Sawan Somwar 2022: सावन का आखिरी सोमवार आज, महादेव को प्रसन्न करने के लिए करें ये खास पूजा

Sawan Somwar 2022: सावन के आखिरी सोमवार के मौके पर भगवान शिव को प्रसन्न करना बिल्कुल भी न भूलें। आज के दिन व्रत रखकर सच्चे मन रुद्राभिषेक करने से तमाम परेशानियों का निवारण होता है।

Sweety Gaur Written By: Sweety Gaur @sweety_gaur
Updated on: August 08, 2022 10:03 IST
Sawan Somwar 2022- India TV Hindi News
Image Source : INDIA TV Sawan Somwar 2022

Highlights

  • सावन का आखिरी सोमवार आज
  • जानिए महादेव की पूजा के लिए विधि-विधान

Sawan Somwar 2022: आज सावन का चौथा और आखिरी सोमवार है। सावन महादेव को काफी पसंद होता है। लेकिन अब ये खत्म होने को है। 12 अगस्त 2022 को सावन खत्म हो जाएंगे। ऐसे में आज का दिन बेहद खास है। सावन के आखिरी सोमवार के मौके पर भगवान शिव को प्रसन्न करना बिल्कुल भी न भूलें। आज के दिन व्रत रखकर सच्चे मन रुद्राभिषेक करने से तमाम परेशानियों का निवारण होता है।  सावन के आखिरी सोमवार बेहद खास है क्योंकि इस दिन कई संयोग बन रहे हैं। चलिए जानते हैं महादेव को प्रसन्न करने के लिए पूजा विधि और शुभ मुहूर्त ।

महादेव की पूजा के लिए विधि-विधान

  1. सावन के आखिरी सोमवार के दिन जल्दी उठकर स्नान करें और सूर्य देव को अर्घ्य दें। ऐसा करने से सभी तरह के रोगों से मुक्ति मिलती है।
  2. चौथे सोमवार का व्रत काफी फलदायी होता है। पूजा करने के स्थान को गंगाजल से शुद्ध कर लें और सबसे पहले भगवान गणेश, मां पार्वती और भगवान शंकर की पूजा करें। 
  3. व्रत रखने के बाद भगवान शिव के शिवलिंग का जलाभिषेक करें। ऐसा करने से महादेव प्रसन्न होते हैं। 
  4. शिव जी का पंचाक्षर मंत्र ऊं शिवायै’ नमः का जाप करते हुए भोलेनाथ संग मां पार्वती का षोडशोपचार पूजन करें।
  5.  दूध, दही, घी, शक्कर, पंचामृत, रोली, मौली, अक्षत, बेलपत्र, धतूर, शमी, भांग, भस्म, भौडल, चंदन, रुद्राक्ष, आंक के पुष्प आदि अर्पित करें।

Sawan Somwar
Image Source : PIXABAY
Sawan Somwar

Vastu Tips: जानिए मंदिर में किस तरह रखनी चाहिए भगवान की मूर्ति, भूलकर भी न करें ये गलती

आखिरी सावन का सोमवार शुभ मुहूर्त 

  • ब्रह्म मुहूर्त - 04.29 AM - 05.12 AM
  • अभिजित मुहूर्त - 12.06 PM - 12.59 PM
  • गोधूलि मुहूर्त - 06.57 PM - 07.21 PM

रवि योग - सुबह 05 बजकर 46 मिनट- दोपहर 02 बजकर 37 मिनट तक 

Chanakya Niti: ऐसे लोगों से दूरी बनाने में है आपकी भलाई, वरना तबाह हो जाएगा जीवन

 

पुत्रदा एकादशी 2022

  • श्रावण मास पुत्रदा एकादशी तिथि आरंभ- 7 अगस्त 2022, 11.50 PM
  • श्रावण मास पुत्रदा एकादशी तिथि समाप्त- 8 अगस्त 2022, 9:00 PM

 

navratri-2022