ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. ऑटो इंडस्ट्री में मंदी को देखते हुए Audi India ने कसी कम, पेट्रोल-हाइब्रिड और बैटरी चालित वाहनों पर देगी जोर

ऑटो इंडस्ट्री में मंदी को देखते हुए Audi India ने कसी कम, पेट्रोल-हाइब्रिड और बैटरी चालित वाहनों पर देगी जोर

लग्जरी कार निर्माता ऑडी भारत में अगले साल अप्रैल से लागू होने वाले बीएस-6 नियमों को देखते हुए देश में पेट्रोल, हाइब्रिड और बैटरी चालित वाहनों पर जोर दे रही है। कंपनी डीजल कारों को ज्यादा तवज्जो नहीं दे रही है। 

India TV Business Desk Written by: India TV Business Desk
Published on: August 11, 2019 11:56 IST
Audi India- India TV Paisa

Audi India 

नयी दिल्ली। लग्जरी कार निर्माता ऑडी भारत में अगले साल अप्रैल से लागू होने वाले बीएस-6 नियमों को देखते हुए देश में पेट्रोल, हाइब्रिड और बैटरी चालित वाहनों पर जोर दे रही है। कंपनी डीजल कारों को ज्यादा तवज्जो नहीं दे रही है। देश में वाहन उद्योग में नरमी को देखते हुए ऑडी इंडिया को आशंका है कि अगले साल भी बिक्री सुस्त रहेगी।

कंपनी ने बीएस-6 को लागू किये जाने के बाद 2021 में ही मांग के गति पकड़ने की उम्मीद जाहिर की है। कंपनी अगले साल की शुरुआत में अपनी पहली पूरी तरह बैटरी चालित एसयूवी ई-ट्रॉन को बाजार में पेश करने की तैयारी कर रही है। सरकार की ओर से ई-वाहनों को बढ़ावा दिये जाने को देखते हुए कंपनी इस वाहन को लाने की तैयारी में है।

कंपनी के निवर्तमान क्षेत्रीय प्रमुख राहिल अंसारी ने कहा कि भारत में हम 2020 की शुरुआत तक ई-ट्रॉन पेश करना चाहते हैं... हमारा मानना है कि ना सिर्फ ई-ट्रॉन बल्कि हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन और पेट्रोल वाहन देश में ऑडी का मार्ग प्रशस्त करेंगे। उन्होंने कहा कि कंपनी ने भारत में डीजल वाहनों की तुलना में पेट्रोल वाहनों की मांग में वृद्धि को स्पष्ट तौर पर महसूस किया है।

अंसारी ने कहा कि पहले पेट्रोल से चलने वाले वाहनों की हिस्सेदारी 10 प्रतिशत हुआ करती थी। इस साल पहले ही पेट्रोल वाहनों की हिस्सेदारी 35-40 प्रतिशत पर पहुंच गयी है। अगले साल हम पहली बार ऑडी इंडिया के इतिहास में पेट्रोल वाहनों की हिस्सेदारी डीजल वाहनों से अधिक होता हुआ देखेंगे।

Write a comment
elections-2022