1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. चीन ने पाकिस्तान से कहा, अपने यहां रहने वाले हमारे नागरिकों को 'ढंग' का माहौल दो

चीन ने पाकिस्तान से कहा, अपने यहां रहने वाले हमारे नागरिकों को 'ढंग' का माहौल दो

पाकिस्तान में चल रही इन योजनाओं की धीमी रफ्तार को लेकर चीन के निवेशक कई बार चिंता जता चुके हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 17, 2021 20:51 IST
China, China Pakistan, China Pakistan CPEC Projects, China Pakistan CPEC- India TV Hindi
Image Source : AP चीन ने पाकिस्तान से हजारों चीनी नागरिकों के लिए अनुकूल माहौल मुहैया कराने को कहा है।

Highlights

  • चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा चीन की महत्वाकांक्षी BRI का एक अहम हिस्सा है।
  • CPEC के तहत संचालित हो रही योजनाओं में चीन के हजारों नागरिक पाकिस्तान में काम कर रहे हैं।
  • पाकिस्तान में चल रही योजनाओं की धीमी रफ्तार को लेकर चीन के निवेशक कई बार चिंता जता चुके हैं।

बीजिंग: चीन ने अपने करीबी सहयोगी पाकिस्तान से सीपीईसी परियोजनाओं में काम कर रहे हजारों चीनी नागरिकों के लिए अनुकूल माहौल मुहैया कराने को कहा है। चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (CPEC) चीन की महत्वाकांक्षी बेल्ट एवं रोड पहल (BRI) का एक अहम हिस्सा है। इसके माध्यम से चीन के शिनजियांग प्रांत को पाकिस्तान के ग्वादर बंदरगाह से जोड़ने की योजना है। CPEC के तहत संचालित हो रही विभिन्न योजनाओं में चीन के हजारों नागरिक पाकिस्तानी भूभाग में काम कर रहे हैं, और उन्हें इस देश में आतंकवाद समेत कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है।

चीन के निवेशक कई बार जता चुके हैं चिंता

पाकिस्तान में चल रही इन योजनाओं की धीमी रफ्तार को लेकर चीन के निवेशक कई बार चिंता जता चुके हैं। इस मसले पर गत सोमवार को पाकिस्तानी अधिकारियों ने चीनी कंपनियों के साथ एक बैठक कर उन्हें निवेश अवसरों की जानकारी दी थी। इस बारे में पूछे जाने पर चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन ने बीजिंग में एक प्रेस ब्रीफिंग में कहा, ‘हम उम्मीद करते हैं कि पाकिस्तान अधिक अनुकूल हालात मुहैया कराएगा और वहां पर सक्रिय चीनी कंपनियों के लिए कारोबार सुगम बनाएगी।’ हालांकि, उन्होंने इस बारे में विस्तार से कुछ नहीं कहा।

चीनी कर्मचारियों पर हो चुके हैं कई हमले
बता दें कि चीन पाकिस्तान में मौजूद अपने नागरिकों की सुरक्षा को लेकर भी आवाज उठाता रहा है। हाल के महीनों में चीनी कर्मचारियों पर कई हमले हो चुके हैं जिनमें कई लोगों की जान भी जा चुकी है। पिछले कुछ महीनों में बलूचिस्तान और कराची में चीनी नागरिकों को निशाना बनाने वाले आतंकी हमलों में वृद्धि हुई है, जो CPEC परियोजनाओं और निजी उद्यमों के लिए काम कर रहे हैं। बीती जुलाई में अशांत खैबर पख्तूनख्वा में हुए एक आतंकवादी हमले में 9 चीनी नागरिकों समेत कम से कम 13 लोग मारे गए थे।

bigg boss 15