1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. मध्य-प्रदेश
  4. नोएडा में एयरपोर्ट बनाने की बजाय किसानों का कर्ज माफ होना चाहिए था: कमलनाथ

नोएडा में एयरपोर्ट बनाने की बजाय किसानों का कर्ज माफ होना चाहिए था: कमलनाथ

कमलनाथ ने बेरोजगारी और नई शिक्षा नीति के खिलाफ राजधानी भोपाल में सड़क पर उतरे NSUI कार्यकर्ताओं पर पुलिस के लाठी चार्ज की निंदा की।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 25, 2021 22:41 IST
Kamal Nath, Kamal Nath Jewar airport, Kamal Nath Jewar airport Farmers loan- India TV Hindi
Image Source : PTI कमलनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की नींव रखे जाने के औचित्य पर सवाल उठाए।

Highlights

  • कमलनाथ ने कहा कि एयरपोर्ट के निर्माण पर 30,000 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।
  • कांग्रेस नेता ने सवाल पूछा कि सरकार नया एयरपोर्ट बनाए, पर इसे बनाने की धनराशि कहां से आएगी?
  • कमलनाथ ने कहा कि मध्य प्रदेश सबसे गरीब सूबों की सूची में चौथे स्थान पर है।

इंदौर: वरिष्ठ कांग्रेस नेता कमलनाथ ने उत्तर प्रदेश के जेवर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की नींव रखे जाने के औचित्य पर गुरुवार को सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि अगर सरकार नये एयरपोर्ट की इस परियोजना पर करीब 30,000 करोड़ रुपये खर्च करने के बजाय इतनी भारी-भरकम रकम से किसानों का कर्ज माफ कर दे, तो देश को अपेक्षाकृत ज्यादा फायदा होगा।

‘सरकार के पास एयरपोर्ट बनाने के लिए पैसा कहां से आएगा?’

कमलनाथ ने इंदौर के देवी अहिल्याबाई होलकर एयरपोर्ट पर कहा, ‘देखिए, (जेवर में बनाए जा रहे) एयरपोर्ट की आवश्यकता हो सकती है। लेकिन इस एयरपोर्ट के निर्माण पर 30,000 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। इस रकम से अगर हमारे किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाए, तो इससे आर्थिक गतिविधियां बढ़ेंगी और देश को ज्यादा लाभ होगा।’ पूर्व केंद्रीय मंत्री ने सरकार के खजाने की हालत पर सवाल दागते हुए यह भी कहा, ‘सरकार (जेवर में) नया एयरपोर्ट बनाए, पर इसे बनाने की धनराशि कहां से आएगी?’

‘मध्य प्रदेश सबसे गरीब सूबों की सूची में चौथे स्थान पर है’
कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमलनाथ ने नीति आयोग के जारी बहुआयामी गरीबी सूचकांक में मध्य प्रदेश के देश में चौथे स्थान पर रहने को लेकर राज्य की बीजेपी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा, ‘मध्य प्रदेश में बीजेपी के लम्बे शासनकाल और इस पार्टी द्वारा बड़ी-बड़ी बातें करने के बाद भी राज्य सबसे गरीब सूबों की सूची में चौथे स्थान पर है। यह शर्म की बात है और हमें अपना सिर झुकाना चाहिए।’

‘बीजेपी की कलाकारी की राजनीति चलने वाली नहीं’
बेरोजगारी और नई शिक्षा नीति के खिलाफ राजधानी भोपाल में सड़क पर उतरे NSUI कार्यकर्ताओं पर पुलिस के लाठी चार्ज की निंदा करते हुए कमलनाथ ने आरोप लगाया कि राज्य में सत्तारूढ़ बीजेपी के पास पुलिस-प्रशासन और धन की ताकत के अलावा अब कुछ भी नहीं बचा है। उन्होंने शिवराज सिंह चौहान की अगुवाई वाली सरकार पर जनजाति समुदाय को गुमराह करने का आरोप भी लगाया और कहा, ‘आदिवासी सच्चाई समझ रहे हैं और वे सचाई का ही साथ देंगे। बीजेपी की कलाकारी की राजनीति चलने वाली नहीं है।’

bigg boss 15