Friday, April 19, 2024
Advertisement

पुतिन के एक और दुश्मन की मौत से अन्य विद्रोहियों में भी मची खलबली, जेल में बंद थे राष्ट्रपति के आलोचक एलेक्सी नवलनी

रूस की निजी सेना वैगनर आर्मी चीफ येवगिनी प्रिगोझिन की मौत के बाद पुतिन के एक और बड़े दुश्मन की मौत हो जाने से खलबली मच गई है। रूसी राष्ट्रपति पुतिन के प्रखर आलोचक एलेक्सी नवलनी कई वर्षों से जेल में बंद थे। अब अचानक उनकी मौत की खबर सामने आ रही है। यह घटना ऐसे वक्त में हुई है, जब रूस-यूक्रेन युद्ध के 2 वर्ष होने को हैं।

Dharmendra Kumar Mishra Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: February 16, 2024 17:32 IST
रूसी नेता, एलेक्सी नवलनी (फाइल)- India TV Hindi
Image Source : REUTERS रूसी नेता, एलेक्सी नवलनी (फाइल)

रूसी राष्ट्रपति पुतिन के दुश्मनों पर लगातार मौत कहर बरपा रही है। किसी न किसी बहाने पुतिन के दुश्मनों का सफाया हो रहा है। ताजा घटना में पुतिन के प्रखर आलोचक और दुश्मन रूसी नेता एलेक्सी नवलनी की मौत होने की खबर सामने आ रही है। व्लादिमीर पुतिन के आलोचक रूसी नेता एलेक्सी नवलनी जेल में बंद थे। मगर अब उनकी की मौत की खबरों ने अन्य पुतिन विद्रोहियों को भी दहशत में डाल दिया है। 

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार, जेल में बंद रूसी विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी की मौत हो गई है। वह रूस की यमालो-नेनेट्स क्षेत्र की जेल सेवा में अपनी सजा काट रहे थे। हालांकि मौत की वजह पता नहीं चल सकी है। जेल सेवा ने कहा है कि रूसी विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी की जेल में मौत हो गई है, जिसे व्लादिमीर पुतिन के कारण राजनीतिक हत्या के रूप में देखा जा सकता है। 

19 साल की सजा काट रहे थे एलेक्सी नवलनी

पुतिन के सबसे प्रमुख और लगातार आलोचकों में से एक 47 वर्षीय नवलनी को आर्कटिक सर्कल के उत्तर में लगभग 40 मील दूर एक जेल में रखा गया था, जहां उन्हें एक "विशेष शासन" के तहत 19 साल की सजा सुनाई गई थी। जनवरी में जेल से नवलनी का एक वीडियो भी सामने आया था, जिसमें वह अपना सिर मुंडवाए हुए दुबले-पतले दिखाई दे रहे थे। रूसी राष्ट्रपति के कार्यालय क्रेमलिन ने कहा कि उन्हें मौत के कारण के बारे में कोई जानकारी नहीं है। बता दें कि दिसंबर की शुरुआत में वह व्लादिमीर क्षेत्र की एक जेल से गायब हो गया था, जहां वह चरमपंथ और धोखाधड़ी के आरोपों में 30 साल की सजा काट रहा था। नवलनी की इस मौत को वर्ष 2010 में नवलनी द्वारा क्रेमलिन विरोधी आंदोलन का नेतृत्व करने के लिए राजनीतिक प्रतिशोध कहा जा रहा है। क्योंकि नवलनी को पुतिन के जीवनकाल में रिहा होने की उम्मीद कभी नहीं थी।

2020 में नवलनी को जहर देकर भी हो चुकी थी मारने की कोशिश

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के कट्टर आलोचक को एलेक्सी नवलनी को वर्ष 2020 में  नर्व एजेंट से जहर दिया गया था। इस दौरान भी कथित तौर पर उनही हत्या की कोशिश की गई थी, लेकिन एलेक्सी बच गए थे। संघीय जेल सेवा ने एक बयान में कहा कि एलेक्सी नवलनी को शुक्रवार को टहलने के बाद अस्वस्थता महसूस हुई और वह बेहोश हो गए। बता दें कि नवलनी भ्रष्टाचार विरोधी कार्यकर्ता और क्रेमलिन के घोर आलोचक थे, जो राजनीतिक सुधार और पारदर्शिता के प्रति अपनी अटूट प्रतिबद्धता के लिए जाने जाते थे। अपनी सुरक्षा के लिए कई बाधाओं और खतरों का सामना करने के बावजूद नवलनी रूस में लोकतंत्र के लिए एक अग्रणी आवाज बनकर उभरे थे।

कैसे हुई एलेक्सी की मौत

जेल की ओर से जारी बयान के अनुसार "16 फरवरी, 2024 को दंड कॉलोनी नंबर 3 में, दोषी एलेक्सी नवलनी को टहलने के बाद अस्वस्थ महसूस हुआ। इसके बाद वह लगभग तुरंत ही बेहोश हो गया। संस्था का मेडिकल स्टाफ तुरंत पहुंचा और एक एम्बुलेंस टीम को बुलाया गया। पुनर्जीवन के सभी आवश्यक उपाय किए गए, जिसके सकारात्मक परिणाम नहीं मिले। एंबुलेंस के डॉक्टरों ने वहीं पर एलेक्सी को मृत घोषित कर दिया। मौत के कारणों का पता लगाया जा रहा है।”

यह भी पढ़ें

पैसे के लिए अपने प्रिय दोस्त की हत्या करने वाली "कैटफिश" महिला को कोर्ट ने दी 99 साल की सजा, जानें पूरा मामला

जेल में अचानक बिगड़ी इमरान खान की पत्नी बुशरा बीबी की हालत, ये पदार्थ खिलाने का आरोप

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement