1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. उमा भारती ने BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखा पत्र, खुद को बताया पार्टी की रिजर्व फोर्स

उमा भारती ने BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखा पत्र, खुद को बताया पार्टी की रिजर्व फोर्स

बीजेपी की वरिष्ठ नेत्री और पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने भाजपा अध्यक्ष जे.पी. नड्डा को पत्र लिखा है। उमा भारती ने नड्डा को लिखे पत्र में कहा है कि 'मैं तो भाजपा की रिजर्व फोर्स हूं जरूरत पड़ने पर हमेशा काम आऊंगी।'

Devendra Parashar Devendra Parashar @DParashar17
Updated on: September 28, 2020 18:40 IST
मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती- India TV Hindi
Image Source : PTI मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती

नई दिल्ली। बीजेपी की वरिष्ठ नेत्री और पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने भाजपा अध्यक्ष जे.पी. नड्डा को पत्र लिखा है। उमा भारती ने जे.पी. नड्डा को लिखे पत्र में कहा है कि 'मैं तो भाजपा की रिजर्व फोर्स हूं जरूरत पड़ने पर हमेशा काम आऊंगी।' साथ ही 30 सितंबर को अयोध्या बाबरी मस्जिद मामले में कोर्ट में पेश होना चाहती हैं।

उमा भारती ने जेपी नड्डा को लिखे पत्र में कहा है कि 30 सितंबर को लखनऊ की विशेष अदालत में फैसला सुनने के लिए मुझे पेश होना है। मैं कानून को वेद, अदालत को मंदिर एवं जज को भगवान का रूप मानती हूं। इसलिए अदालत का हर फैसला मेरे लिए भगवान का आशीर्वाद होगा। मुझे अयोध्या आंदोलन में भागीदारी पर गर्व है मैंने तो हमेशा कहा है कि अयोधिया के लिए तो फांसी भी मंजूर है। मैं नहीं जानती फैसला क्या होगा किंतु मैं अयोध्या पर जमानत नहीं लूंगी। जमानत लेने से आंदोलन में भागीदारी की गरिमा कलंकित होगी। ऐसे हालातों में आप मुझे नई टीम में रख पाते हैं कि नहीं इस पर विचार कर लीजिए। 

पत्र में आगे लिखा है कि यह गर्व, आनंद एवं आश्चर्यपूर्ण विसंगति का विषय है कि जिस अयोध्या मामले में 2017 में सीबीआई ने मेरे को साजिशकर्ता होने पर शक किया उसी का शिलान्यास प्रधानमंत्री ने 5 अगस्त 2020 को किया। माननीय अदालत इस पर जो फैसला देगी वह मेरे सर माथे होगा। मुझे आप 30 साल से जानते हैं, विचार-निष्ठा एवं परिश्रम ही मेरी राजनीति के आधार रहे। मैं राम मंदिर के लिए भी लड़ी और राम राज्य के लिए भी लड़ी। मैंने हिंदुत्व को सर्व समावेशी बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी इसलिए दलित, आदिवासी, सभी वर्गों के गरीब एवं विशेषकर पिछड़ा वर्ग भाजपा से जुड़ जाए एवं जुड़े रहें इसमें मैंने कोई कसर नहीं छोड़ी। पार्टी ने मुझे निकाल दिया था तब भी मैंने राष्ट्रवाद का अधिष्ठान एवं इन वर्गों की चिंता नहीं छोड़ी थी। राम, गंगा, तिरंगा तथा वंचित वर्ग इनके लिए मेरी जान हाजिर है। राम मंदिर बन गया किंतु रामराज्य बाकी है तथा मेरे सामने बहुत लंबी जिंदगी बाकी है जो कि मैं अब राम राज्य के लिए लगाऊंगी। सरकारी तौर पर गंगा की कार्य योजना का प्रारंभ 2016 में हो गया अभी परिणाम आते जा रहे हैं। गंगा की निर्मलता के लिए सामाजिक भागीदारी अभी शेष है। आने वाले कुछ महीने मैं फिर गंगा अभियान के लिए समर्पित करूंगी, बहुत जरूरत पड़ने पर दो-चार दिन के लिए चुनाव प्रचार में भाग ले सकती हूं। इसलिए मैं आपके विवेक पर छोड़ती हूं कि आप मुझे पदाधिकारियों की टीम में रख पाते हैं कि नहीं। मेरे लिए तो भगवान की कृपा एवं सर्वजन समाज का साथ ही मेरी शक्ति है। आप मेरे बारे में आंखें मूंद के फैसला ले सकते हैं मैं तो भाजपा की रिजर्व फोर्स हूं जरूरत पड़ने पर हमेशा काम आऊंगी। 

बता दें कि,  28 साल पुराने बाबरी विध्वंस मामले में लखनऊ में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट 30 सितंबर को फैसला सुनाने वाली है। इस मामले में उमा भारती के अलावा बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी समेत अन्य आरोपी हैं। बता दें कि, कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद ऋषिकेश स्थित AIIMS में इनका इलाज चल रहा है। उमा भारती ने सोमवार (28 सितंबर) को अपने ट्वीट में लिखा, 'मैं अभी-अभी एम्स ऋषिकेश में भर्ती हो गई हूं, इसके तीन कारण है- पहला केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन जी बहुत चिंता कर रहे हैं, दूसरा- मेरे को रात में बुखार बढ़ गया और तीसरा- मेरी एम्स में जांच-पड़ताल होने के बाद यदि मुझे सकारात्मक रिपोर्ट मिली तो मैं परसों लखनऊ की सीबीआई कोर्ट में पेश होना चाहती हूं।'

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X