Ankita Bhandari Murder Case: आरोपी के रिजॉर्ट पर चला बुलडोजर, तो अंकिता के पिता बोले- ध्वस्तीकरण से मिट गए होंगे सारे सबूत

Ankita Bhandari Murder Case: अंकिता भंडारी के पिता ने कहा, ‘‘रिजॉर्ट में रजिस्टर आदि रहे होंगे जिससे पता चलता कि वहां कौन-कौन से लोग आते थे, लेकिन उसे ढहाने से वे सब समाप्त हो गए।’’ उन्होंने मांग की कि उनकी बेटी की हत्या के आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी दी जानी चाहिए।

Reported By : PTI Edited By : Akash Mishra Updated on: September 25, 2022 18:09 IST
Ankita Bhandari(File Photo)- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO Ankita Bhandari(File Photo)

Ankita Murder Case: उत्तराखंड में पौड़ी जिले के यमकेश्वर में गंगा भोगपुर क्षेत्र के वनतरा रिजॉर्ट में काम करने वाली अंकिता भंडारी की हाल में हत्या कर दी गई थी। मामलें पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए तीन आरोपियों को अरेस्ट कर लिया था, जिसमें एक पुलकित आर्य भाजपा नेता का बेटा है, जो रिजार्ट का मालिक है। कार्रवाई के तहत सीएम धामी के निर्देश पर प्रशासन ने रिजॉर्ट को बुडोजर से ढहा दिया। रिजॉर्ट ढहाने की कार्रवाई को लेकर अपनी 19 वर्षीया बेटी अंकिता भंडारी की हत्या से आक्रोशित पिता ने आशंका जताई कि रिजॉर्ट को ध्वस्त करने के साथ सबूत भी नष्ट हो गए होंगे।  हालांकि, पुलिस ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि घटना से संबंधित सभी साक्ष्य पहले ही जुटा लिए गए हैं।

अंकिता के पिता वीरेंद्र सिंह भंडारी ने आरोपियों के लिए फांसी की सजा की भी मांग की। उन्होंने कहा, ‘‘रिजॉर्ट में रजिस्टर आदि रहे होंगे जिससे पता चलता कि वहां कौन-कौन से लोग आते थे, लेकिन उसे ढहाने से वे सब समाप्त हो गए।’’ उन्होंने मांग की कि उनकी बेटी की हत्या के आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी दी जानी चाहिए।  

'आरोपियों के खिलाफ काफी मजबूत सबूत हैं'

हालांकि, अंकिता के पिता के आरोपों पर पुलिस का कहना है कि वह रिजॉर्ट में जाकर तफ्तीश पूरी कर चुकी है और उसकी हत्या में शामिल आरोपियों को कड़ी सजा दिलाने के लिए उनके पास पर्याप्त सबूत हैं। इस मामले का खुलासा करने वाली टीम का नेतृत्व करने वाले पौड़ी के अपर पुलिस अधीक्षक शेखर सुयाल ने बताया कि रिजॉर्ट में जाकर उनकी टीम पहले ही जांच पूरी कर चुकी है और उसे ध्वस्त किए जाने से मामला कमजोर नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा, ‘‘मैं आश्वस्त करना चाहता हूं कि आरोपियों के खिलाफ हमारे पास बहुत मजबूत सबूत हैं। अंकिता का शव बरामद हो चुका है और आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी।’’

मुआवजा और सरकारी नौकरी देने की मांग

अंकिता की अंतिम पोस्टमार्टम रिपोर्ट सार्वजनिक किए जाने की मांग के पूरी न होने तक उसकी अंत्येष्टि न करने पर अड़े पिता के बारे में सुयाल ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा कि अंकिता के शव का पोस्टमार्टम एम्स ऋषिकेश में चार चिकित्सकों के पैनल ने किया है और उसकी वीडियोग्राफी भी की गई है। पुलिस और प्रशासन पर भरोसा करने का आग्रह करते हुए पुलिस अधिकारी ने श्रीनगर में ऋषिकेश-बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर धरना दे रही जनता से वहां से उठने की अपील की। परिजनों के समर्थन में एकत्र हुए लोगों ने सरकार से अंकिता के परिजनों को एक करोड़ रुपये का मुआवजा और उसके भाई को सरकारी नौकरी देने की मांग की है। 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन