1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. 'टकराव की तरफ बढ़ रहे हैं केरल के ईसाई और मुस्लिम', कांग्रेस ने की बैठक बुलाने की मांग

‘नारकोटिक जिहाद’: विवाद के खात्मे के लिए कांग्रेस ने की सर्वदलीय बैठक बुलाने की मांग

राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता वी. डी. सतीसन ने आरोप लगाया कि वाम मोर्चा नीत सरकार इस विवाद को समाप्त करने के लिए कुछ नहीं कर रही है, सिर्फ मूक दर्शक बनी हुई है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: September 14, 2021 17:32 IST
Narcotic Jihad, Narcotic Jihad Congress, Narcotic Jihad Kerala, Narcotic Jihad BJP- India TV Hindi
Image Source : FACEBOOK.COM/VDSATHEESHANPARAVUR कांग्रेस ने आरोप लगाया कि ईसाई और मुस्लिम समुदाय टकराव की ओर बढ़ रहे हैं लेकिन राज्य सरकार ‘मूक दर्शक’ बनी हुई है।

तिरुवनंतपुरम: विपक्षी दल कांग्रेस ने मंगलवार को केरल सरकार से अनुरोध किया कि वह पाला बिशप जोसेफ काल्लारांगट की ‘नारकोटिक जिहाद’ टिप्पणी से उत्पन्न विवाद का स्थाई समाधान निकालने के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाए। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि ईसाई और मुस्लिम समुदाय टकराव की ओर बढ़ रहे हैं लेकिन राज्य सरकार ‘मूक दर्शक’ बनी हुई है। हालांकि, इस विवादित टिप्पणी पर बिशप का समर्थन करने वाली भारतीय जनता पार्टी ने एरात्तुपेट्टा नगर निगम में वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट) और सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) की हालिया राजनीतिक साझेदारी की ओर ईसाई समुदाय का ध्यान आकर्षित किया।

‘वाम मोर्चा नीत सरकार मूक दर्शक बनी हुई है’

बीजेपी ने साथ ही उसने यह बताने का प्रयास किया कि LDF और CPM चरमपंथी समूहों को अपना समर्थन देंगे। SDPI, पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) का राजनीतिक मोर्चा है। राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता वी. डी. सतीसन ने कहा कि इस मामले से कहीं से भी नहीं जुड़े लोगों का एक समूह सोशल मीडिया पर घृणा अभियान चला कर आग में घी डालने का काम कर रहा है और यह दक्षिण भारत के राज्य में सौहार्द को भंग करना चाह रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि वाम मोर्चा नीत सरकार इस विवाद को समाप्त करने के लिए कुछ नहीं कर रही है, सिर्फ मूक दर्शक बनी हुई है।


‘कुछ तत्व साम्प्रदायिक दंगे भड़काने की कोशिश कर रहे’
सतीसन ने मुख्यमंत्री पिनराई विजयन से कैथोलिक बिशप की ‘नारकोटिक जिहाद’ वाली टिप्पणी को लेकर सोशल मीडिया पर किए जा रहे पोस्ट देखने का अनुरोध किया और पूछा कि अपने हितों के लिए कुछ तत्व साम्प्रदायिक दंगे भड़काने की कोशिश कर रहे हैं, ऐसे में उनकी सरकार, खुफिया विभाग और पुलिस का साइबर प्रकोष्ठ क्या कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर दो समुदायों के बीच टकराव रोकने के लिए कांग्रेस ठोस रुख अपनाएगी, और तनाव खत्म करने के सरकार के किसी भी प्रयास का पार्टी समर्थन करेगी।

‘कुछ लोग केरल को तबाह करने का मौका ढूंढ़ रहे हैं’
सतीसन ने कहा, ‘सरकार को सर्वदलीय बैठक बुलाने के लिए तैयार रहना चाहिए, जिसमें दोनों समुदायों के सभी नेता भाग लें। सरकार को यह तनाव समाप्त करना चाहिए। ऐसे भी लोग हैं जो इस अवसर के इंतजार में हैं ताकि केरल को तबाह कर सकें। हम सभी से बार-बार अनुरोध करते हैं कि उनके जाल में ना फंसें।’ (भाषा)

Click Mania
Modi Us Visit 2021