1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Galwan ke Sher: क्या आपने देखी गलवान के शेर? देश के रखवालों पर होगा फक्र

Galwan ke Sher: क्या आपने देखी गलवान के शेर? देश के रखवालों पर होगा फक्र

गलवान में भारतीय सैनिकों द्वारा चीन को दिए गए जवाब की पूरी दुनिया ने तारीफ की थी। गलवान में बुरी तरह पिटने के बाद चीन पूरी तरह से भौचक्का रह गया, हमेशा शांति की बात करने वाली भारतीय सेना इस तरह से पलटकर वार करेगी और पूरी दुनिया के सामने उसे बेनकाब करे देगी ये चीन ने सोचा भी न था।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 24, 2021 9:06 IST

नई दिल्ली. भारत और चीन के बीच अभी भी तनातनी जारी है। दोनों देशों की सेनाएं पिछले मई-जून से एक दूसरे के सामने खड़ी हुई हैं। साल 2020 में LAC पर चीन की तरफ से गलवान में यथास्थिति बदलने की चीन द्वारा की गई कोशिश पर भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवान दिया था। भारतीय सेना ने गलवान में चीन के 40 से ज्यादा जवानों को मार दिया था। इस हिंसक झड़प में भारतीय सेना के 20 जवान भी शहीद हुए थे। भारतीय सेना द्वारा गलवान में शहीद हुए सेना के जवानों को सलाम करता एक वीडियो अपने You Tube Channel पर अपलोड किया गया है। इस वीडियो में गायक कैलाश खेर ने भारतीय सेना के वीर जवानों के बलिदान के बारे में बताया है।

पढ़ें- India China Tension: सेना प्रमुख बोले- गलवान में दिया था मुंहतोड़ जवाब, हमारे धैर्य की परीक्षा लेने की गलती न करें

गलवान में भारतीय सैनिकों द्वारा चीन को दिए गए जवाब की पूरी दुनिया ने तारीफ की थी। गलवान में बुरी तरह पिटने के बाद चीन पूरी तरह से भौचक्का रह गया, हमेशा शांति की  बात करने वाली भारतीय सेना इस तरह से पलटकर वार करेगी और पूरी दुनिया के सामने उसे बेनकाब करे देगी ये चीन ने सोचा भी न था। लद्दाख के गलवान में चीन को पीटने के बाद भारतीय सेना ने कई ऊंची चोटियों पर भी कब्जा कर लिया था। बता दें कि 15 जून 2020 की रात कई घंटों तक गलवान घाटी में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प हुई थी, जिसमें भारतीय थलसेना के एक कर्नल सहित 20 कर्मी शहीद हो गए थे। इस घटना के कारण सीमा पर तनाव काफी बढ़ गया। भारत ने इसे चीन द्वारा की गई सुनियोजित कार्रवाई बताया। चीनी सैनिकों ने पत्थर, कील लगे डंडे और सरिया से भारतीय सैनिकों पर नृशंस हमला किया था। 

पढ़ें- India China Tension: तवांग में ITBP ने की 'अद्भुत' तैयारी, चीन को छोटी सी हिमाकत पड़ेगी बहुत भारी

गलवान घाटी के 20 नायकों के नाम राष्ट्रीय समर स्मारक पर अंकित

गलवान घाटी में चीनी सैनिकों से बहादुरी से लड़ते हुए शहीद हुए 20 भारतीय सैन्य कर्मियों के नाम गणतंत्र दिवस के पहले राष्ट्रीय समर स्मारक पर अंकित किए गए हैं। गलवान घाटी में 16वीं बिहार रेजिमेंट के कमांडिंग अधिकारी संतोष बाबू समेत 20 भारतीय सैन्यकर्मी 15 जून को चीनी सैनिकों के साथ झड़प में शहीद हो गए थे। दोनों देशों की सेनाओं के बीच दशकों में यह सबसे बड़ा टकराव हुआ था। भारतीय सेना ने लद्दाख इलाके में करीब 50,000 सैनिकों की तैनाती कर रखी है। दोनों पक्षों के बीच गतिरोध को सुलझाने के लिए कई दौर की बातचीत के बावजूद अब तक कोई ठोस समाधान नहीं निकल पाया है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment