1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. Pakistan Terrorist Attack: पाकिस्तान के बलूचिस्तान में आतंकियों ने चार मजदूरों को गोलियों से भूना

Pakistan Terrorist Attack: पाकिस्तान के बलूचिस्तान में आतंकियों ने चार मजदूरों को गोलियों से भूना

Pakistan Terrorist Attack: पाकिस्तान के सबसे अशांत क्षेत्र बलूचिस्तान में आतंकियों ने एक मजदूरों के शिविर पर हमला कर दिया। हमले में 4 मजदूरों की मौत हो गई जबकि 4 अन्य घायल हो गए। इस हमले की जिम्मेदारी अभी तक किसी आतंकवादी संगठन ने नहीं ली है। आतंकियों ने कैंप में आग भी लगा दी और कई वाहनों को भी आग के हवाले कर दिया।

Pankaj Yadav Written by: Pankaj Yadav @pan89168
Published on: June 18, 2022 16:51 IST
Terrorist- India TV Hindi
Image Source : ANI Terrorist

Highlights

  • आतंकियों ने 4 मजदूरों की गोली मारकर की हत्या
  • बलूचिस्तान के हरनाई जिले में हुआ था हमला
  • शिया हजारा समुदाय के मजदूर आतंकियों का टारगेट

Pakistan Terrorist Attack: पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के हरनाई जिले में अज्ञात आतंकवादियों ने मजदूरों के एक कैंप पर अंधाधुंध फायरिंग की। इस गोलीबारी में कम से कम चार मजदूरों की मौत हो गयी और चार लोग घायल हो गए। अधिकारियों ने बताया कि हरनाई जिले के चापर बाएं इलाके में शुक्रवार देर रात को यह हमला हुआ। सिबी डिवीजन के आयुक्त अब्दुल अजीज ने बताया कि हमले में तीन मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। लेकिन शवों और घायलों को क्वेटा ले जाने के लिए मौके पर पहुंचे बचाव अधिकारियों ने कहा कि कम से कम चार मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई और चार अन्य घायल हो गए। अजीज ने कहा कि हमलावरों ने शिविर में आग भी लगा दी और कई वाहनों को भी आग के हवाले कर दिया। मजदूर एक सरकारी निर्माण परियोजना में काम कर रहे थे। इस हमले की जिम्मेदारी अब तक किसी आतंकवादी संगठन ने नहीं ली है।

लगातार होते रहे हैं मजदूरों पर हमले

इससे पहले बलूचिस्तान में अलगाववादी और आतंकवादी संगठन प्रांत में सरकारी और चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर प्रजेक्ट में काम करने वाले मजदूरों को निशाना बनाते रहे हैं। मई 2017 में मोटरसाइकिल सवार हथियारबंद लोगों ने ग्वादर में एक सड़क पर काम कर रहे मजदूरों पर गोलीबारी की थी, जिनमें से 10 की मौके पर ही मौत हो गई थी। 

इसी तरह, 2018 में एक निजी दूरसंचार कंपनी के लिए काम कर रहे छह मजदूरों की खारान जिले में अज्ञात लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद, 2021 की शुरुआत में इस्लामिक स्टेट समूह ने बलूचिस्तान के मच इलाके में 11 कोयला खनिकों की हत्या की जिम्मेदारी ली। आतंकवादियों ने पहले शिया हजारा समुदाय के सभी मजदूरों को एक कोयला खदान से अगवा किया और फिर पश्चिमी पाकिस्तानी प्रांत बलूचिस्तान में उनकी हत्या कर दी।