1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. Ravichandran Ashwin IND vs ENG: क्या बना रविचंद्रन अश्विन की जगह का दुश्मन?

Ravichandran Ashwin IND vs ENG: टीम बैलेंस या इंग्लैंड की कंडीशन, क्या बना रविचंद्रन अश्विन की जगह का दुश्मन?

रविचंद्रन अश्विन ने 86 टेस्ट मैचों में 442 विकेट अपने नाम किए। बल्लेबाजी में भी वह 5 शतक और 12 अर्धशतक के साथ 2931 रन बना चुके हैं।

Priyam Sinha Written By: Priyam Sinha @@PriyamSinha4
Published on: July 02, 2022 22:45 IST
रविचंद्रन अश्विन को...- India TV Hindi News
Image Source : INDIA TV रविचंद्रन अश्विन को इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की सीरीज में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला

Highlights

  • रविचंद्रन अश्विन के नाम टेस्ट क्रिकेट में 442 विकेट दर्ज
  • अश्विन भारत के लिए दूसरे सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाले खिलाड़ी
  • टेस्ट क्रिकेट में 5 शतक और 12 अर्धशतक भी लगा चुके हैं अश्विन

रविचंद्रन अश्विन भारत का वह गेंदबाज जो अनिल कुंबले के बाद टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट अपने नाम कर चुका है। महज 86 टेस्ट मैचों में 442 विकेट और 5 शतकों के साथ 2931 रन बनाने के बावजूद उनकी जगह टेस्ट टीम में स्थिर नहीं हो पा रही है। जी हां हम यह कह सकते हैं बिल्कुल स्थिर नहीं है। इंग्लैंड के खिलाफ पिछले साल खेले गए चार टेस्ट मैचों में वह अपनी बारी का इंतजार करते रहे। उम्मीद थी कि विराट कोहली और रवि शास्त्री के कार्यकाल में उन्हें जगह नहीं मिली शायद राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में अश्विन बर्मिंघम टेस्ट मैच खेलेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

आखिर क्या है जो टीम इंडिया की प्लेइंग 11 में अश्विन जैसे दिग्गज खिलाड़ी की जगह का दुश्मन बना हुआ है। क्यों टीम इंडिया के मौजूदा समय के बेस्ट स्पिनर को टीम में जगह नहीं मिल पा रही है। क्रिकेट पंडितों की इस पर अलग-अलग राय है। कोई कहता है कि रवींद्र जडेजा अपनी बल्लेबाजी से टीम को बेहतर बैलेंस देते हैं तो कोई कहता है कि अश्विन और जडेजा दोनों संग में ज्यादा घातक साबित हो सकते हैं। फिर इसके बाद यही सवाल उठता है...

टीम बैलेंस या इंग्लैंड की कंडीशन, क्या बनी अश्विन की दुश्मन?

रविंचंद्रन अश्विन इंग्लैंड के खिलाफ 87 टेस्ट विकेट ले चुके हैं। फिर भी उन्हें पिछले चार टेस्ट मैचों में इंग्लैंड सीरीज में मौका नहीं मिला। एक और खास बात अगर बर्मिंघम टेस्ट पर गौर करें तो बेन स्टोक्स इस इंग्लैंड टीम के कप्तान हैं और अश्विन उन्हें भी 11 बार टेस्ट क्रिकेट में आउट कर चुके हैं। वहीं इंग्लैंड के स्पिनर मोईन अली का भी मानना था कि अश्विन और जडेजा की जोड़ी एजबेस्टन में ज्यादा घातक साबित हो सकती थी। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने भी अश्विन को नहीं खिलाने पर सवाल उठाए थे।

अश्विन का टेस्ट क्रिकेट में बैटिंग और बॉलिंग रिकॉर्ड

Image Source : INDIA TV
अश्विन का टेस्ट क्रिकेट में बैटिंग और बॉलिंग रिकॉर्ड

ऐसे में कौन सही कौन गलत यह नहीं समझ आ रहा। सीरीज के पिछले चार मैच भारत ने विराट कोहली की कप्तानी और हेड कोच रवि शास्त्री के नेतृत्व में खेले थे। अश्विन  को नहीं खिलाने पर इस जोड़ी के ऊपर काफी सवाल उठे। अब उम्मीद थी राहुल द्रविड़ शायद कुछ नया करें लेकिन रोहित शर्मा की अनुपस्थिती में कप्तान बनाए गए जसप्रीत बुमराह ने भी अश्विन नहीं बल्कि चौथे तेज गेंदबाज के रूप में शार्दुल ठाकुर पर ज्यादा भरोसा जताया। इसके पीछे का कारण इंग्लैंड की कंडीशन थीं या फिर टीम बैलेंस ये तो कप्तान और कोच ही बता सकते हैं। 

भारत के टॉप-5 लीडिंग टेस्ट विकेट टेकर

  1. अनिल कुंबले- 619 विकेट (132 मैच)
  2. रविचंद्रन अश्विन- 442 विकेट (86 मैच)
  3. कपिल देव- 434 विकेट (131 मैच)
  4. हरभजन सिंह- 417 विकेट (103 मैच)
  5. इशांत शर्मा- 311 विकेट (105 मैच)

बुमराह की बल्लेबाजी देख सचिन को आई युवराज की याद, VIDEO में देखें कैसे ब्रॉड के ओवर में बनाए 35 रन

अश्विन का रिकॉर्ड बेहद शानदार

रविचंद्रन अश्विन से ऊपर रवींद्र जडेजा को तवज्जो देना उनकी बल्लेबाजी को बताया जाता है। जबकि जडेजा ने 60 मैचों में 3 टेस्ट शतक लगाए हैं और अश्विन भी 86 मैचों में 5 टेस्ट शतक लगा चुके हैं। विकेट के मामले में अश्विन 442 रवींद्र जडेजा 242 से 200 विकेट आगे हैं। तो रिकॉर्ड तो अश्विन के कहीं पर से कम नहीं हैं। ऐसे में एक जवाब यही खड़ा होता है कि टीम बैलेंस और इंग्लैंड की कंडीशन दोनों कहीं ना कहीं अश्विन की राह में रोड़ा बन रही हैं। शायद कप्तान चार तेज गेंदबाजों के साथ इंग्लैंड की सरजमीं पर उतरना चाहते थे तभी शार्दुल ठाकुर टीम बैलेंस के चलते एजबेस्टन में खेले और अश्विन बाहर हो गए।

Latest Cricket News

लाइव स्कोरकार्ड