1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. पीएम ने की आंदोलन खत्म करने की अपील, MSP पर दिलाया विश्वास, टिकैत बोले- MSP पर बने कानून

पीएम ने की आंदोलन खत्म करने की अपील, MSP पर दिलाया विश्वास, टिकैत बोले- MSP पर बने कानून

राकेश टिकैत ने कहा कि MSP पर क़ानून बने यह किसानों के लिए फायदेमंद होगा। देश में भूख से व्यापार करने वालों को बाहर निकाला जाएगा। देश में अनाज की कीमत भूख से तय नहीं होगी। प्रधानमंत्री को अपील करनी चाहिए कि विधायक और सांसद अपनी पेंशन छोड़े उसके लिए यह मोर्चा धन्यवाद करेगा।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 08, 2021 14:53 IST

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण का जवाब दिया। इस दौरान उन्होंने कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों से आंदोलन खत्म करने का निवेदन किया। पीएम मोदी ने किसानों को विश्वास दिलाते हुए कहा कि एमएसपी खत्म नहीं होने वाली है और मंडिया पहले से कहीं ज्यादा आधुनिक बनेंगी। पीएम मोदी के इस बयान के बाद गाजीपुर बॉर्डर पर कृषि कानूनों का विरोध रहे किसान नेता राकेश टिकैत का भी बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि MSP पर क़ानून बने यह किसानों के लिए फायदेमंद होगा। देश में भूख से व्यापार करने वालों को बाहर निकाला जाएगा। देश में अनाज की कीमत भूख से तय नहीं होगी। प्रधानमंत्री को अपील करनी चाहिए कि विधायक और सांसद अपनी पेंशन छोड़े उसके लिए यह मोर्चा धन्यवाद करेगा।

पढ़ें- प्रधानमंत्री बोले- देश को हर सिख पर गर्व, उन्होंने देश के लिए क्या नहीं किया

MSP है, थी और रहेगी- पीएम

प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव की चर्चा का जवाब देते हुए कहा, मैं सदन को विश्वास दिलाता हूं कि मंडियां और आधुनिक होंगी। एमएसपी थी, है और रहेगी। 80 करोड़ से अधिक लोगों को सस्ते में राशन मिलता रहेगा। हमारे कृषि मंत्री ने बहुत अच्छे ढंग से चर्चा की है। प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्ष को संबोधित करते हुए कहा कि मेहरबानी कर देश में भ्रम न फैलाएं। हमें तय करना होगा कि हम समस्या का हिस्सा बनना चाहते हैं कि समाधान का हिस्सा बनने चाहते हैं। समस्या का हिस्सा बनने पर राजनीति तो चल जाएगी, लेकिन समाधान का माध्यम बनते हैं तो राष्ट्रनीति को चार चांद लग जाता है। हम नीतियों को भी बदलेंगे और परिणाम भी प्राप्त कर सकेंगे।

पढ़ें- चमोली में पुल टूटने से अलग हो गए 13 गांव, बचाव कार्य जारी, पहुंचाई जा रही है राहत सामग्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलनरत किसानों से अपना आंदोलन समाप्त कर कृषि सुधारों को एक मौका देने का आग्रह करते हुए कहा कि यह समय खेती को ‘‘खुशहाल’’ बनाने का है और देश को इस दिशा में आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि जब देश में हरित क्रांति आई थी उस समय भी कृषि क्षेत्र में किए गए सुधारों का विरोध हुआ था। उन्होंने कहा, ‘‘हम आंदोलन से जुड़े लोगों से लगातार प्रार्थना करते हैं कि आंदोलन करना आपका हक है, लेकिन बुजुर्ग भी वहां बैठे हैं। उनको ले जाइए, आंदोलन खत्म करिए। यह, खेती को खुशहाल बनाने के लिए फैसले लेने का समय है और इस समय को हमें नहीं गंवाना चाहिए। हमें आगे बढ़ना चाहिए, देश को पीछे नहीं ले जाना चाहिए।’’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment