1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. 1979 के बाद पहली बार ताइवान पहुंचे अमेरिकी स्वास्थ्य मंत्री ने की राष्ट्रपति साई से मुलाकात, भड़का चीन

1979 के बाद पहली बार ताइवान पहुंचे अमेरिकी स्वास्थ्य मंत्री ने की राष्ट्रपति साई से मुलाकात, भड़का चीन

अमेरिका के स्वास्थ्य एवं मानव सेवा मंत्री एलेक्स अज़र ने ताइवान की राष्ट्रपति साई इंग वेन से सोमवार को मुलाकात की। 1979 में ताइपे और वाशिंगटन के बीच औपचारिक कूटनीतिक संबंधों पर विराम लगने के बाद से अमेरिकी कैबिनेट के किसी अधिकारी का यह पहला उच्च स्तरीय दौरा है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: August 10, 2020 13:06 IST
US Health Secretary Alex Azar meets Taiwan President Tsai Ing-wen on breakthrough visit- India TV Hindi
Image Source : AP US Health Secretary Alex Azar meets Taiwan President Tsai Ing-wen on breakthrough visit

ताइपे: अमेरिका के स्वास्थ्य एवं मानव सेवा मंत्री एलेक्स अज़र ने ताइवान की राष्ट्रपति साई इंग वेन से सोमवार को मुलाकात की। 1979 में ताइपे और वाशिंगटन के बीच औपचारिक कूटनीतिक संबंधों पर विराम लगने के बाद से अमेरिकी कैबिनेट के किसी अधिकारी का यह पहला उच्च स्तरीय दौरा है।

राष्ट्रपति कार्यालय में साई ने पत्रकारों से कहा कि वह कोरोनो वायरस महामारी से निपटने और अन्य मुद्दों पर और अधिक सहयोग की उम्मीद करती हैं ताकि हिंद प्रशांत क्षेत्र में सतत शांतिपूर्ण विकास के लिए संयुक्त रूप से योगदान दे सकें। 

अज़र ने कोविड-19 से निपटने के ताइवान के कदमों की सराहना की ओर कहा कि इसकी सफलता ताइवान के समाज और संस्कृति की खुली, पारदर्शी एवं लोकतांत्रिक प्रवृत्ति को दर्शाती है। अज़र ने कहा, ‘‘राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की ओर से ताइवान के लिए मित्रता एवं मजबूत समर्थन का संदेश देने के लिए यहां आना मेरे लिए गर्व की बात है।’’

बीजिंग ने अज़र के इस दौरे की आलोचना करते हुए चीन के दावे वाले क्षेत्र से आधिकारिक संबंध ना रखने की अमेरिका की प्रतिबद्धता का उल्लंघन और विश्वासघात बताया। चीन के विरोध की परवाह न करते हुए अमेरिका ने अपने स्वास्थ्य मंत्री ऐजर को ताइवान भेजने का फैसला किया। 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X