1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. किसानों ने बंद कर दिया था चिल्ला बॉर्डर, नोएडा एक्सप्रेस वे लगा भीषण जाम

किसानों ने बंद कर दिया था चिल्ला बॉर्डर, नोएडा एक्सप्रेस वे लगा भीषण जाम

प्रदर्शनकारी किसानों ने सोमवार को चिल्ला बॉर्डर बंद कर दिया, जिसके बाद नोएडा एक्सप्रेस वे पर भीषण जाम लग गया। पुलिस के मनाने पर किसान मान गए और सेक्टर 6 अथॉरिटी में सीईओ से मिलने के लिए राजी होने के बाद किसान सड़क से हट गए।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: October 18, 2021 16:06 IST
रेल रोको आंदोलन: किसानों ने बंद कर दिया था चिल्ला बॉर्डर, नोएडा एक्सप्रेस वे लगा भीषण जाम- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV रेल रोको आंदोलन: किसानों ने बंद कर दिया था चिल्ला बॉर्डर, नोएडा एक्सप्रेस वे लगा भीषण जाम

नोएडा: प्रदर्शनकारी किसानों ने सोमवार को चिल्ला बॉर्डर बंद कर दिया, जिसके बाद  नोएडा एक्सप्रेस वे पर भीषण जाम लग गया। पुलिस के मनाने पर किसान मान गए और सेक्टर 6 अथॉरिटी में सीईओ से मिलने के लिए राजी होने के बाद किसान सड़क से हट गए। फिलहाल दोनों सड़कों पर यातायात शुरू हो गया है। किसानों ने गौतमबुद्ध मूर्ति पर नोएडा से दिल्ली और दिल्ली से नोएडा जाने वाले रास्तों को रोक दिया। किसान नेताओं ने कहा जब तक तीनों प्राधिकरण के अधिकारी यहां नहीं आएंगे, वो जाने वाले नहीं है।

‘रेल रोको’ प्रदर्शन से उत्तर रेलवे मंडल में 130 स्थानों पर असर, 50 ट्रेनों की आवाजाही बाधित 

 उत्तर प्रदेश के मोदीनगर में किसान संगठनों के रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर प्रदर्शनकारी किसानों ने ट्रेन रोक दी। लखीमपुर खीरी हिंसा पर संयुक्त किसान मोर्चा के सोमवार को छह घंटे के ‘रेल रोको’ प्रदर्शन से उत्तर रेलवे मंडल में 130 स्थानों पर असर पड़ा और 50 ट्रेनों की आवाजाही बाधित हुई। उसके मुख्य जन संपर्क अधिकारी (सीपीआरओ) ने यह जानकारी दी। प्रदर्शन के कारण उत्तर पश्चिम रेलवे (एनडब्ल्यूआर) के राजस्थान और हरियाणा में कुछ प्रखंडों में रेल यातायात बाधित रहा, दो ट्रेनों को रद्द कर दिया गया, 13 को आंशिक रूप से रद्द किया गया और एक ट्रेन का मार्ग परिवर्तित किया गया।

अधिकारी ने बताया कि उत्तर रेलवे मंडल पर जिन ट्रेनों पर प्रदर्शन का असर पड़ा, उनमें चंडीगढ़-फिरोजपुर एक्सप्रेस शामिल है। लुधियाना से इसे सुबह सात बजे गंतव्य के लिए रवाना होना था लेकिन फिरोजपुर-लुधियाना प्रखंड में अवरोध के कारण यह वहां फंसी रही। नयी दिल्ली-अमृतसर शताब्दी एक्सप्रेस शम्बू स्टेशन के पास रोक दी गयी क्योंकि प्रदर्शनकारियों ने साहनेवाल और राजपुरा के समीप रेल की पटरियां अवरुद्ध कर दी थीं।

उत्तर रेलवे के सीपीआरओ ने कहा, ‘‘अभी तक उत्तर रेलवे मंडल में 130 स्थानों पर प्रदर्शन का असर पड़ा है और 50 ट्रेनों का संचालन बाधित है।’’ राजस्थान में प्रदर्शन से बीकानेर मंडल के हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर में रेल आवाजाही बाधित रही। एनडब्ल्यूआर के एक प्रवक्ता ने बताया कि भिवानी-रेवाड़ी, सिरसा-रेवाड़ी, लोहारू-हिसार, सूरतगढ़-बठिंडा, सिरसा-बठिंडा, हनुमानगढ़-बठिंडा, रोहतक-भिवानी, रेवाड़ी-सादुलपुर, हिसार-बठिंडा, हनुमानगढ़-सादुलपुर और श्रीगंगानगर-रेवाड़ी प्रखंडों पर रेल यातायात प्रदर्शन के कारण बाधित रहा। उन्होंने बताया कि बठिंडा-रेवाड़ी विशेष ट्रेन और सिरसा-लुधियाना विशेष ट्रेन सोमवार को भी बाधित रहेंगी। अहमदाबाद-श्री माता वैष्णो देवी कटरा विशेष ट्रेन का मार्ग भी परिवर्तित कर दिया गया है।

उन्होंने बताया कि अहमदाबाद से शनिवार को रवाना हुई ट्रेन रेवाड़ी-दिल्ली-पठानकोट होते हुए अलग मार्ग से श्री माता वैष्णो देवी कटरा जाएगी। केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन का नेतृत्व कर रहे किसान संघों के संगठन संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने एक बयान में कहा था, ‘‘लखीमपुर खीरी मामले में जब तक न्याय नहीं मिल जाता, तब तक प्रदर्शन तेज किए जाएंगे।’’

एसकेएम ने बताया था कि लखीमपुर खीरी हिंसा के संबंध में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त और गिरफ्तार करने की मांग को लेकर ‘रेल रोको’ प्रदर्शन के दौरान सोमवार को सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक ट्रेन यातायात रोका जाएगा। लखीमपुर खीरी में तीन अक्टूबर को हुई हिंसा में मारे गए आठ लोगों में से चार किसान थे जिन्हें कथित तौर पर भाजपा कार्यकर्ताओं को ले जा रहे वाहन ने कुचल दिया था। किसानों ने दावा किया कि एक वाहन में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा का पुत्र आशीष मिश्रा था। आशीष मिश्रा को इस मामले में नौ अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था। 

bigg boss 15