1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. टेक
  4. न्यूज़
  5. क्या भारत में शाओमी का कोई गुप्त गोदाम है? जानें, क्या कहती है कंपनी

क्या भारत में शाओमी का कोई गुप्त गोदाम है? जानें, क्या कहती है कंपनी

क्या भारत में शाओमी का कोई ऐसा गुप्त गोदाम है जहां वह अपने फोन को डंप कर देती है...

IANS IANS
Published on: February 21, 2018 13:39 IST
Representational Image | Manu Kumar (Xiaomi India)- India TV
Representational Image | Manu Kumar (Xiaomi India)

नई दिल्ली: Xiaomi इंडिया के प्रबंध निदेशक और वैश्विक उपाध्यक्ष मनोज कुमार जैन ने कहा है कि शाओमी का भारत में कोई विशाल गुप्त गोदाम नहीं है, जहां हम बिना बिके हैंडसेट को ले जाकर फेंक देते हैं। उन्होंने कहा कि वास्तव में हमारे हैंडसेट की बिक्री किसी अन्य ब्रैंड की तुलना में कहीं अधिक तेजी से होती है। उन्होंने यह बात चीनी इलेक्ट्रॉनिक्स और सॉफ्टवेयर कंपनी शाओमी के भारत में विकास को लेकर कही। भारत में Xiaomi के कारोबार का विकास तेजी से हुआ है, खासतौर से पिछली दो तिमाहियों में इसने Samsung को नंबर एक की पोजिशन से हटा दिया है। इसने दक्षिण कोरियाई दिग्गज को चिंता में डाल दिया है, जो सालों से भारतीय बाजार में शीर्ष पर थी। सैमसंग ने वित्त वर्ष 2016-17 में भारतीय बाजार में कुल 34,300 करोड़ रुपये का कारोबार किया है।

सैमसंग का कहना है कि ‘बिक्री में बढ़ोतरी महत्वपूर्ण है, लेकिन इससे बाजार हिस्सेदारी का पता नहीं चलता है’। इस पर जैन ने कहा कि Xiaomi का वितरण नेटवर्क काफी चुस्त है और हम जो भी उत्पाद स्थानीय स्तर पर बनाते हैं, या जिन उत्पादों का आयात करते हैं, उनकी बिक्री तुरंत हो जाती है। जैन ने बताया, ‘हमारी बिक्री अन्य ब्रैंड्स की तुलना में काफी तेजी से हो रही है, जबतक कि मैं यहां कोई बड़ा-सा गुप्त गोदाम बनाऊं, जहां बिना बिके हैंडसेट को फेंकता जाऊं। हमारे पास एक हफ्ते की भी इंवेंट्री नहीं होती, जबकि अन्य ब्रैंड्स के पास दो-तीन महीनों की इंवेंट्री होती है। हमारे जो जनवरी के दूसरे हफ्ते का स्टॉक होता है, वह जनवरी के तीसरे हफ्ते तक बिक जाता है।’

वहीं, सैमंसग इंडिया के वैश्विक उपाध्यक्ष असीम वारसी ने उन खबरों को खारिज किया था, जिसमें कहा गया था कि सैमसंग की भारतीय बाजार में हिस्सेदारी घट रही है। वारसी ने बताया था, ‘जर्मनी की रिसर्च फर्म GFK की रिपोर्ट में कुल बिक्री की जानकारी दी गई है, जो बाजार हिस्सेदारी मापने का सबसे महत्वपूर्ण औजार है। हैंडसेट की बिक्री महत्वपूर्ण है, लेकिन वे अंतिम बाजार हिस्सेदारी की जानकारी नहीं देते।’ जैन के मुताबिक, Xiaomi इंटरनेशनल डेटा कॉरपोरेशन (IDC) की रिपोर्ट में भरोसा करती है, जो कुल बिक्री की जानकारी रखते हैं, चाहे वह ऑनलाइन हो या ऑफलाइन हो।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Tech News News in Hindi के लिए क्लिक करें टेक सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13