1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. कमजोर चंद्रमा को मजबूत कर मन शांत करता है मोती, लेकिन इन राशियों के लोग ना पहनें

कमजोर चंद्रमा को मजबूत कर मन शांत करता है मोती, लेकिन इन राशियों के लोग ना पहनें

मोती अपने गुण से चित्त को शांत करने वाला रत्न समझा जाता है। जानिए किन लोगों को मोती धारण करना चाहिए और किन लोगों को नहीं।

Shivani Singh Edited by: Shivani Singh @lastshivani
Updated on: January 20, 2022 17:29 IST
Pearl gemstone is auspicious or inauspicious moti kise pahnna chahiye or kise nahi - India TV Hindi
Image Source : INSTAGRAM/LUSTERWEAR Pearl gemstone is auspicious or inauspicious moti kise pahnna chahiye or kise nahi 

Highlights

  • मोती पहनने से चंद्रमा मजबूत होता है
  • जानिए किन लोगों को मोती धारण करना होगा शुभ

ज्योतिष शास्त्र में रत्नों का बहुत अधिक महत्व हैं क्योंकि इनका सीधा कनेक्शन कुंडली में मौजूद ग्रहों से होता हैं। शायद यही वजह है कि ग्रहों के कमजोर या मजबूत होने और उनके शुभ या अशुभ असर से रत्न जुड़े रहते हैं। आज बात करते हैं मोती की।  मोती को चंद्रमा का कारक माना जाता है। इतना ही नहीं रत्न शास्त्र के अनुसार माना जाता है कि जो व्यक्ति मोती को धारण करता हैं उसके ऊपर मां लक्ष्मी की भी कृपा हमेशा बनी रहती हैं। इसलिए गोल या फिर लंबे आकार का मोती पहनना चाहिए। 

मोती का गुण चित्त को शांत करने वाला समझा जाता है। यह मन पर सीधा असर होता है। ज्योतिषों के अनुसार जिन लोगों को ज्यादा गुस्सा आता हैं या फिर दिमाग इधर-उधर भागता रहता हैं तो उन्हें मोती धारण करना चाहिए। 

पुखराज पहनने से धन-संपत्ति के साथ करियर में मिलता है मुकाम, लेकिन ये 3 राशियों वाले बिल्कुल दूर रहें

ये रत्न हमारे शरीर के पंचतत्वों को बैलेंस करने में मदद करता हैं। इसके साथ ही जिस राशि के जातक इसे धारण कर लें उन्हें शुभ फलों की प्राप्ति होती हैं। जानिए किन लोगों को मोती धारण करना चाहिए और किन लोगों को नहीं। 

Pearl gemstone is auspicious or inauspicious moti kise pahnna chahiye or kise nahi

Image Source : INSTAGRAM/LUSTERWEAR
Pearl gemstone is auspicious or inauspicious moti kise pahnna chahiye or kise nahi 

किन लोगों को पहनना चाहिए मोती रत्न

मेष लग्न 

मेष राशि के जातकों की कुंडली में चन्द्रमा चौथे घर का मालिक होता है जो काफी शुभ स्थान माना जाता है। इसका संबंध माता, भूमि, भवन, वाहन और सुख से होता है। इसलिए इस राशि के लोगों को मोती धारण करना चाहिए। 

दिमाग को तेज और वाणी को प्रखर बनाता है पन्ना, जानिए कौन पहनें और कौन नहीं

कर्क लग्न 
इस लग्न का स्वामी चन्द्रमा है। इसलिए इस राशि वालों को मोती जरूर पहनना चाहिए। इससे आपके दिमाग और शरीर के बीच ठीक ढंग से ताल-मेल बैठ जाएगा। इसके साथ ही आपको धनलाभ होगा। 

तुला लग्न 
इस राशि के जातकों की कुंडली में चन्द्रमा दसवें घर का स्वामी है जो करियर और पिता का स्थान है। इसलिए तुला राशि वालों को अवश्य मोती धारण करना चाहिए।

वृश्चिक लग्न 
चन्द्रमा भाग्य स्थान का स्वामी है। लेकिन यहां एक विडंबना ये है कि चन्द्रमा इसी राशि में नीच का हो जाता है। इसलिए इस राशि के जातकों को मोती नहीं पहनना चाहिए। अगर आप मोती पहनना ही चाहते हैं तो चंद्र यंत्र के साथ पहन सकते हैं। क्योंकि चन्द्र यंत्र चन्द्रमा के नीचत्व को रोकेगा और मोती आपके भाग्य को बढ़ाएगा।

मीन लग्न
इस राशि के लोगों की कुंडली में चन्द्रमा पांचवे घर का मालिक होता है। ये स्थान शुभ होता है। इसलिए इस राशि के जातकों को जरूर मोती पहनना चाहिए। इस राशि के जो लोग निसंतान हैं उन्हें मोती पहनने से संतान होने की संभावना काफी बढ़ जाती हैं। इसके साथ ही संतान की बेहतरी, उसकी उन्नति होगी और अगर आप स्टूडेंट हैं तो आपको मोती पहनने से सफलता मिलेगी। 

इन राशियों को नहीं पहनना चाहिए मोती रत्न

वृष लग्न 
इस राशि में चन्द्रमा तीसरे घर का मालिक होता है जो अकारक है। इसलिए इस राशि के जातकों को मोती नहीं पहनना चाहिए। क्योंकि इससे भाई-बहन के बीच संबंध खराब हो जाएंगे और कुछ अपयश भी हो सकता है।

मिथुन लग्न 
इस राशि के जातकों की जन्मपत्रिका में चन्द्रमा दूसरे घर का मालिक है जोकि मारकेश है। इसलिए इस राशि के लोगों को भी मोती नहीं पहनना चाहिए। अगर आपने इसे धारण किया तो शारीरिक और मानसिक तनाव का सामना करना पड़ सकता है। 

सिंह लग्न 
इस राशि में चन्द्रमा द्वादशेश यानी कि बारहवें घर का मालिक होता है। इसलिए इस राशि को भी मोती नहीं पहनना चाहिए। क्योंकि इससे आपका पैसे अधिक खर्च होंगे। इसके साथ ही शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता हैं।

कन्या लग्न 
इस राशि में चन्द्रमा एकादश यानी कि ग्यारहवें स्थान का स्वामी है। जो अकारक स्थान है।  इसलिए कन्या राशि वालों को मोती नहीं पहनना चाहिए। हो सकता हैं कि अगर आपने मोती पहना होते हैं अचानक आपको धनलाभ हो। लेकिन इसके साथ कई मुश्किल भी साथ चली आएगी। 

धनु लग्न
धनु लग्न वालों की कुंडली में चन्द्रमा आठवें घर का स्वामी है यानी अष्टमेश है। यह बिल्कुल भी अच्छा नहीं माना जाता है। इसलिए इस राशि के लोगों को मोती नहीं पहननी चाहिए। इससे आपको मानसिक तनाव के साथ बुरे-बुरे सपनों का सामना करना पड़ सकता है। 

मकर लग्न
मकर लग्न में चन्द्रमा सातवें घर का स्वामी होता है। सातवें घर को सप्तमेश भी कहते हैं और सप्तमेश मारकेश होता है। अतः आपको मोती नहीं पहनना चाहिए। इस राशि के जातकों को मोती पहनने से सुसाइड करने तक का ख्याल आ सकता है। 

कुंभ लग्न
इस राशि वालों की कुंडली में चन्द्रमा छठे घर का स्वामी होता है जो अकारक माना जाता है। अगर आपने मोती पहनीं तो आपको सर्दी-जुकाम के साथ मेंटल डिसऑर्डर का सामना करना पड़ सकता हैं। इसके अलावा दोस्त भी दुश्मन बन जाएंगे। 

डिस्क्लेमर- ये आर्टिकल जन सामान्य सूचनाओं पर आधारित है। इंडिया टीवी इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता। इसलिए इस रत्न को धारण करने से पहले ज्योतिष या रत्नों की विशेषता जानने वाले एक्सपर्ट से जरूर सलाह लें। 

 

erussia-ukraine-news