1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Corona Second Wave: ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्यों में बंद होगी रेल सेवा? जानिए रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने क्या कहा

Corona Second Wave: ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्यों में बंद होगी रेल सेवा? जानिए रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने क्या कहा

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच लोगों में ट्रेनों के संचालन को लेकर लगातार बन रही ऊहापोह की स्थिति को साफ कर दिया है। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 16, 2021 16:31 IST
 ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्यों में बंद होगी रेल सेवा? जानिए रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने क्या कहा - India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO  ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्यों में बंद होगी रेल सेवा? जानिए रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने क्या कहा 

नयी दिल्ली। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच लोगों में ट्रेनों के संचालन को लेकर लगातार बन रही ऊहापोह की स्थिति को साफ कर दिया है। रेलवे ने कोरोना प्रभावित राज्यों में ट्रेनों के संचालन को लेकर जानकारी दी है। रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष सुनीत शर्मा ने शुक्रवार को कहा कि अभी तक किसी भी राज्य ने ट्रेन सेवा बंद करने का अनुरोध नहीं किया है। उन्होंने कहा कि जहां भी राज्यों ने निषिद्ध क्षेत्रों को लेकर चिंता जतायी है वहां यात्रियों की रैंडम जांच और गंतव्य पर पहुंचने पर जांच की जा रही है। 

शर्मा ने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि रेलवे ने इंगित किया है कि आईआरसीटीसी की टिकट बुक करने वाली वेबसाइट पर दिए गए प्रोटोकॉल का सभी राज्य पालन कर रहे हैं, वेबसाइट पर बताया जा रहा है कि यात्री को किन क्षेत्रों में जाने से पहले आरटी-पीसीआर जांच करवाने या कोविड-19 नेगेटिव प्रमाणपत्र लेने की जरुरत है, या फिर कहां पहुंचने पर उन्हें जांच प्रक्रिया से गुजरना होगा। 

उन्होंने कहा, ‘‘अभी तक किसी भी राज्य की सरकार ने ट्रेनों का संचालन बंद करने को नहीं कहा है। लेकिन जहां भी चिंता की बात है, राज्य सरकारों ने मुद्दे को लेकर हमसे चर्चा की है और जहां भी निषिद्ध क्षेत्र हैं वहां रैंडम जांच किए जा रहे हैं। रेलवे ने ई-टिकट कराने की वेबसाइट पर सारी जानकारी दी हुई है और यात्रियों को सूचना दी जा रही है कि गंतव्य पर पहुंचने पर उन्हें जांच करवानी होगी या फिर कोविड-19 प्रमाणपत्र लेकर जाना होगा।’’ 

शर्मा ने यह भी कहा कि रेलवे यात्रियों की थर्मल स्कैनिंग कर रहा है और कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत जुर्माने की राशि भी अधिसूचित कर दी है। उन्होंने श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाने की संभावना से इंकार कर दिया और कहा कि मांग और जरुरत के मुताबिक ट्रेनें चलायी जाएंगी। शर्मा ने यह भी कहा कि स्टेशनों पर भीड़ रोकने के लक्ष्य से प्लेटफॉर्म टिकट का मूल्य बढ़ा दिया गया है। कोविड केयर सेंटर के रूप में इस्तेमाल होने वाले परिवर्तित डिब्बों के बारे में सवाल करने पर शर्मा ने कहा, ‘‘देश में विभिन्न जगहों पर हमारे पास 4,000 आइसोलेशन कोच (बोगी) हैं। हमें महाराष्ट्र के नांदरबार से 100 से ज्यादा बोगियों की मांग आयी है और 20 आइसोलेशन कोच मुहैया कराए गए हैं।’’ 

शर्मा ने कहा कि रेलवे मुंबई, गुजरात, कर्नाटक और जहां भी मांग ज्यादा है, वहां सभी स्टेशनों पर करीब से नजर रखे हुए है और जोनल महाप्रबंधकों को अतिरिक्त ट्रेनें चलाने का अधिकार दिया गया है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं आपको आश्वासन देता हूं कि सेवा में कोई कमी नहीं है, हालात सामान्य हैं, खास तौर से मुंबई, सूरत और बेंगलुरु में।’’ भारतीय रेल औसतन एक दिन में 1,490 मालगाड़ियों और एक्सप्रेस ट्रेनों तथा 5,397 उपनगरीय ट्रेन सेवाओं का संचालन करती है।

शर्मा ने कहा, ‘‘हम ज्यादा लोकप्रियता वाली ट्रेनों के 28 क्लोन ट्रेनें और 947 यात्री ट्रेनों का संचालन भी कर रहे हैं।’’ उन्होंने बताया कि करीब 70 प्रतिशत ट्रेन सेवा बहाल हो गयी है। उन्होंने कहा, ‘‘देश भर में अतिरिक्त भीड़ कम करने के लिहाज से रेलवे 140 अतिरिक्त ट्रेनों का भी संचालन कर रही है।’’ 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X