1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. Loan Against LIC Policy: EMI चुकाने का झंझट नहीं, जानिए कैसे मिलता है एलआईसी पॉलिसी से बदले लोन

Loan Against LIC Policy: EMI चुकाने का झंझट नहीं, जानिए कैसे मिलता है LIC पॉलिसी से बदले लोन

LIC पॉलिसी एक तरह से वस्तु गिरवी रखकर मिलने वाला लोन होता है। यहां आप मकान या सोना गिरवी रखने की बजाए बीमा पॉलिसी गिरवी रखते हैं।

Sachin Chaturvedi Written By: Sachin Chaturvedi @sachinbakul
Published on: September 29, 2022 13:48 IST
Loan Against LIC Policy- India TV Hindi
Photo:FILE Loan Against LIC Policy

Loan Against LIC Policy: जीवन बीमा कंपनी की मशहूर टैगलाइन है, जिंदगी के साथ भी और जिंदगी के बाद भी, भविष्य की अनहोनी के लिए बीमा लेने की सलाह सभी को दी जाती है। लेकिन बीमा आपकी वर्तमान की जरूरतों को पूरी करने में भी बहुत मददगार है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि आप जीवन बीमा पॉलिसी के बदले कर्ज भी ले सकते हैं। खास बात यह है कि यहां होम कार या पर्सनल लोन की तरह आपको मजबूत क्रेडिट स्कोर की भी जरूरत नहीं पड़ती है। यहां आपकी बीमा पॉलिसी ही हर मर्ज की दवा है। सबसे खास बात यह है कि आपको इसे चुकाने के लिए हर महीने ईएमआई  देने की भी जरूरत नहीं है। 

पर्सनल लोन से सस्ता पड़ता है बीमा के बदले लोन 

जब आप पर्सनल लोन या फिर होम या कार लोन लेन बैंक के पास जाते हैं तो वह आपको आपकी क्रेडिट हिस्ट्री के अनुसार तय ब्याज दरों पर कर्ज देता है। अगर आपका क्रेडिट स्कोर बैंक के पैमाने से कम है तो आपको ज्यादा ब्याज चुकाना होता है। कई बार बैंक आपको कर्ज देने से भी मना कर देते हैं। लेकिन बीमा के बदले लोन में यह झंझट नहीं है। आपको बैंक खराब क्रेडिट स्कोर पर भी पर्सनल लोन देते हैं, वहीं इसकी ब्याज दर भी कम होती है। 

एलआईसी पॉलिसी पर लोन की खूबियां 

झटपट लोनः एलआईसी पॉलिसी एक तरह से वस्तु गिरवी रखकर मिलने वाला लोन होता है। यहां आप मकान या सोना गिरवी रखने की बजाए बीमा पॉलिसी गिरवी रखते हैं। यानि कि लोन गारंटी आपकी लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी होती है। चूंकि पेपर वर्क नहीं होता है तो लोन भी जल्दी मिल जाता है।  ग्राहक सिर्फ 3 से 5 दिन की अवधि में ही लोन की राशि प्राप्त कर सकता है।

खत्म नहीं होती बीमा पॉलिसीः बीमा के बदले लोन लेने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपको बीमा से मिलने वाले लाभ खत्म नहीं होते हैं और न हीं अपनी बीमा पॉलिसी को रद्द करने या सरेंडर करने की आवश्यकता होती है। 

बेसिक केवाईसी दस्तावेजों की जरुरतः इस लोन के लिए आपको तरह तरह के दस्तावेज या सैलरी स्लिप जुटाने की जरूरत नहीं होती। यह लोन लेने के लिए सिर्फ केवाईसी जैसे आवश्यक दस्तावेजों में एड्रेस प्रूफ, पहचान प्रमाण और लोन पॉलिसी डीड शामिल हैं। 

ग्राहक की बचतः जैसा कि हमने आपको पहले बताया कि इस लोन के लिए आपको पर्सनल लोन के मुकाबले कम ब्याज पर कर्ज मिल जाता है। ऐसे में यह कर्ज आम लोन के मुकाबले सस्ता होता है। वहीं यहां कोई प्रोसेसिंग शुल्क या हिडन चार्जेज नहीं हैं। ऐसे में लोन की अतिरिक्त लागतों से भी बचत होती है। 

अधिक लोन अमाउंटः एलआईसी पॉलिसीधारक को उसके सरेंडर मूल्य का 80 से 90 फीसदी तक लोन के रूप में दे देती है।

कौन ले सकता है बीमा के बदले लोन

बीमा के बदले लोन लेने के कुछ जरूरी आवश्यकताएं हैं, जैसे कि ग्राहक व्यस्क यानि 18 वर्ष या इससे अधिक उम्र का होना चाहिए। साथ ही भारतीय नागरिक होना चाहिए। व्यक्ति एक पॉलिसीधारक होना चाहिए और उसके पास एलआईसी पॉलिसी होनी चाहिए। व्यक्ति की एलआईसी पॉलिसी में लोन की सुविधा होनी चाहिए। ग्राहक की एलआईसी पॉलिसी में सरेंडर वैल्यू होनी चाहिए, जिस पर लोन लिया जा सके। 

EMI चुकाने का झंझट नहीं 

एलआईसी पॉलिसी पर लिये गए लोन के रिपेमेंट को काफी आसान रखा गया है। ग्राहक को यह लोन चुकाने के लिए हर महीने ईएमआई भरने की जरूरत नहीं होती है। लोन की अवधि न्यूनतम छह महीने से लेकर इंश्योरेंस पॉलिसी की मैच्योरिटी तक हो सकती है। अगर कोई ग्राहक 6 महीने की न्यूनतम अवधि के भीतर लोन का निपटान करता है, तो उसे 6 महीने की पूरी अवधि के लिए ब्याज का भुगतान करना होता है। 

लोन चुकाने के मिलते हैं तीन विकल्प

आप एलआईसी पॉलिसी के बदले लोन लेकर अपना जरूरी काम कर सकते हैं। अच्छी बात यह है कि आपको लोन चुकाने के भी तीन विकल्प मिलते हैं। पहला तरीका आम लोन की तरह है यानि पूरे मूलधन को ब्याज के साथ चुकाए। दूसरा तरीका यह है कि बीमा पॉलिसी की मैच्योरिटी के समय क्लेम अमाउंट के साथ मूलधन का निपटान करे। ऐसे में अब आपको केवल ब्याज राशि चुकानी होगी। वहीं तीसरा तरीका यह है कि सालाना ब्याज राशि चुकाएं और मूल राशि को अलग तरीके से चुकाए।

LIC पॉलिसी पर लोन की ब्याज दरें

बैंक/ NBFC/ HFC ब्याज दर (%)
कोटक महिंद्रा बैंक  10.75% से शुरू
कोटक महिंद्रा बैंक  10.75% से शुरू 
LIC हाउसिंग फाइनेंस  14.80% से शुरू
एक्सिस बैंक  10.25% से शुरू  
बजाज फिनसर्व  13% से शुरू

LIC पॉलिसी लोन के लिए अप्लाई कैसे करें?

ऑफलाइन: LIC के नज़दीकी ऑफिस में जाएं और लागू KYC दस्तावेजों के साथ लोन एप्लीकेशन फॉर्म भरें और उसे ऑरिजनल पॉलिसी डॉक्युमेंट्स के साथ जमा करें। एप्लीकेशन की जानकारी वेरिफाइ हो जाने के बाद, पॉलिसी की सरेंडर वैल्यू की 90% तक की लोन राशि प्रदान की जाती है।

ऑनलाइन: अगर आपने LIC ई-सेवाओं के लिए रजिस्ट्रेशन किया है, तो आप अपने अकाउंट में ऑनलाइन लॉग-इन कर सकती हैं और साथ ही यह भी चेक कर सकती हैं कि आपकी बीमा पॉलिसी, LIC पॉलिसी के बदले लिए जाने वाले लोन को प्राप्त करने के लिए योग्य है या नहीं। यदि है, तो लोन की नियम और शर्तें, ब्याज दरें और अन्य विशेषताएँ आपको ऑनलाइन दिखाई जाएंगी। एप्लीकेशन सबमिट करने पर आपको KYC दस्तावेज़ों को ऑनलाइन अपलोड करना या नज़दीकी LIC ऑफिस में सबमिट कराना पड़ सकता है जिससे आप लोन एप्लीकेशन की प्रोसेसिंग शुरू हो सके ।

LIC eServices पर रजिस्ट्रेशन का Step By Step तरीका:

स्टेप 1: LIC ई-सेवा पोर्टल पर जाएं और “Don’t Have an account? Sign Up” विकल्प पर क्लिक करें

स्टेप 2: ऑनलाइन LIC सेवाओं के लिए साइन-अप करने के लिए ज़रूरी जानकारी दर्ज करें

स्टेप 3: “Proceed” पर क्लिक करने के बाद, आप अपनी पसंद का पासवर्ड तैयार करके रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को पूरा कर सकती हैं। आप अपने अकाउंट में लॉग-इन करने के लिए या तो एक यूज़र आईडी बनायें या फिर अपनी ईमेल/ मोबाइल का उपयोग करें।

Latest Business News