत में जिस तरह से बरसात हो रही है और अगले 2 दिन जिस तरह की बरसात का अनुमान है, उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि मानसून में बरसात की कमी इस हफ्ते पूरी हो सकती है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X