1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. ऐप पर प्रतिबंध लगाना पर्याप्त नहीं, चीन को करारा जवाब देने की जरूरत है: ममता

ऐप पर प्रतिबंध लगाना पर्याप्त नहीं, चीन को करारा जवाब देने की जरूरत है: ममता

भारत ने देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिए खतरा बताते हुये सोमवार को चीन से जुड़े 59 ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया, जिसमें बेहद लोकप्रिय टिकटॉक और यूसी ब्राउजर शामिल हैं। 

Bhasha Bhasha
Published on: June 30, 2020 20:22 IST
mamata banerjee- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO ऐप पर प्रतिबंध लगाना पर्याप्त नहीं, चीन को करारा जवाब देने की जरूरत है: ममता

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि ऐप पर प्रतिबंध लगाना पर्याप्त नहीं होगा, बल्कि चीन को मुंहतोड़ जवाब देने की आवश्यकता है। तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ने हालांकि कहा कि इस मुद्दे पर निर्णय पूरी तरह से केंद्र सरकार को लेना है। उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘यह विषय विदेश मामलों के विभाग का है, हम केंद्र सरकार के रुख का समर्थन करेंगे लेकिन, हमें एक ओर जहां बहुत आक्रामक होना होगा और वहीं दूसरी तरफ, राजनयिक चैनल का भी उपयोग करना होगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘केवल कुछ ऐप पर प्रतिबंध लगाना उचित जवाब नहीं होगा, हमें चीन को मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए।’’

भारत ने देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिए खतरा बताते हुये सोमवार को चीन से जुड़े 59 ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया, जिसमें बेहद लोकप्रिय टिकटॉक और यूसी ब्राउजर शामिल हैं। यह प्रतिबंध लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास गतिरोध और गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ झड़प में 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होने के बाद लगाया गया है।

ममता बनर्जी ने यह भी कहा कि उनकी सरकार अगले साल जून तक लाभार्थियों को मुफ्त राशन देगी। उन्होंने कहा, ‘‘केंद्र की राशन नीति देश की 130 करोड़ आबादी में से प्रत्येक को राशन प्रदान करने की होनी चाहिए।’’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को ऐलान किया कि ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ का विस्तार नवम्बर महीने के आखिर तक कर दिया गया है। इससे 80 करोड़ लोगों को और पांच महीनों तक मुफ्त राशन मिलेगा।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X