1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. प्रज्ञा ठाकुर को आतंकी कहने वाले राहुल गांधी के बयान को विशेषाधिकार समिति में भेज सकते हैं स्पीकर: सूत्र

प्रज्ञा ठाकुर को आतंकी कहने वाले राहुल गांधी के बयान को विशेषाधिकार समिति में भेज सकते हैं स्पीकर: सूत्र

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को लेकर उन्हें आतंकी कहने का जो बयान दिया था उसे लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला संसद की विशेषाधिकार समिति में भेज सकते हैं

Devendra Parashar Devendra Parashar @DParashar17
Updated on: December 02, 2019 19:14 IST
Pragya Thakur's complaint against Rahul Gandhi may be sent to privilege committee- India TV Hindi
Image Source : PRAGYA THAKUR TWITTER Pragya Thakur's complaint against Rahul Gandhi may be sent to privilege committee

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को लेकर उन्हें आतंकी कहने का जो बयान दिया था उसे लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला संसद की विशेषाधिकार समिति में भेज सकते हैं, इंडिया टीवी को सूत्रों से यह जानकारी मिली है। प्रज्ञा ठाकुर ने लोकसभा अध्यक्ष से राहुल गांधी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। राहुल गांधी ने प्रज्ञा ठाकुर के गोडसे वाले बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया था कि ‘‘आतंकी प्रज्ञा आतंकी गोडसे को देशभक्त बता रही हैं, भारत की संसद में यह एक दुखद दिन है।’’

सूत्रों ने कहा कि किसी सांसद को अदालत में दोषी साबित नहीं होने पर भी आतंकवादी करार देना ‘गंभीर’ मामला है और इस पर समिति में विचार-विमर्श की जरूरत है। पिछले सप्ताह लोकसभा में प्रज्ञा सिंह ठाकुर के एक बयान के बाद विवाद शुरू हो गया था और अगले दिन कांग्रेस सदस्य राहुल गांधी ने ट्वीट कर प्रज्ञा को ‘आतंकवादी’ कहा था। इसके बाद प्रज्ञा ने राहुल के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया था।

भोपाल से भाजपा सदस्य प्रज्ञा ने अपने बयान पर लोकसभा में माफी मांगी थी और यह भी कहा था कि उनके खिलाफ अदालत में कोई अपराध साबित नहीं हुआ है उसके बाद भी कांग्रेस नेता ने उन्हें आतंकवादी कहकर एक सांसद के नाते उनके विशेषाधिकारों का हनन किया है। प्रज्ञा सिंह ठाकुर मालेगांव विस्फोट मामले में आरोपी हैं। उन्हें कुछ धाराओं के तहत बरी कर दिया गया है लेकिन कुछ अन्य आरोपों में उन पर मुकदमा चल रहा है। अगर लोकसभा अध्यक्ष मामले को विशेषाधिकार समिति को भेजते हैं तो गांधी को उनका पक्ष रखने के लिए बुलाया जा सकता है जिसके बाद समिति निर्णय लेगी 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment