Friday, May 17, 2024
Advertisement

डायबिटीज को कंट्रोल करने का दम रखते हैं ये पौधे, आयुर्वेद में कहा जाता है शुगर नाशक

डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जिसे आप डाइट और लाइफस्टाइल में बदलाव करके कंट्रोल कर सकते हैं। आयुर्वेद में ऐसे कई पौधे और पत्तों के बारे में बताया गया है जो शुगर को कंट्रोल करने में मदद करते हैं। जानिए शुगर के कम करने का आयुर्वेदिक तरीका क्या है?

Bharti Singh Written By: Bharti Singh
Updated on: April 10, 2024 11:54 IST
डायबिटीज को कैसे कंट्रोल करें- India TV Hindi
Image Source : FREEPIK डायबिटीज को कैसे कंट्रोल करें

डायबिटीज (diabetes) के मरीजों की संख्या दुनियाभर में तेजी से बढ़ रही है। हालांकि ये ऐसी लाइफस्टाइल डिजीज है जिसे आप डाइट और लाइफस्टाइल में बदलाव कर आसानी से कंट्रोल कर सकते हैं। आयुर्वेद में कई जड़ी बूटियों से शुगर को कंट्रोल करने का दावा किया गया है। वहीं स्वामी रामदेव के मुताबिक ऐसे कई पौधे और उनकी पत्तियां हैं जो डायबिटीज को खत्म करने का दम रखती हैं। इन पौधों को एंटी डायबिटिक (Antidiabetic) कहा जाता है। आइये जानते हैं शुगर को कंट्रोल करने वाले पौधे और कौन से पत्ते होते हैं?

डायबिटीज को कंट्रोल करने वाले पौधे और पत्ते

इंसुलिन प्लांट (Insulin Plant)- इंसुलिन प्लांट को डायबिटीज कंट्रोल करने में बेहद असरदार माना जाता है। इसे मेडिकल भाषा में कोक्टस इग्नस (costus igneus) कहते हैं। इस पौधे की पत्तियां खाने से इंसुलिन के प्रोडक्शन में बढ़ोत्तरी होती है। इंसुलिन प्लांट के पत्ते शरीर में ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में मदद करते हैं। आप पत्तों को चबाकर खा सकते हैं या फिर छाया में सुखाकर पाउडर बना लें और इस पाइडर को पानी के साथ खा लें। इससे शुगर लेवल कम करने में मदद मिलेगी।

एलोवेरा (Aloe Vera)- एलोवेरा के चमत्कारी गुणों के बारे में तो आपको पता ही होगा। पेट को स्वस्थ रखने, स्किन को ग्लोइंग बनाने और बालों को शाइन और सिल्की बनाने में एलोवेरा मदद करता है। कई तरह की स्किन एलर्जी और सनबर्न में भी एलोवेरा काम आता है। एलोवेरा का इस्तेमाल शुगर को कंट्रोल करने के लिए भी किया जाता है। एलोवेरा जूस डायबिटीज को कम करने में असरदार साबित है। वहीं डायबिटीज के कारक मोटापा और सूजन को कम करता है।

शुगर का पौधा (Stevia plant)- स्टीविया को शुगर का पौधा भी कहा जाता है। इसमें स्टीविओल ग्लाइकोसाइड्स नामक यौगिक पाए जाते हैं जो चीनी से करीब 150-300 गुना ज्यादा मीठे होते हैं। स्टीविया में कैलोरी इतनी कम होती है कि इसे जीरो कैलोरी प्लांट भी कहते हैं। डायबिटीज के मरीज के लिए स्टीविया के पत्ते फायदेमंद साबित होते हैं। इन पत्तों को खाली पेट चबाने से शुगर स्पाइक को कम किया जा सकता है। स्टीविया मोटापा कम करने में भी मदद करता है। इसे नेचुरल स्वीटर के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है।

 

(ये आर्टिकल सामान्य जानकारी के लिए है, किसी भी उपाय को अपनाने से पहले डॉक्टर से परामर्श अवश्य लें)

Latest Health News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement