Sunday, May 19, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. नीलाम हुईं नीरव मोदी की 68 पेंटिंग्स, आयकर विभाग को मिले 55 करोड़ रुपये

नीलाम हुईं नीरव मोदी की 68 पेंटिंग्स, आयकर विभाग को मिले 55 करोड़ रुपये

आयकर विभाग ने पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के स्वामित्व वाली पेंटिग्स की मंगलवार को नीलामी की।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 27, 2019 8:55 IST
Nirav Modi's seized paintings auctioned | Facebook- India TV Paisa

Nirav Modi's seized paintings auctioned | Facebook

मुंबई: आयकर विभाग ने पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी के स्वामित्व वाली पेंटिग्स की मंगलवार को नीलामी की। इस नीलामी में विभाग को 59.37 करोड़ रुपये हासिल हुए। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने नीरव की कुल 68 पेंटिग्स की नीलामी करवाई। पंजाब नेशनल बैंक में 13 हजार करोड़ रुपये से अधिक के घोटाले के आरोपी नीरव पर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का 97 करोड़ रुपये बकाया है। फरार हीरा कारोबारी फिलहाल लंदन की एक जेल में बंद है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, आयकर विभाग ने इस नीलामी के लिए एक निजी कंपनी की मदद ली थी। कंपनी का कमिशन काटकर विभाग के खाते में कुल 54.84 करोड़ रुपये आएंगे। आपको बता दें कि इनमें राजा रवि वर्मा, जगन चौधरी, वीएस गायतोंडे, एफएन सूजा और अकबर पद्मसी जैसे नामचीन कलाकारों की पेंटिंग्स शामिल हैं। वीएस गायतोंडे द्वारा बनाई गई एक पेंटिंग 25.24 करोड़ रुपये में बिकी। हालांकि, 2015 में इसकी बोली 29.3 करोड़ रुपये लगी थी और उस समय यह देश की सबसे महंगी पेंटिंग बनी थी।


वहीं, नीरव मोदी की फर्म केमलॉट एंटरप्राइजेज ने इन 68 पेंटिंग्स की नीलामी के खिलाफ राजस्व विभाग को एक लीगल नोटिस भेजा है। इसमें लिखा है, 'सैफरनआर्ट ऑनलाइन आर्ट कैटालॉग में नीलामी के लिए 68 कलाकृतियों की सूची है। इस पर ध्यान नहीं दिया गया है कि 68 में से केवल 19 पेंटिंग्स कंपनी से जुड़ी हैं। यह नीलामी गैरकानूनी है और इसे रद्द किया जाना चाहिए।' प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट (PMLA) कोर्ट ने 20 मार्च को जांच एजेंसियों को नीरव मोदी के मालिकाना हक वाली 173 पेंटिंग्स और 11 गाड़ियों को नीलाम करने की इजाजत दी थी।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement