1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. Achala Ekadashi 2022: अचला एकादशी व्रत आज, धन-संपत्ति में बढ़ोतरी और जीवन में उन्नति पाने के लिए करें ये खास उपाय

Achala Ekadashi 2022: अचला एकादशी व्रत आज, धन-संपत्ति में बढ़ोतरी और जीवन में उन्नति पाने के लिए करें ये खास उपाय

Achala Ekadashi 2022: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार अगर व्यक्ति अचला या अपरा एकादशी के दिन पूजा और व्रत करने के साथ कुछ उपाय करता है, तो उसकी सभी समस्याएं दूर हो सकती हैं।

Sushma Kumari Edited by: Sushma Kumari @ISushmaPandey
Published on: May 26, 2022 7:32 IST
Achala Ekadashi 2022- India TV Hindi
Image Source : INSTAGRAM/ SHRIANANDACHARYAJI Achala Ekadashi 2022

Highlights

  • आज (26 मई) अचला एकादशी व्रत है।
  • ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष की एकादशी को अचला एकादशी के नाम से जाना जाता है।
  • इसे अपरा एकादशी भी कहते हैं।

Achala Ekadashi 2022:  आज (26 मई) अचला एकादशी व्रत है। हर माह में दो एकादशियां पड़ती हैं और उन सबको अलग-अलग नामों से जाना जाता है। उसी प्रकार ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष की एकादशी को अचला एकादशी के नाम से जाना जाता है। इसे अपरा एकादशी भी कहते हैं। अन्य एकादशियों की तरह इस एकादशी पर भी भगवान विष्णु के निमित्त व्रत रखने का विधान ह।

आज के दिन भगवान विष्णु की विधि-पूर्वक पूजा करनी चाहिए। साथ ही घर की साफ-सफाई और मन की स्वच्छता का पूरा ध्यान रखना चाहिए। वैसे तो एकादशी व्रत का प्रारंभ दशमी तिथि से ही हो जाता है। दशमी तिथि से भोजन और आचार-विचार पर संयम रखा जाता है फिर एकादशी तिथि, यानी कि अगले दिन सुबह स्नान आदि से निवृत्त होकर व्रत का संकल्प लिया जाता है और भगवान विष्णु की धूप-दीप, पुष्प आदि से विधि-पूर्वक पूजा की जाती है।

कहते हैं कि जो व्यक्ति अचला या अपरा एकादशी का व्रत करता है, उसे जीवन में अपार खुशियां और वैभव की प्राप्ति होती है। साथ ही उसके धन-धान्य में भी वृद्धि होती है। ऐसा भी माना जाता है कि जो फल किसी व्यक्ति को कार्तिक मास में स्नान या गंगा जी के तट पर पितरों को पिंड दान करने से मिलता है, वैसा ही फल उसे अपरा एकादशी का व्रत करने से भी प्राप्त होता है। 

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार अगर व्यक्ति इस दिन पूजा और व्रत करने के साथ कुछ उपाय करता है, तो उसकी सभी समस्याएं दूर हो सकती हैं। ऐसे में आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए अपरा एकादशी के दिन आपको क्या उपाय करने चाहिए। 

अपरा एकादशी के दिन करें ये उपाय - 

  1.   अगर आप अपने जीवन में खूब उन्नति करना चाहते हैं, तो आज के दिन (26 मई) एक जटा वाला नारियल लेकर, उस पर लाल मौली या कलावा बांधकर श्री हरि का ध्यान करते हुए उसे बहते जल में प्रवाहित कर दें।  ऐसा करने से आप अपने जीवन में खूब उन्नति करेंगे। 
  2. अगर आप अपनी धन-संपत्ति में बढ़ोतरी करना चाहते हैं, तो आज के दिन एक सफेद धागे में पीले फूल पिरोकर उसकी माला बनाएं और भगवान विष्णु को अर्पित करें, साथ ही भगवान के सामने हाथ जोड़कर प्रणाम करें।  ऐसा करने से आपकी धन-संपत्ति में बढ़ोतरी होगी। 
  3. अगर आप अपने जीवन में खुशियाँ ही खुशियाँ लाना चाहते हैं, तो इस दिन श्री विष्णु मंदिर में जाकर शहद की शीशी दान करें और भगवान के आगे घी का दीपक जलाकर ॐ नमो भगवते नारायणाय मंत्र का 11 बार जप करें। ऐसा करने से आपके जीवन में खुशियाँ ही खुशियाँ आयेंगी। 
  4. अगर आप नौकरीपेशा हैं और नौकरी में अपनी जल्द ही तरक्की चाहते हैं, तो इस दिन तुलसी की तीन पत्ती लेकर, उन पर 11 - 11 बार श्री हरि का जप करके भगवान विष्णु को अर्पित कर दें।  ऐसा करने से नौकरी में आपकी तरक्की सुनिश्चित होगी। 
  5. अगर आप अपने बच्चे की सफलता सुनिश्चित करना चाहते हैं, तो आज के दिन स्नान आदि के बाद पीले रंग के कपड़े पहनकर, भगवान विष्णु को केसर का तिलक लगाइए। अगर केसर ना हो तो आप हल्दी का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। साथ ही भगवान को तिलक लगाने के बाद अपने बच्चे को भी तिलक लगाएं। ऐसा करने से आपके बच्चे की सफलता सुनिश्चित होगी। 
  6. अगर आप अपने सभी कामों में माता-पिता का सहयोग पाना चाहते हैं, तो आज के दिन तुलसी के पौधे में जल अर्पित करें और तुलसी माता को हाथ जोड़कर प्रणाम करें। ऐसा करने से आपको सभी कामों में अपने माता-पिता का पूरा-पूरा सहयोग मिलेगा। 
  7. अगर आप बिजनेस के किसी काम से यात्रा करने जा रहे हैं और अपनी यात्रा से काम में लाभ पाना चाहते हैं, तो आज के दिन अपने स्नान के पानी में थोड़ा-सागंगाजल और कुछ सफेद तिल के दाने मिलाकर स्नान करें और स्नान के बाद भगवान के आगे हाथ जोड़कर कोई पीले रंग का रुमाल या अन्य कोई पीले रंग का छोटा-सा कपड़ा लेकर आज पूरे दिन अपने पास रखें। ऐसा करने से बिजनेस के किसी काम से की गई यात्रा से आपको लाभ जरूर होगा। 
  8. अगर आप किसी खास काम के लिए कुछ प्लानिंग कर रहे हैं और उस प्लानिंग में आप सक्सेस होना चाहते हैं, तो आज के दिन बरगद के पेड़ में जल चढ़ाएं और जल चढ़ाने से जमीन में जो मिट्टी गिली हो, उससे अपने मस्तक पर तिलक लगाएं। ऐसा करने से आपकी प्लानिंग सक्सेस होगी 
  9. अगर आप अपने व्यवहार से दूसरे लोगों को प्रभावित करना चाहते हैं, तो आज के दिन विष्णु जी के सामने घी का दीपक जलाएं।  साथ ही भगवान को बेसन के लड्डू का भोग लगाएं और भोग लगाने के कुछ देर बाद ही उन लड्डूओं को प्रसाद के रूप में घर के सब सदस्यों और आस-पास के लोगों में बांट दें, साथ ही थोड़ा-सा प्रसाद स्वयं भी ग्रहण करें। ऐसा करने से आप अपने व्यवहार से दूसरे लोगों को प्रभावित करने में सफल होंगे। 
  10. अगर आप परिवार में सबके बीच बेहतर तालमेल बनाये रखना चाहते हैं, तो आज के दिन भगवान विष्णु को माखन, मिश्री का भोग लगाएं और श्री विष्णु की मूर्ति या तस्वीर के आगे बैठकर श्री हरि, श्री हरि के नाम का 108 बार जप करें। ऐसा करने से आपके परिवार में सबके बीच बेहतर तालमेल बना रहेगा। 
  11. अगर आपके बच्चे आपकी बातों पर ज्यादा ध्यान नहीं देते और उसके चलते आप थोड़े परेशान रहते हैं, तो आज के दिन एक डिब्बी में थोड़ा-सा केसर लेकर, उस पर ॐ नमो भगवते नारायणाय मंत्र का 11 बार जप करें और उस डिब्बी में से थोड़ा केसर लेकर भगवान को तिलक लगाएं। फिर उस डिब्बी को अपने पास संभालकर 45 दिनों के लिये रख लें। 45 दिनों के बाद उस केसर को स्वयं तिलक के रूप में इस्तेमाल कर लें। ऐसा करने से आपका बच्चा आपकी बातों पर ध्यान देने लगेगा, जिससे धीरे-धीरे करके आपकी परेशानी भी खत्म हो जायेगी। 
  12. अगर आप अपने व्यापार को निरंतर प्रगति की ओर अग्रसर होते देखना चाहते हैं तो आज के दिन किसी ब्राहमण को आदर सहित घर पर आमंत्रित करें और उन्हें भरपेट भोजन कराकर दक्षिणा स्वरूप कुछ भेंट करें।  ऐसा करने से आपका व्यापार निरंतर प्रगति की ओर अग्रसर होगा। 

डिस्क्लेमर - इस लेख में व्यक्त विचार लेखक के हैं। इंडिया टीवी इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता।

ये भी पढ़ें - 

Manglik Dosh: कुंडली का सबसे खतरनाक दोष है मांगलिक, व्यक्ति के वैवाहिक जीवन को कर देता है तबाह, जानिए उपाय

Vastu Tips: बेड के नीचे से आज ही हटा लें ये चीजें, वरना पति-पत्नी के बीच होती रहेगी कलह

Vastu Tips: नहीं जा रही है घर से कंगाली? इन पौधों को लगाएं खुद चलकर आएंगी मां लक्ष्मी

Santoshi Mata Vrat: शुक्रवार को क्यों नहीं खाते हैं खट्टा? जानिए मां संतोषी व्रत की पूजा विधि