1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. आने वाले दिनों में लुढ़क सकता है पारा! जानिए IMD ने मौसम को लेकर जताया क्या अनुमान

आने वाले दिनों में लुढ़क सकता है पारा! जानिए IMD ने मौसम को लेकर जताया क्या अनुमान

IMD के अधिकारियों ने कहा कि मंगलवार तक तापमान चार डिग्री सेल्सियस तक गिरने का अनुमान है क्योंकि हिमाच्छादित पश्चिमी हिमालय से मैदानी इलाकों की ओर बर्फीली हवाएं चलनी शुरू हो गई हैं। दिल्ली में अगले चार दिन मामूली से लेकर घना कोहरा छाए रहने का पूर्वानुमान है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 24, 2021 12:21 IST
IMD weather forecast minimum temperature new delhi jammu kashmir ladakh आने वाले दिनों में लुढ़क सकत- India TV Hindi
Image Source : PTI आने वाले दिनों में लुढ़क सकता है पारा! जानिए IMD ने मौसम को लेकर जताया क्या अनुमान

नई दिल्ली. रविवार को देश की राजधानी नई दिल्ली में घने कोहरे की चादर छाई रही और दृश्यता कम होकर 100 मीटर हो जाने से यातायात प्रभावित रहा। घने कोहरे की वजह से सफदरजंग में दृश्यता घटकर 200 मीटर और पालम में 100 मीटर रह गई। अगले कुछ दिनों के लिए मौसम का अनुमान जताते हुए भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा कि दिल्ली में अगले चार दिन मामूली से लेकर घना कोहरा छाए रहने का पूर्वानुमान है।

पढ़ें- भाजपा ने बंगाल में जय श्रीराम नारे के चक्रव्यूह में ममता को फिर उलझाया?

IMD के अधिकारियों ने कहा कि मंगलवार तक तापमान चार डिग्री सेल्सियस तक गिरने का अनुमान है क्योंकि हिमाच्छादित पश्चिमी हिमालय से मैदानी इलाकों की ओर बर्फीली हवाएं चलनी शुरू हो गई हैं। दिल्ली में अगले चार दिन मामूली से लेकर घना कोहरा छाए रहने का पूर्वानुमान है।

पढ़ें- पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की 3300 मीटर लंबी एयर स्ट्रिप का काम पूरा, जल्द जहाज उतारेगी भारतीय वायुसेना

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के मौसम में सुधार

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बीते दिनों बारिश और बर्फबारी होने के चलते सड़क व वायु मार्ग पर यातायात सेवाएं बाधित रहीं, लेकिन रविवार को यहां के मौसम में सुधार देखने को मिल रहा है। मौसम विभाग ने अनुमान लगाया था कि रविवार से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के मौसम में सुधार देखने को मिलेगी और साथ ही 31 जनवरी तक मौसम के शुष्क बने रहने की भी भविष्यवाणी की थी।

पढ़ें- रात के अंधेरे में दिल्ली की सड़क पर सुनाई दिए 'पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे', चौंक गए सभी लोग

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि रविवार सुबह से मौसम में सुधार दिख रहा है। 31 जनवरी तक यहां मौसम के शुष्क रहने की संभावना जताई जा रही है। उम्मीद है कि इस दौरान बारिश और बर्फबारी नहीं होगी। यहां 'चिलाई कलां' 31 जनवरी को खत्म होगी। यह हाड़ कंपाने वाली ठंड की एक स्थिति है, जिसकी अवधि 40 दिनों तक की होती है। यहां के स्थानीय लोग इसे इसी नाम से पुकारते हैं।

पढ़ें- Tractor Rally: 'पुलिस की इजाजत से कोई फर्क नहीं पड़ता, किसान निकालकर ही रहेंगे ट्रैक्टर रैली'

रविवार को यहां कड़ाके की ठंड पड़ने से घाटी में सड़क पर पैदल और वाहनों से चलने वाले लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। हालांकि, दिन चढ़ने के साथ-साथ स्थिति के सुधरने की आशंका है। श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 1.9 डिग्री नीचे दर्ज किया गया, जिससे कि लोगों को कुछ हद तक आराम है क्योंकि बीते हफ्ते यहां का तापमान शून्य से 8.4 डिग्री सेल्सियस नीचे था।

पढ़ें- भारतीय रेलवे ने आज फिर किया कई स्पेशल ट्रेनों का ऐलान, देखिए पूरी लिस्ट

रात के वक्त पहलगाम और गुलमर्ग में तापमान क्रमश: शून्य से 12.0 और 11.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। लद्दाख के लेह शहर में इस वक्त न्यूनतम तापमान शून्य से 6.1 डिग्री नीचे और द्रास में शून्य से 24.5 डिग्री नीचे बना हुआ है। जबकि कारगिल के न्यूनतम तापमान की जानकारी इस वक्त उपलब्ध नहीं है। इनके अलावा, जम्मू, कटरा में तापमान क्रमश: 7.0 और 5.5 डिग्री सेल्सियस है। बटोत में यह शून्य से 1.0 डिग्री नीचे, बनिहाल में शून्य से 1.6 डिग्री नीचे और भदेरवाह में न्यूनतम तापमान शून्य से 2.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया है। (Bhasha & IANS)

पढ़ें- Galwan ke Sher: क्या आपने देखी गलवान के शेर? देश के रखवालों पर होगा फक्र

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment